तेज दिमाग के लिए बोलने से पहले बरतें सावधानी

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया और जॉन हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी द्वारा किये गये शोध के अनुसार ऊंचा बोलने से दिमाग की कार्यक्षमता कम होती है, इसलिए बोलने से पहले सावधानी बरतें।

Nachiketa Sharma
लेटेस्टWritten by: Nachiketa SharmaPublished at: Feb 27, 2015
तेज दिमाग के लिए बोलने से पहले बरतें सावधानी

हम जो भी बोलते हैं उसका सीधा असर हमारे मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर पड़ता है, इसलिए कुछ बोलने से पहले थोड़ी सावधानी बरतना बहुत जरूरी है। इससे दिमाग तेज होगा।  

Caution Before Speak in Hindहाल ही में हुए एक शोध की मानें तो, अगर हम तेज बोलते हैं, तो स्पीच को नियंत्रित करने वाला हमारे दिमाग का हिस्सा काम करना बंद कर देता है। दिमाग के इस हिस्से को फ्रेंच फिजिशियन पियरे पॉल ब्रोका के नाम पर ‘ब्रोकास एरिया’ कहा जाता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया और जॉन हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के संयुक्‍त तत्‍वावधान में किये गये शोध में यह बात सामने आयी। वैज्ञानिकों ने पता लगाया है जब भी हम ऊंचा बोलते हैं, हमारा ब्रोकास एरिया एक तरह से स्विच ऑफ यानी बंद हो जाता है।

इस अध्ययन के दौरान न्यूरो साइंटिस्ट ने दिमाग के लैंग्वेज सेंटर को मुख्य रूप से बातचीत ग्रहण करने और प्रस्तुत करने वाले दो हिस्सों में बांट दिया था।
इस आधार पर वैज्ञानिकों का कहना है कि ब्रोकास सेंटर स्पीच प्रोडक्‍शन का केंद्र न होकर दिमाग के विभिन्न हिस्सों में सूचनाओं के संयोजन का कार्य करता है।

इस खोज से स्ट्रोक, एपिलेप्सी और ब्रेन इन्जरी जैसी परेशानियों से निजात पाने में मदद मिल सकती है।

 

Image Source - Getty

Read More Health News in Hindi

Disclaimer