इन 7 तरीकों से शरीर को नुकसान पहुंचाता है हाई ब्लड शुगर, जानें किस अंग को कैसे करता है प्रभावित

आज कल की खराब लाइफ स्टाइल वाली जिंदगी में जरूरी है कि हम अपने ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखें, ताकि शरीर को इसका कोई नुकसान न हो। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 20, 2021Updated at: Apr 20, 2021
इन 7 तरीकों से शरीर को नुकसान पहुंचाता है हाई ब्लड शुगर, जानें किस अंग को कैसे करता है प्रभावित

शरीर में होने वाली हर एक गतिविधि का शरीर के हर अंग पर असर होता है। ऐसा ही असर तब भी होता है, जब आपके शरीर में शुगर की मात्रा ज्यादा हो जाती है। जी हां, ज्यादातर लोगों को लगता है शरीर में शुगर की मात्रा ज्यादा हो जाने से आपको सिर्फ डायबिटीज या दिल की बीमारी होगी, पर ऐसा नहीं है। शुगर की मात्रा का शरीर में ज्यादा होना आपके कई अंगों को प्रभावित करता है। ये जहां, ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित करता है, वहीं ये आपके पाचन तंत्र और रोज के काम-काम को करने में भी परेशानी डालता है। इसी तरह इसके कई और प्रभाव भी हैं। तो, शरीर को हाई ब्लड प्रेशर के कारण होने वाले इन्हीं असर के बारे में हमने  लखनऊ के उद्यान हेल्थ केयर में कार्यरत डॉ. राजीव सरदाना से भी बात की, जिन्होंने हमें इसके बारे में विस्तार से बताया। पर आइए सबसे पहले जान लेते हैं, कि हमारे शरीर में एवरेज ब्लड शुगर लेवल कितना होना चाहिए। 

Inside2highbloodsugar

एवरेज ब्लड शुगर लेवल क्या है  (Average Blood Sugar Level)?

एवरेज ब्लड शुगर लेवल को जानने के लिए डॉक्टर या आप खुद भी अपना ग्लूकोज लेवल चेक कर सकते हैं। ब्लड ग्लूकोज लेवल को चेक करने का दो तरीका है, पहले तो इसे आप सुबह खाली पेट करें क्योंकि तब आप लगभग 8 घंटे के कुछ खाए-पिए नहीं होते हैं, जिससे आप फास्टिंग ब्लड शुगर (Fasting Blood Sugar)कहते हैं। दूसरा है, खाने के 2 घंटे बाद ब्लड शुगर लेवल (Random Sugar level) को चेक करना।  फास्टिंग ब्लड ग्लूकोज (Fasting Blood Glucose) का लेवल 100 mg/dl के नीचे होना चाहिए और रैंडम ग्लूकोज लेवल (Random Glucose level) 140 mg/dl के नीचे होना चाहिए। अगर आपका ब्लड ग्लूकोज इससे ऊपर जाता है, तो वो हाई ब्लड शुगर लेवल है (High Blood Sugar), जिसे डायबिटीज (Diabetes) कहते हैं। अगर किसी को लगातार हाई ब्लड ग्लूकोज रहता है तो, उसका यही संकेत है कि उसे बाकी लोगों की तुलना में ज्यादा प्सास लगेगी या फिर ज्यादा पेशाब आएगी। 

किस अंग को कैसे प्रभावित करता है हाई ब्लड शुगर -Effects Of High Blood Sugar

1. सर्कुलेटरी सिस्टम को (Circulatory System)

हाई ब्लड शुगर शरीर को अलग-अलग तरीके से प्रभावित करती है। अगर बात सर्कुलेटरी सिस्टम पर हाई ब्लड शुगर (Effects of high sugar on circulatory system) के असर की करें, तो ये हमारे ब्लड वेसेल्स यानी कि खून को लाने और जाने वाली नलियों की लोच (elasticity)को कम कर सकता है। इसके अलावा ये लुमेन (Lumen)को पतला कर देता है, जो कि खून के सर्कुलेशन को कम कर देता है और दिल से ऑक्सीजन युक्त ब्लड की सप्लाई को रोकता है। इसके अलावा ब्लड वेसेल्स की लोचता के कम होने से ये ब्लड प्रेशर (High bp) को बढ़ाता है, जो कि दिल की बीमारियों के खतरे को भी बढ़ावा देता है।

2. नर्वस सिस्टम पर (Nervous System)

 नर्वस सिस्टम पर हाई ब्लड शुगर के असर (Effects of high sugar on Nervous System) की बात करें, तो हाई ब्लड शुगर आपके दिल के साथ आपके दिमाग पर भी असर डालता है। वो ऐसे कि ये आपके नर्व्स को डैमेज (Nerves Damage) कर देता है। साथ ही ये पेरिफेरल न्यूरोपेथी  (Peripheral Neuropathy)के खतरे को भी बढ़ाता है, जो कि आपके पैर, हाथ, बाहों और उंगलियों में दर्द और सुन्न होने (Numbness) को बढ़ाता है। इसलिए आपने देखा होगा कि जिन लोगों को डायबिटीज होता है, उनके पैरों में लगातार दर्द और शरीर के अंगों में जल्दी सुन हो जाने की शिकायत करते हैं।

3. आंखों को (Eyes)

हाई ब्लड शुगर आपकी देखने की क्षमता को भी प्रभावित करता है। इसके चलते आपके आंखों की रोशनी कमजोर हो सकती है और कई बार जा भी सकती है। कई बार हाई शुगर वाले लोगों को समय के साथ अपने आप ही धुंधला नजर आने लगता है। दरअसल, जब ब्लड शुगर का स्तर लंबे समय तक उच्च होता है, तो शरीर का पानी लेंस में खींच लिया जाता है, जिससे सूजन हो जाती है। सूजन पूरी तरह से दूर हो जाए इसके लिए ब्लड शुगर लेवल सामान्य के करीब पहुंचने में लगभग छह सप्ताह ले लेते हैं और इसके चलते तब तक आपको देखने में दिक्कत होती है। 

इसे भी पढ़ें : World Liver Day: शरीर के लिए घातक हैं लिवर की ये 5 बीमारियां, एक्सपर्ट से जानें इनके लक्षण और बचाव के उपाय

4. किडनी को नुकसान पहुंचाता है (Kidney)

हाई ब्लड शुगर आपकी किडनी को भी नुकसान पहुंचाता है। ये शरीर से वेस्ट चीजों को फिल्टर करने की क्षमता को भी प्रभावित करता है। इसके अलावा ये किडनी फेल्योर और किडनी से जुड़ी अन्य बीमारियों के खतरे को भी बढ़ावा देता है।

5. प्रेग्नेंसी में (Pregnancy)

ब्लड शुगर का ज्यादा प्रेग्नेंसी में भी कई सारी परेशानियों को पैदा करता है। ऐसे इसलिए क्योंकि ये ब्लड शुगर का ज्यादा होना गेस्टेशनल डायबिटीज (Gestational diabetes) के खतरे को भी बढ़ावा देता है। जिससे मां और बच्चे दोनों का स्वास्थ्य प्रभावित होता है। 

6. रिप्रोडक्टिव हेल्थ को भी नुकसान पहुंचाता है (Effects Reproductive Health)

ब्लड शुगर के हाई होने से ये आपके  रिप्रोडक्टिव हेल्थ, प्रजनन क्षमता और इनफर्टिलिटी को भी बढ़ावा देता है। ये इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction) के खतरे को भी बढ़ावा देता है। इसके अलावा ये स्पर्म की क्लाविटी को भी नुकसान पहुंचाता है। साथ ही महिलाओं में ये अनियमित पीरियड्स की परेशानी को जन्म देता है, जिससे प्रेग्नेंसी में भी परेशानियां होती हैं। साथ ही जिन महिलाओं में ब्लड शुगर लेवल ज्यादा होता है, उनमें समय से पहले मेनोपॉज की समस्या हो जाती है।

Insideskinissuses

7. स्किन से जुड़ी परेशानियों को बढ़ाता है (Skin Problems)

हाई ब्लड शुगर स्किन से जुड़ी परेशानियों को भी बढ़ाता है। जैसे कि ये स्किन टैनिंग, दाग-धब्बों, फंगल इंफेक्शन और बैक्टीरियल इंफेक्शन को भी बढ़ावा देता है। इसके चलते कई बार लोगों को फूट अल्सर (Foot Ulcers) की भी परेशानी होती है। ये सोरायसिस के खतरे को भी बढ़ाता है। इसके अलावा शुगर के मरीज को अन्य कई सारी परेशानियां भी होती हैं, जैसे कि किसी भी चोट और घाव को ठीक करने में ऐसे लोगों को बाकी लोगों की तुलना में ज्यादा समय लगता है। 

इसे भी पढ़ें : Nail Fungus: 'नाखून में फंगल इंफेक्शन' के पीछे हो सकते हैं ये 6 कारण, जानें लक्षण और उपचार

शुगर लेवल को सही रखने के उपाय- Tips to control blood sugar

इस तरह हाई ब्लड शुगर का ज्यादा होना आपको कई तरह से नुकसान पहुंचाता है। पर समझने वाली बात ये है कि हम अपने रोजाना के लाइफस्टाइल में इस परेशानी को कैसे कम करते हैं। ऐस में हमें अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करना होगा और उन आदतों को शामिल करना होगा, जिससे कि ब्लड में शुगर के लेवन को मोडरेट या सही रखा जाए। जैसे कि

  • -ब्लड शुगर लेवल को सही रखने के लिए जरूरी है कि आप अपने खाने में चीनी की मात्रा को कम करें।
  • -बाजार से कोई भी खाने की चीज खरीदते वक्त उस पर शुगर लेबल को जरूर चेक कर लें और हाई शुगर वाली चीजों को खाने से बचें।
  • -प्रोसेस्ड फूड्स जैसे कि चिप्स, ब्रेड और सॉस आदि को खाने से बचें।
  • -मीठे ड्रिंक्स और फ्रूट जूस आदि को लेने से बचें। इसकी जगह कोशिश करें कि सीधे फल खाएं।
  • -फाइबर से भरपूर चीजों का सेवन करें, जैसे कि मोटे अनाज और रेशेदार फल और सब्जियां। 
  • -खूप पानी पिएं।
  • -खूब एक्सरसाइज करें, जिससे कि शरीर की शुगर पचाने की क्षमता बढ़ जाए और इसका संचय न हो पाए। 

तो, इस तरह आप खान-पान और रोजमर्रा की जिंदगी में शुगर को कंट्रोल करके, शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ने से रोक सकते हैं। साथ ही इस बात को जरूर ध्यान में रखें कि शुगर के कारण होने वाली बीमारियों से बचने का एक ही उपाय ये है कि आप एक एक्टिव और हेल्दी लाइफ स्टाइल का पालन करें।

Read more articles on Other-Diseases in Hindi

Disclaimer