Expert

क्या शाम को योग करना चाहिए? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और सावधानियां

शरीर को फिट रखने के लिए योग करने की सलाह दी जाती है। हालांकि ज्यादातर लोगों का मानना है कि योग सुबह करने पर ही फायदा देता है। यह धारणा बिल्कुल गलत है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jun 02, 2022Updated at: Jun 23, 2022
क्या शाम को योग करना चाहिए? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और सावधानियां

जब बात आती है शरीर को फिट और हेल्दी रखने की तो एक्सपर्ट सुबह जल्दी उठने, एक्सरसाइज, योग या रनिंग करने की सलाह देते हैं। ऐसा माना जाता है कि सुबह के समय में अगर कोई भी फिजिकल एक्टिविटी की जाए तो यह हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है। लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं है कि आप शाम के समय योग या एक्सरसाइज नहीं कर सकते हैं। खासकर योग को लेकर ज्यादातर लोगों के मन में एक ही भ्रांति है कि इसे सुबह करने से ही लाभ मिलता है। शाम को योग करने से शरीर और दिमाग को लाभ नहीं मिलता है।

इस महीने हम अपने Campaign ‘focus of the month’ - Yoga Special Month में योग से जुड़ी जरूरी जानकारियां और टिप्स आपके साथ शेयर कर रहे हैं। आज के इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि शाम को योग करने से शरीर को किस तरह से लाभ मिलता है। शाम को योग करने से शरीर को किस तरह से फायदे मिलते हैं इसके लिए हमने दिल्ली-एनसीआर में प्रैक्टिस कर रहे योग गुरु दीपक तंवर से बातचीत की।  

शाम को योग करने के फायदे

  • योग गुरु दीपक तंवर के मुताबिक शाम के वक्त योग करने से दिमाग शांत होता है। साथ ही यह दिनभर की थकान को मिटाने में सहायक साबित होता है।
  • शाम के वक्त योग करने से आपको रात में नींद अच्छी आती है। जिन लोगों को अनिद्रा की समस्या होती है, उन्हें योग गुरु शाम के वक्त योग करने की सलाह देते हैं।
  • अगर आप शाम को योग कर रहे हैं तो यह शरीर को डिटॉक्स करने में मददगार साबित होता है। 
  • दिनभर आप किसी बात से परेशान हैं और आपका मन नेगेटिव महसूस कर रहा है तो शाम के वक्त योग करने से आपके शरीर को पॉजिटिव एनर्जी मिलती है। इससे गुस्से पर कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है.
  • इवनिंग योगा आपके हॉर्मोनल इंबैलंस को संतुलित करने में मदद करता है। इससे स्ट्रेस, इमोशन पर काबू पाने में मदद मिल सकती है।

इसे भी पढ़ेंः रोजाना योग करने से शरीर, मन और मस्तिष्क को मिलते हैं ये 6 फायदे

शाम को कौन से योगासन कर सकते हैं? (Yoga asanas for evening)

अगर आप शाम के समय योग कर रहे हैं तो दो योगासन कर सकते हैं। पश्चिमोत्तानासन और उत्तानासन योग ये दो ऐसे आसन हैं, जो रीढ़ की हड्डी (स्पाइन) से प्रेशर को कम करते हैं। 

Evening yoga

पश्चिमोत्तानासन

योग के इस आसन में शरीर पूरी तरह से खींच जाता है। जो लोग दिनभर एक ही जगह पर 9 से 10 घंटे बैठकर काम करते हैं उन्हें शरीर को रिलैक्स करवाने के लिए यह योगासन बेस्ट माना जाता है। पश्चिमोत्तानासन करने से शुगर, हाई ब्लडर प्रेशर को कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।

पश्चिमोत्तानासन कैसे करें?

  • पश्चिमोत्तानासन करने के लिए जमीन पर बैठकर पैरों को फैलाते हुए अपनी हाथों को ऊपर उठाएं।
  • अब शरीर को आगे झुकाने की कोशिश करें, जहां तक संभव हो शरीर को पैरों की ओर झुकाने की कोशिश करें।
  • शरीर को पैरों की ओर झुकाते समय सांस छोड़ें।
  • शुरुआत से 5 से 10 सेकेंड इसी मुद्रा में रहें। फिर नॉर्मल पोजिशन में आ जाएं। 
  • इसे आप 10 से 15 बार दोहरा सकते हैं।

Evening yoga

उत्तानासन

उत्तानासन करते समय सिर, हार्ट के नीचे होता है। इस कारण ब्लड सर्कुलेशन पैरों में होने की बजाय सिर की तरफ होने लगता है। इससे दिमाग को आराम मिलता है। जो लोग ज्यादा समय परेशान रहते हैं उन्हें उत्तानासन करने की सलाह दी जाती है।

शाम को योग करने से पहले महज 5 मिनट श्वासन जरूर करें। श्वासन जरूर करने से शरीर और दिमाग में योग के लिए तैयार होने का एक संकेत जाता है, जिससे आपको परेशानी नहीं होती है।

उत्तानासन कैसे करें?

  • किसी भी समतल जगह पर खड़े हो जाएं। उत्तानासन करते वक्त ध्यान रहे की दोनों पैरों के बीच में एक फीट की दूरी हो। 
  • अब पैरों को सीधा रखते हुए गहरी सांस लें और हाथों को पैरों की तरफ लेकर जाएं।
  • हाथों को पैरों की तरफ लाते हुए आपको ध्यान रखना है कि आपके घुटने मुड़े हुए न हों।
  • इस पोजिशन को करते हुए अब हाथों से पैरों के अंगूठे को छूने की कोशिश करें।
  • थोड़ी देर इस अवस्था में रहने के बाद वापस सीधे खड़े हो जाएं।
  • आप चाहें तो उत्तानासन के इस सर्कल को 4 से 5 बार दोहरा सकते हैं। 
Evening yoga

शाम को योग करने में क्या है चुनौती? 

- दरअसल, शाम को योग करना एक चैलेंज है। दिनभर ऑफिस की डेडलाइन, घर के काम करने के बाद आपका शरीर और दिमाग काफी थक चुका होता है। ऐसे में शाम को योग करने के लिए आपको अपने शरीर को मजबूर करना पड़ता है। शाम के वक्त दिमाग को कंसंट्रेट करने में परेशानी हो सकती है। एक्सपर्ट का कहना है कि अगर आप शाम को योगा कर रहे हैं तो शुरुआत के कुछ दिन आपको परेशानी हो सकती है, लेकिन एक वक्त के बाद आपको इसकी आदत हो जाएगी।

इसे भी पढ़ेंः रोज पश्चिम नमस्कार आसन करने से मिलेंगे कई फायदे, जानें करने का तरीका

- एक्सपर्ट के मुताबिक शाम को योग करते समय कई बार आसपास के माहौल से भी परेशानी हो सकती है। सुबह आपको बिल्कुल शांत वातावरण मिलता है, लेकिन शाम के वक्त कोई एकांत जगह जहां पर बैठकर योग किया जा सके मिलना मुश्किल होता है।

शाम को योग करते वक्त ध्यान दें कि आपका पेट खाली हो।  शाम के वक्त हैवी स्नैक्स खाने के बाद कभी भी योग ना करें, ऐसा करने से शरीर को नुकसान पहुंच सकता है।

 (All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer