Cancer Prevention: कैंसर के खतरे को दोगुना कम करेंगी ये 5 आदतें, आज से बदलें इन्हें

Healty Living: आपकी जीवनशैली और रोजाना की आदतें आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर असर डालती हैं, ऐसे में जरूरी है कि आप कुछ अच्‍छी आदतों को अपनाएं, जो कि आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर अच्‍छा असर डालें। आइए हम आपको बताते हैं, उन 5 आदतों क

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Sep 27, 2019
Cancer Prevention: कैंसर के खतरे को दोगुना कम करेंगी ये 5 आदतें, आज से बदलें इन्हें

आपकी जीवनशैली और आदतों का आपके स्‍वास्‍थ्‍य के पीछे काफी बड़ा हाथ होता है। आप दिन में क्‍या खाते हैं, क्‍या पीते हैं और किस तरह की आपकी शारीरिक गतिविधियां होती हैं, यह सब आपके स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ा है।  बीमारी के शुरूआत में चेकअप और दवा से इलाज आसान होता है लेकिन वहीं आपकी स्‍वस्‍थ आदतें भी आपको कई छोटी-बड़ी बीमारियों से बचाने में मदद करती हैं। आज हम आपको आपकी रोजाना की 5 आदतों के बारे में बताएंगे, जो कि कैंसर जैसी घातक‍ बीमारी के खतरे को कम करने में मददगार हैं। 

डब्ल्यूएचओ (WHO) की जानकारी के अनुसार, 'कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से होने वाली लगभग एक तिहाई मौतें इन 5 प्रमुख आदतों और व्यवहार के कारण होती हैं। जिसमें हाई बॉडी मास इंडेक्‍स, कम फल-सब्जी का सेवन, शारीरिक गतिविधि की कमी और तंबाकू या शराब का उपयोग शामिल हैं। इसलिए आपको यह जानना जरूरी है कि आप कैसे कैंसर जैसी बीमारी के खतरे को कम कर सकते हैं।  

वेटलिफ्टिंग की कोशिश करें

मेडिसिन एंड साइंस इन स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज में प्रकाशित एक नए शोध से पता चला है कि वेटलिफ्टिंग कोलन कैंसर के खतरे को कम करता है। अध्‍ययन में पाया गया है, जो लोग वेटलिफ्टिंग करते हैं या वजन उठाते हैं उनमें कोलन कैंसर का खतरा 25% कम हो जाता है। वेटलिफ्टिंग को किडनी कैंसर के खिलाफ भी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि वेट लिफ्टिंग इंसुलिन और ग्लूकोज के बीच संतुलन को बढ़ावा देने में मदद करता है, जिससे ब्‍लड शुगर नियत्रित में रहता है, जो कि कोलन कैंसर के खतरों से जुड़ा हुआ है।

प्‍याज और लहसुन का भरपूर सेवन करें 

कुछ लोग खाने में प्याज और लहसुन को शामिल किए बिना नहीं रह सकते। यह आपके स्‍वास्‍थ्‍य को देखते हुए काफी अच्‍छी आदत है। क्‍योंकि ये दोनों चीजें आपके खाने को एक बेहतर स्‍वाद देने के साथ आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी कई तरह से फायदेमंद है। प्‍याज और लहसुन कैंसर के खतरे को कम करने के साथ ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी फायदेमंद हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ बफेलो और यूनिवर्सिटी ऑफ प्यूर्टो रिको द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि 'प्‍याज और लहसुन दोनों के सेवन से ब्रेस्‍ट कैंसर के खतरे को 67 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

इसे भी पढें: कैंसर को रोकने और कीमोथेरेपी के दुष्‍प्रभावों को कम करने में मददगार हैं ये 5 फल 

खूब पानी पिएं

पानी पीने के भी शरीर के लिए ढेर सारे फायदे हैं। पानी शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और यह कैंसर के खतरे को कम करने में भी मदद कर सकता है। यदि आप भरपूर मात्रा में पानी पीते हैं, तो आपके शरीर से मूत्र के माध्यम से शरीर में जमा गंदगी और विषाक्‍त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। जिससे कि ब्‍लैडर यानि मूत्राशय के कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है।

रात का खाना जल्दी खाएं

समय से खाना खाने और नींद लेने से आपके स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा मिलता है। कुछ शोधों से पता चलता है कि जिन लोगों के खाने और सोने के समय के बीच कम से कम दो घंटे का अंतर होता है, उनमें ब्रेस्‍ट कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 20 प्रतिशत कम होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अनडाइजेस्टिव खाना सर्कैडियन प्रवृत्ति को बाधित करता है।

इसे भी पढें:  खतरनाक होता है मुंह का कैंसर, जानें इसके शुरुआती लक्षण, कारण और बचाव के टिप्स

सूरज की हानिकारका किरणों से बचाव जरूरी 

सूरज की किरणें एक ओर आपके शरीर में विटामिन डी की कमी को पूरा करने में मददगार होती हैं, वहीं सूरज की हानिकारक किरणें आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर डालती हैं। इसलिए सूरज की सीधी हानिकारक किरणों के संपर्क से बचने के लिए सनस्‍क्रीन का उपयोग करें।  हालाँकि त्वचा में मौजूद मेलेनिन मौजूद के कारण भारत में त्वचा कैंसर के मामले कम हैं। लेकिन स्किन कैंसर से बचने के लिए हमेशा सतर्क रहना बेहतर है।

Read More Article On Cancer In Hindi 

Disclaimer