ऑनलाइन देखकर घर में ट्राई न करें ये एक्सरसाइज, चोट लगने के अलावा हो सकती हैं कई और परेशानियां

फिटनेस के लिए एक जनून बनाए रखना अच्छा है, लेकिन इसे ऑनलाइन देखकर बिना किसी ट्रेनर की मदद लिए बिना करना जोखिम भरा हो सकता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jun 15, 2020
ऑनलाइन देखकर घर में ट्राई न करें ये एक्सरसाइज, चोट लगने के अलावा हो सकती हैं कई और परेशानियां

कोनोवायरस के कारण जब लोग घर के बाहर नहीं जा पा रहे हैं, तो ऐसे में वर्कआउट के लिए जिम नहीं जा पाना फिट रहने वालों के लिए एक चुनौती ही है। वहीं इस दौरान बहुत से लोगों ने घर पर रह कर तमाम तरीकों के वर्कआउट और एक्सरसाइज को ऑनलाइन माध्यम से सीखा है। पर कुछ एक्सरसाइज ऐसे भी हैं, जिनके लिए आपको ट्रेनर की ही जरूरत होती है और आपको उसे घर में खुद से ट्राई नहीं (Home Workout Mistakes) करना चाहिए। इन्हीं एक्सरसाइज में से एक है डैडलिफ्ट। डैडलिफ्ट वैसे तो एक शानदार बॉडी वर्कआउट है, पर आपको इसे ऑनलाइन देख कर घर में ट्राई करने से बचना चाहिए। नहीं तो आपको इससे चोट के साथ मांसपेशियों में सूजन और मोच आदि तक का सामना करना पड़ सकता है।

exercise

डेडलिफ्ट का अभ्यास ऑनलाइन करने की कोशिश न करें

कई अध्ययनों और फिटनेस विशेषज्ञों का मानना है कि डेडलिफ्ट्स अगर सही किया जाए, तो आपके कोर क्षेत्र को टोन कर सकता है, अपने पैरों के साथ अपनी पीठ के निचले हिस्से को मजबूत कर सकता है। साथ ही ये आपके बट की टोनिंग में भी मदद कर सकता है। लेकिन वे यह भी मानते हैं कि ये सबसे उच्च जोखिम वाले अभ्यासों में से एक है। यूट्यूब देखकर भारी भरकम बारबेल के साथ एक्सरसाइज करना चोट लगने के जोखिम को बहुत बढ़ा सकता है। इसे करते वक्त आपकी एक भी लापरवाही पीठ में चोट लगने और गंभीर मोच आने का कारण बन सकता है।

इसे भी पढ़ें: रुजुता दिवेकर से जानें दो मिनट में इंटेंस वर्कआउट करने का तरीका, पीठ और मांसपेशियों के लिए है फायदेमंद

डेडलिफ्ट में फिसलने का डर होता है

कभी भी मजे में वार्म-अप अभ्यास के लिए डेडलिफ्ट करने की कोशिश न करें, क्योंकि अचानक से वजन उठाना आपको एक गंभीर कमर का दर्द दे सकता है। वहीं आपको वार्म-अप में कार्डियो करने से भी बचना चाहिए क्योंकि ये मांसपेशियों को नुकसान पहुंचा सकता है। इनकी जगह आपको वर्कआउट के लिए अपने शरीर को तैयार करने के लिए प्री-वर्कआउट स्ट्रेचिंग करना चाहिए। डेडलिफ्ट में फिसलने से पहले पूरी तरह से बॉडी स्ट्रेचिंग के साथ एक छोटा सा स्प्रिंट आपके शरीर को गर्म कर सकता है और एक चोट के जोखिम को कम करते हुए गति की सीमा को बढ़ाने में मदद करता है। वहीं अगर आप ये सब नहीं कर रहे हैं और बस मसल्स बनाने के लिए सीधे डेडलिफ्ट कर रहे हैं, तो आप इसे करते हुए फिसल भी सकते हैं और आपको गंभीर चोट आ सकती है।

डेडलिफ्ट करते समय अपने घर वालों के साथ डिस्कनेक्ट रहें

डेडलिफ्ट का अभ्यास बहुत आसान नहीं होता है। इसे सही तरीके से करने के लिए बहुत सटीक, तकनीकी तौर पर सही और एकाग्रता की आवश्यकता होती है। इस दौरान आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप अपने घर वालों से दूर होकर ध्यान से ये एक्सरसाइज करें। नहीं को थोड़े से ध्यान की कमी के कारण आपको भारी मुश्किल स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। चोट लगने से लेकर शरीर में ऐंठन महसूस करने तक ये सारी परेशानियां हमें गलत तरीके से डेडलिफ्ट करने के कारण हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: कार्डियो एक्सरसाइज करते हैं तो इन संकेतो के दिखने पर हो जाएं सावधान, ज्यादा कार्डियो करने के भी हैं कई नुकसान

deadlift exercise

शरीर की सुनिए और डेडलिफ्ट की जगह घर रहते हुए कोई और एक्सरसाइज करें

एक्सरसाइज के लिए एक जुनून रखना अच्छा है, पर अपने शरीर को सुनने भी बहुत महत्वपूर्ण है। डेडलिफ्ट करते समय अपने फिटनेस प्रशिक्षक को सुनें और अगर आप ऑनलाइन ये नहीं कर पा रहे हैं, तो इसे घर रह कर न करें। साथ ही जरूरत से ज्यादा डेडलिफ्ट करने की कोशिश न करें। इसके कुछ ही सेट्स करें पर आराम से करें। 2014 में किए गए एक अध्ययन के अनुसार, डेडलिफ्ट सेट के बीच पर्याप्त आराम लेना मांसपेशियों की रिकवरी और चोट की रोकथाम के लिए महत्वपूर्ण है। इसलिए, जिम में वर्कआउट न कर पाना निराश करने वाला हो सकता है लेकिन यह जरूरी है कि आप अपने आप को बहुत मुश्किल में न डालें और वर्कआउट करें।

Read More Articles 0n Exercise And Fitness In Hindi

Disclaimer