डायबिटीज मरीजों के लिए कोरोना की वैक्सीन कितनी कारगर है? शुगर रोगी हैं तो इन बातों का रखें विशेष ख्याल

डायबिटीज के मरीजों में संक्रमण के बाद लक्षण और भी गंभीर हो सकते हैं। यहां डॉक्टर से जानें वैक्सीन डायबिटीज के मरीजों के लिए कितनी कारगर है।

Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: May 04, 2021Updated at: May 04, 2021
डायबिटीज मरीजों के लिए कोरोना की वैक्सीन कितनी कारगर है? शुगर रोगी हैं तो इन बातों का रखें विशेष ख्याल

कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामले आग की तरह फैलते जा रहे हैं। मरने वालों की संख्या में भी लगातार इजाफा देखा जा रहा है। कोरोना से बचाव के लिए 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगना (Vaccination) शुरू हो गया है। इसके लिए अलग अलग केंद्र निर्धारित किए गए हैं। ऐसे में कोरोना और वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में तमाम असमंजस है। कुछ लोग डायबिटी और हृदय रोगों को लेकर काफी कंफ्यूज हैं। तमाम लोगों के मन में यह प्रश्न उठ रहे हैं कि डायबिटीज के मरीजों के लिए वैक्सीन कितनी कारगर है। इसी की सच्चाई जानने के लिए आज हमने बात की मुंबई के पीजी हिंडूजा हॉस्पिटल और एमआरसी की कंसलटेंट फीजिशियन डॉक्टर गौरंगी शाह से। आइये जानते हैं कि कोरोना की वैक्सीन डायबिटीज के मरीजों के लिए कितनी कारगर है। 

corona

डायबिटीज के मरीजों के लिए कितनी कारगर वैक्सीन (How much Effective is Vaccine for Diabetic Patients)

डॉ. गौरंगी के अनुसार डायबिटिज के मरीजों के लिए भी वैक्सीन उतनी ही असरदार है, जितनी अन्य लोगों के  लिए है। इसलिए इन बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है कि डायबिटीज के मरीजों (Diabetic Patients) में वैक्सीन का कुछ अलग या खास असर होने वाला है। यह सभी के लिए सामान्य रूप से फायदेमंद है। इसलिए वैक्सीन की डोज सभी के लिए लेनी जरूरी है। हालांकि आईसीएमआर (ICMR) भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने भी मरीजों द्वारा पूछी गई प्रश्न श्रंख्ला का उत्तर देते हुए यह साफ किया था कि डायबिटीज के मरीजों में सामान्य व्यक्ति की तुलना में संक्रमण फैलने का अधिक खतरा नहीं रहता है। हालांकि डायबिटीज के मरीजों को खास देखरेख की आवश्यकता है। क्योंकि संक्रमित हो जाने के बाद डायबिटीज के मरीजों में कोरोना के लक्षण गंभीर हो सकते हैं। 

इसे भी पढ़े - कोरोनाकाल में डायबिटीज के मरीज क्या खाएं? डॉक्टर से जानें बचाव और डाइट चार्ट

डायबिटीज के मरीज कैसे रखें ध्यान (How To Take Care Diabetic Patients)

डायबिटीज के मरीजों में संक्रमण के बाद गंभीर लक्षण होने की अधिक संभावना रहती है, जिससे उन्हें संक्रमण से बचने के लिए खुद की देखभाल करनी जरूरी है। डॉ. गौरंगी ने बताया कि डायबिटीज के मरीजों को कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर (Covid Appropriate Behaviour) का सख्ती के साथ पालन करना चाहिए जैसे मास्क पहनना (Wear Mask), सामाजिक दूरी का पालन करना समेत कोरोना से बचने के तमाम नियमों का भी पालन करना। साथ ही सबसे महत्तवपूर्ण कार्य दिन में दो से तीन बार भाप और गरारे लेना, जिससे आपको सांस संबंधी समस्याएं नहीं होंगी। कोरोना काल में खुद को स्वच्छ रखना बेहद जरूरी है। स्टीम लेने से हमारा गले की पूर्ण रूप से सफाई होती है साथ ही संक्रमण होने की संभावना भी कम होती है।

पानी नहीं पीने से रिकवरी होती है स्लो (Dehydration Makes Recovery Slow)

डॉ. गौरंगी के मुताबिक कोरोना काल में पोषक तत्वों के साथ साथ पानी का भी स्तर शरीर में बरकरार रखना बेहद जरूरी है। ऐसे में पानी की कमी के कारण कई समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। पानी का सेवन कोरोना से बचाव के साथ साथ संक्रमण हो जाने के बाद होने वाली जटिलताओं (Complications) से भी आपको बचाता है। कोरोना संक्रमित हो जाने के बाद जो लोग पहले सप्ताह में पानी का सेवन काफी कम करते हैं उनमें दूसरे हफ्ते में पहुंचते पहुंचते रिकवरी का स्तर धीमा हो जाता है। जिसकी वजह से कोविड निमोनिया होने के साथ ही शरीर में अन्य जटिलताओं का भी खतरा बढ़ जाता है। 

इसे भी पढ़ें - कहीं आपको टाइप 2 डायबिटीज तो नहीं। तो आपको अधिक मैग्नीशियम के सेवन की आवश्यकता है

ऐसे करें बचाव (How to Protect)

कोरोना से बचने के लिए डायबिटीज के मरीज चिकित्सक की सलाहनुसार अपनी नियमित दवाएं लेते रहें। साथ ही अपना ब्लड शुगर लेवल समय समय पर जांचते रहें। इसे जांचने के लिए उपकरण हमेशा अपने पास ही रखें। मीठे खाद्य पदार्थो से दूरी बनाकर रखें और नियमित रूप से योग करें। डॉ. गौरंगी ने बताया कि भारत की वैक्सीन सभी के लिए सामान्य रूप से ही कारगर हैं। वैक्सीन लगवाने के दौरान डायबिटीज के मरीजों को  इस बात का ध्यान रखना है कि वे वैक्सीन जल्द से जल्द लें। क्योंकि उनमें संक्रमण के लक्षण गंभीर हो सकते हैं, इसलिए उन्हें बिना किसी देरी के वैक्सीन लगवा लेनी चाहिए। अन्य लोगों की तरह ही उन्हें भी वैक्सीन लेने में कोई खतरा नहीं है। हालांकि वैक्सीन लगवाने से पहले उन्हें अपने शुगर लेवल की जांच कर उसे नियंत्रण में रखना है।

कोरोना वैक्सीन डाय़बिटीज के मरीजों के लिए भी उतनी ही कारगर है जितनी अन्य लोगों के लिए। यह लेख चिकित्सक द्वारा प्रमाणित है। अगर आप भी डाय़बिटीज के मरीज हैं तो इस लेख में दिए गए सुझावों को अपनाएं। यह आपके लिए लाभकारी होगा। 

Read more Articles on Diabetes in Hindi

Disclaimer