Doctor Verified

गाइनेकोमैस्टिया: बढ़े हुए चेस्ट साइज से हैं परेशान? डॉक्टर से जानें यह मेल ब्रेस्ट है या फैट

Gynecomastia and Chest Fat in Hindi: कई पुरुषों में ब्रेस्ट साइज बढ़ने या मेल बूब्स की समस्या होती है, डॉक्टर से जानें यह क्यों होता है और बचने के उपाय

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 10, 2022Updated at: Jun 13, 2022
गाइनेकोमैस्टिया: बढ़े हुए चेस्ट साइज से हैं परेशान? डॉक्टर से जानें यह मेल ब्रेस्ट है या फैट

आज के समय में लाइफस्टाइल से जुड़े बदलाव और खराब डाइट के कारण पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव आम बात हो गयी है। कुछ पुरुषों में स्तनों का आकार बढ़ जाने का कारण खराब तरीके से एक्सरसाइज या जिम करना भी होता है। पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव तब होता है जब ब्रेस्ट टिश्यूज का साइज बदल जाता है। पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव होने के दो प्रमुख कारण माने जाते हैं, पहला ब्रेस्ट पर फैट बढ़ जाना और दूसरा कारण जिसे मेडिकल साइंस की भाषा में गाइनेकोमैस्टिया (Gynecomastia in Hindi) कहते हैं। शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन बढ़ने पर ब्रेस्ट के टिश्यू प्रतिक्रिया करते हैं जिसकी वजह से पुरुषों के स्तन बनने शुरू होते हैं। लेकिन पुरुषों को यह समझना बहुत जरूरी है कि हर व्यक्ति में जरूरी नहीं है कि ब्रेस्ट साइज में बदलाव या स्तन बनना गाइनेकोमैस्टिया के कारण हो। यह समस्या चेस्ट पर फैट के इकठ्ठा होने की वजह से भी हो सकती है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि पुरुष इस स्थिति में यह कैसे पहचानें कि उनके ब्रेस्ट साइज में बदलाव गाइनेकोमैस्टिया के कारण हो रहा है या चेह्स्त पर एक्स्ट्रा फैट के इकठ्ठा होने के कारण। आइये इस आर्टिकल के माध्यम से जानते हैं कि पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव गाइनेकोमैस्टिया के कारण हो रहा है या चेस्ट पर फैट बढ़ने के कारण।

गाइनेकोमास्टिया क्या है  (What is Gynecomastia)

शरीर में हार्मोनल बदलाव के कारण पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव होने की समस्या को गाइनेकोमास्टिया कहा जाता है। शरीर में टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन के स्तर में असंतुलन के कारण यह समस्या हो सकती है। गाइनेकोमास्टिया को मेल ब्रेस्ट या मैन बूब्स के नाम से भी जाना जाता है।

गाइनेकोमास्टिया और चेस्ट फैट के बीच अंतर (Difference Between Gynecomastia and Chest Fat)

टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजन में असंतुलन होने की वजह से पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव आम है लेकिन यह समस्या चेस्ट पर फैट बढ़ने के कारण भी हो सकती है। कई बार गलत तरीके से एक्सरसाइज करने, खराब डाइट का सेवन करने और स्टेरॉयड आदि का इस्तेमाल करने से यह समस्या होने लगती है। गाइनेकोमैस्टिया एक मेडिकल कंडीशन है जिसमें सर्जरी की आवश्यकता होती है लेकिन सभी मामलों में यह जरूरी नहीं कि ब्रेस्ट साइज में बदलाव या पुरुषों में स्तन बढ़ना इसकी वजह से ही हो। इंस्टाग्राम पर समय-समय पर लोगों को सेहत के प्रति जागरूक करने और बीमारियों या समस्याओं के प्रति जागरूक करते रहने वाले डॉ सिद्धांत भार्गव के मुताबिक पुरुषों के ब्रेस्ट साइज में बदलाव या स्तनों का आकार बढ़ जाना हर मामले में गाइनेकोमैस्टिया नहीं होता है। डॉ भार्गव के मुताबिक आप गाइनेकोमैस्टिया और चेस्ट पर एक्स्ट्रा फैट जमने के बीच के अंतर को इस तरह से समझ सकते हैं।

Difference Between Gynecomastia and Chest Fat

इसे भी पढ़ें: पुरुषाें के सीने में ये 5 बदलाव हाे सकते हैं ब्रेस्ट कैंसर के संकेत, न करें नजरअंदाज

1. सबसे पहले मिरर के सामने खड़े हो जाएं और अपने चेस्ट को टच करके देखें, अगर यह फ्लैट है या थुलथुला है तो इसका मतलब यह है कि यह समस्या एक्स्ट्रा फैट के कारण हो रही है।

2. इसके अलावा आप अपने ब्रेस्ट के निप्पल को हल्के से पकड़ें और अगर इसमें आपको किसी तरह की गांठ या असामान्यता नजर आती है तो यह गाइनेकोमैस्टिया के कारण हो सकता है।

3. इसके अलावा अगर आपके ब्रेस्ट या चेस्ट को छूने पर यह कठोर लगता है तो यह भी गाइनेकोमैस्टिया का लक्षण हो सकता है।

4. गाइनेकोमास्टिया या मैन बूब्स का एक और लक्षण है फूला हुआ और सीधा निप्पल अगर आपके निप्पल एकदम सीधे और फूले हुए हैं तो यह गाइनेकोमास्टिया का लक्षण हो सकता है।

मेल बूब्स से बचने के टिप्स (How To Reduce Man Boobs in Hindi)

मेल बूब्स को कम करने के सबसे पहले आपको यह समझना सबसे जरूरी है कि यह समस्या चेस्ट पर एक्स्ट्रा फैट जमने के कारण हुई है या गाइनेकोमास्टिया के कारण हुई है। अगर यह समस्या गाइनेकोमास्टिया के कारण है तो इसके लिए आपको सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और डॉक्टर की सलाह के आधार पर इलाज और डाइट का पालन करना चाहिए। इसके अलावा मेल बूब्स की समस्या से बचने के लिए आपको इन बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

  • अगर आपको भी मेल बूब्स की समस्या है तो सबसे पहले डाइट में मीट का सेवन कम करें।
  • वजन कम करने के कोशिश करें और बॉडी फैट को कम करने की कोशिश करें।
  • डाइट में हाई फाइबर की प्रचुर मात्रा वाले फूड्स को शामिल करें।
  • रेगुलर एक्सरसाइज करें और पर्याप्त मात्रा में पानी जरूर पिएं।

इसे भी पढ़ें: पुरुष बूब्स से छुटकारा पाने के आसान टिप्स!

इन बातों का ध्यान रखकर आप मेल बूब्स या स्तनों का आकार बढ़ने की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको लग रहा है कि यह समस्या गाइनेकोमास्टिया के कारण हो रही है तो सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लें।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer