गणेश चतुर्थी स्पेशलः बप्पा के मनपसंद मोदक खाने से शरीर को मिलते हैं ये 5 फायदे

Health Benefits of Modak: गणेश चतुर्थी पर्व मोदक के बिना अधूरा है। गणेश का पसंदीदा माना जाता है मोदक। यह मिठाई स्वाद और सेहत दोनों में ही कमाल है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Aug 31, 2022Updated at: Aug 31, 2022
गणेश चतुर्थी स्पेशलः बप्पा के मनपसंद मोदक खाने से शरीर को मिलते हैं ये 5 फायदे

पूरे देश में आज गणेश चतुर्थी का त्योहार बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। 10 दिनों तक चलने वाले इस त्योहार में लोग अपने घरों में बप्पा की मूर्ति की स्थापना करते हैं। गणेश की वंदना करते समय भक्त उन्हें मोदक का भोग जरूर लगाते हैं। पौराणिक शास्त्रों में कहा गया है कि भगवान गणेश को मोदक बहुत प्रिय हैं। गणेश की पूजा का प्रसाद में भी लोगों में मोदक का ही वितरण किया जाता है। मोदक न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होता है बल्कि सेहत के भी काफी (Modak Benefits)  फायदेमंद माना जाता है।

चावल का आटा, घी, नारियल, गुड, ड्राई फ्रूट्स से तैयार मोदक का सेवन करने से सेहत को काफी फायदा पहुंचता है। मोदक की खास बात ये है कि जो लोग वजन कम करना चाहते हैं वो भी अपने डाइट प्लान में मोदक (Modak for Weight Loss) को शामिल कर सकते हैं। सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने अपने एक इंस्टाग्राम पोस्ट मोदक खाने से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में बताया है। गणेश चतुर्थी के मौके पर आइए जानते हैं मोदक के स्वास्थ्य लाभ (Benefits of Modak in hindi) के बारे में...

ये भी पढ़ेंः वजन बढ़ाने के लिए रोज खाएं घी और गुड़, डायटीशियन से जानें इसके फायदे

Modak for Weight Loss

मोदक के सेहत लाभ - Health Benefits of Modak

कब्ज से दिलाता है छुटकारा

रुजुता दिवेकर के अनुसार मोदक को बनाने में घी का इस्तेमाल किया जाता है। घी कब्ज से राहत दिलाने और शरीर से विषाक्त पदार्थों (toxins) को बाहर निकालने में मदद करता है। दरअसल, घी आंतों की श्लेष्मा की परत को दोबारा बनाने का काम करता है, जिसकी वजह से कब्ज और पाचन संबंधी अन्य समस्याओं से राहत मिलती है।

ब्लड प्रेशर होता है कम

मोदक को बनाने में नारियल का इस्तेमाल किया जाता है।  नारियल में ट्राइग्लिसराइड्स पाया जाता है। ट्राइग्लिसराइड्स ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में काफी मददगार साबित होता है। 

ये भी पढ़ेंः क्या दिनभर गर्म पानी पीने से सच में वजन कम होता है? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखता है मोदक

रूजुता दिवेकर ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में बताया है कि मोदक को बनाने में नारियल के साथ सूखे मेवों का इस्तेमाल किया जाता है। सूखे मेवों में स्टेरोल प्लांट होते हैं, जो शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल स्तर को बढ़ाने में मदद करते हैं।

वजन घटाने में भी मददगार

पारंपरिक तौर पर मोदक को बनाने के लिए गुड़ का इस्तेमाल किया जाता है। मोदक में ग्लाइसेमिक इंडेक्स काफी कम मात्रा में पाया जाता है। साथ ही ये गुड फैट का भी अच्छा सोर्स है, इसलिए ये वजन घटाने में मदद करता है। रुजुता दिवेकर का कहना है वजन घटाने के दौरान जिन लोगों को मीठा खाने की क्रेविंग होती है, वो मोदक का सेवन कर सकते हैं।

थायरॉयड में है फायदेमंद

मोदक में एंटी-एजिंग मिश्रण होता है, जो थायरॉयड ग्रंथियों को हेल्दी रखता है। इसके अलावा मोदक का सेवन करने से डायबिटीज को भी कंट्रोल रखने में मदद मिलती है।

Disclaimer