डायबिटीज रोगियों में ये 6 लक्षण हो सकते हैं शरीर में पानी की कमी का संकेत, नजरअंदाज न करें

डायबिटीज में पानी की कमी हो जाना कई बार गंभीर परेशानियां भी पैदा करती हैं। इसलिए इसके बारे में विस्तार से जानना बेहद जरूरी है। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: May 27, 2021Updated at: May 27, 2021
डायबिटीज रोगियों में ये 6 लक्षण हो सकते हैं शरीर में पानी की कमी का संकेत, नजरअंदाज न करें

डायबिटीज के मरीज अक्सर इस बात की शिकायत करते हैं कि उन्हें बार-बार प्यास लगती है। दरअसल, डायबिटीज के मरीज में जब अतिरिक्त ग्लूकोज बनता है, तो आपकी किडनी अतिरिक्त ग्लूकोज को छानने और अवशोषित करने के लिए ओवरटाइम काम करने के लिए मजबूर होती है। तब आपकी किडनी अतिरिक्त ग्लूकोज को आपके मूत्र में उत्सर्जित करती है, जो आपके टिशूज से तरल पदार्थ को भी खींच लेती है और इसके चलते आपको ज्यादा प्यास लगने लगती है। पर डायबिटीज में ज्यादा प्यास लगना इस बात का संकेत है कि आप आपके शरीर में शुगर की मात्रा ज्यादा हो गई है और आपको डायबिटीज को संतुलित करने की जरूरत है। पर डायबिटीज में डिहाईड्रेशन (Diabetes and Dehydration) क्यों होता है? इस बारे में  हमने  डॉ. रवि शेखर झा (Dr Ravi Shekhar Jha), एचओडी और सीनियर कंसल्टेंट-पल्मोनोलॉजी, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, फरीदाबाद से बात की, जिन्होंने इस स्थिति के बारे में विस्तार से बताया। 

Inside2sugar

डायबिटीज में डिहाईड्रेशन क्यों होता - Causes of Dehydration in diabetes

वास्तव में, प्यास और ड्राई माउथ डिहाईड्रेशन के लक्षण हैं, जो अक्सर डायबिटीज के पहले संकेत होते हैं। दरअसल डिहाइड्रेशन आपके शुगर लेवर पर निर्भर करता है और आपके डायबिटीज मेनेजमेंट पर भी। दरअसल डायबिटीज तब होता है, जब आपका शरीर पर्याप्त मात्रा में शुगर पचा नहीं पाता और इंसुलिन रिलीज नहीं कर पाता। कई बार आपका शरीर ठीक से इंसुलिन का उपयोग नहीं करता है, तो आपके खून में चीनी जमा हो सकती है। जब आपका ब्लड शुगर लंबे समय तक बढ़ा रहता है , तो आपके गुर्दे को अतिरिक्त ग्लूकोज को छानने और निकालने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं और आपको बार-बार पेशाब लगता है और शरीर का पानी कम होने लगता है। ये स्थिति डिहाईड्रेशन में तब बदल जाती है, जब आपका शरीर में खोए हुए तरह पदार्थ को वापसी नहीं हो पाती है।  इस तरह मधुमेह वाले लोगों में निर्जलीकरण का खतरा तब और बढ़ जाता है, जब ब्लड ग्लूकोज लेवल ज्यादा हो। इसके अलावा निम्नलिखित कारक डिहाईड्रेशन और बढ़ा सकते हैं। एक समय में इन कारकों के अधिक होने से निर्जलीकरण का खतरा और बढ़ सकता है। जैसे कि

  • -पहले से कम पानी पीने की आदत
  • -अपर्याप्त तरल पदार्थ का सेवन
  • -खराब डाइट
  • -गर्म मौसम
  • -ब्लड शुगर का बढ़ा होना
  • -ज्यादा शराब पीने से
  • -दस्त
  • -उल्टी

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज मरीजों के लिए कोरोना की वैक्सीन कितनी कारगर है? शुगर रोगी हैं तो इन बातों का रखें विशेष ख्याल

डायबिटीज में डिहाईड्रेशन के लक्षण- Symptoms of Dehydration in diabetes

1. अत्यधिक प्यास लगना और पेशाब होना

जैसे कि हम शुरुआत से ही बात कर रहे हैं, कि शरीर में शुगर का बढ़ जाना डिहाईड्रेशन को बढ़ावा देता है। तो, शुगर के बढ़ जाने से लोगों में पेशाब आना बढ़ जाता है। कई बार पेशाब करने से शरीर में पानी की कमी होने लगती है और इसी पूर्ति न हो पाने से अंत में पानी की कमी हो जाती है। इसलिए अत्यधिक प्यास लगना और पेशाब होना दोनों ही डायबिटीज में डिहाईड्रेशन के गंभीर और बड़े लक्षण हैं। 

2. थकान

डायबिटीज आपको थका हुआ महसूस करवा सकती है। हाई शुगर लेवल आपके शरीर की ऊर्जा जरूरतों के लिए ग्लूकोज का उपयोग करने की क्षमता को बाधित करता है। इसके अलावा बार-बार पेशाब और लगातार प्यास लगना भी आपको थका हुआ महसूस करवा सकता है। 

3. हाथ-पैर में मरोड़

आपके शरीर में बहुत अधिक ग्लूकोज का होना आपके तंत्रिकाओं के कार्य को प्रभावित कर सकता है। इसके चलते आप अपने हाथों और पैरों में झुनझुनी और सुन्नता महसूस कर सकते हैं। ऐसे में आप हमेशा अपनी बाहों, हाथों, पैरों और तलवों में जलन को नोटिस कर सकते हैं।

4. मसूड़ों में सूजन और खून

डायबिटीज कीटाणुओं से लड़ने की आपकी क्षमता को कमजोर कर सकता है, जिससे आपके मसूड़ों में संक्रमण होता है और ये जबड़ों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। आपके मसूड़े आपके दांतों से दूर हो सकते हैं, आपके दांत ढीले हो सकते हैं या आपके मसूड़ों में घाव या मवाद का विकास हो सकता है। पर जब आपका शुगर बढ़ा होगा और शरीर में पानी की कमी होगी, ये परेशानी उभर कर सामने आ जाएगी। 

Inside1dehydrationpreventiontips

5. वजन घटना या बढ़ना

जब आप लगातार पेशाब के माध्यम से ग्लूकोज खो देते हैं, तो आप कैलोरी भी खो देते हैं, जिससे आपका वजन भी घट सकता है। इससे अलावा कई बार मधुमेह आपके भोजन से ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं तक पहुंचने से रोक सकता है, जिससे लगातार भूख लगती है। इससे आप बार-बार खाना खा सकते हैं, जिससे आपका वजन भी बढ़ सकता है। 

6. आंख से कम दिखना

डायबिटीज आपके शरीर के साथ आपकी आंखों को भी नुकसान पहुंचाती है। दरअसल, हाई ब्लड शुगर आपकी आंखों के लेंस सहित आपके ऊतकों से तरल पदार्थ खींचता है। इससे आपकी ध्यान केंद्रित करने की क्षमता प्रभावित होती है। साथ ही कई बार इसके चलते आपको आंख से कम दिखता है। अगर इसका इलाज न करवाया जाए, तो ये आपकी रेटिना में नई रक्त वाहिकाओं के निर्माण का कारण बन सकता है। आपकी आंख के पिछले भाग और ब्लड वेसेल्स को नुकसान हो सकता है। अधिकांश लोगों के लिए, ये शुरुआती परिवर्तन दृष्टि समस्याओं का कारण नहीं बनते हैं। हालांकि, अगर ये स्थिति लगातार बनी रहती है, तो आपको आगे चल कर और परेशानी हो सकती है। 

इसके अलावा आपको डिहाईड्रेशन के अन्य लक्षण के रूप में लो ब्लड प्रेशर, कमजोरी, तेज दिल की धड़कन और सुस्ती आदि महसूस हो सकती है। इन तमाम लक्षणों को नजरअंदाज न करें और समय रहते ही इसका इलाज करवाएं।

इसे भी पढ़ें : कोरोनाकाल में डायबिटीज के मरीज क्या खाएं? डॉक्टर से जानें बचाव और डाइट चार्ट

डिहाईड्रेशन से बचाव के उपाय -How do diabetics prevent dehydration

आपके ब्लड शुगर को एक सामान्य सीमा में रखने के लिए जरूरी है कि आप अपने शरीर में तरह पदार्थ को संतुलित करें। इसके लिए

  • -सबसे पहले तो अपना ब्लड शुगर संतुलित रखें और इसके लिए दवाओं, सही डाइट और एक्सरसाइज की मदद लें।
  • -खूब पानी पिएं। पीने का पानी न केवल निर्जलीकरण से लड़ता है, यह आपके शरीर को अतिरिक्त ग्लूकोज से छुटकारा पाने में भी मदद कर सकता है।
  • -पानी से भरपूर फल औक सब्जियों का सेवन करें।
  • -नींबू और संतरा के रस का सेवन करें। 
  • -चाय और कॉफी का सेवन कम करें।
  • - हर्बल टी, लॉ फैट दूध और शुगर फ्री ड्रिंक्स पीकर भी हाइड्रेटेड रह सकते हैं।

इसके अलावा ध्यान रखें कि एनर्जी ड्रिंक्स, फलों के रस और सोडा आदि पीने से बचें। इन पेय पदार्थों में बहुत अधिक चीनी होती है और यह आपके ब्लड शुगर को और बढ़ा सकती है। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि जैसे कि आपके शरीर में ऐसे कोई भी लक्षण नजर आए, आप उनको नजरअंदाज न करें और समय रहते अपने डॉक्टर की मदद लें और इसका उपचार करवाएं। नहीं तो, आगे चल कर ये किडनी फेल्योर और अन्य बीमारियों का कारण भी बन सकता है। तो, अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल करें और डायबिटीज में डिहाईड्रेशन से बचें। 

Read more articles on Diabetes in Hindi

Disclaimer