वजाइना से ब्लैक डिस्चार्ज क्यों होता है? जानें कारण और उपाय

लाल रंग के खून के बाद अचानक वजाइना से ब्लैक रंग का डिस्चार्ज होने से ज्यादातर महिलाएं परेशान हो जाती हैं और समझ नहीं पाती है कि इसका कारण क्या है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Aug 25, 2022Updated at: Aug 25, 2022
वजाइना से ब्लैक डिस्चार्ज क्यों होता है? जानें कारण और उपाय

महिलाओं का शरीर बहुत ही रहस्यमयी तरीके से बना हुआ है। ये हमें कब और किस स्थिति में लाकर खड़ा कर दे हैं और हमारा दिमाग कंफ्यूज हो जाए ये कहा नहीं जा सकता है। खास तौर पर पीरियड्स के दौरान महिलाओं के शरीर में क्या बदलाव होंगे ये कोई नहीं कह सकता है। पीरियड्स में एक ऐसी ही अजीब सी चीज, जिससे ज्यादातर महिलाएं गुजरती हैं वो है ब्लैक रंग का डिस्चार्ज।

लाल रंग के खून के बाद अचानक वजाइना से ब्लैक रंग का डिस्चार्ज होने से ज्यादातर महिलाएं परेशान हो जाती हैं और समझ नहीं पाती है कि इसके पीछे का मुख्य कारण क्या है। क्या वजाइना से काले रंग का डिस्चार्ज होना किसी तरह की मेडिकल प्रॉब्लम का संकेत है? आइए जानते हैं इन सभी सवालों के जवाब

इसे भी पढ़ेंः पेट में मरोड़ उठने पर अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्खे, जल्द मिलेगा आराम

क्या है ब्लैक डिस्चार्ज

पीरियड्स के आखिरी दिनों में वजाइना से ब्लैक रंग का डिस्चार्ज होना बहुत ही सामान्य प्रक्रिया है। वजाइना से ब्लैक रंग का डिस्चार्ज होने का अर्थ ये है कि खून पुराना है और वजाइना के एक हिस्से में रह गया है। पुराने खून के ऑक्सीजन के संपर्क में आने से उनका रंग काला पड़ गया है। पीरियड्स के आखिरी दिनों में इसके निकलने का अर्थ है शरीर के अंदर से सारा गंदा खून निकल चुका है। 

black discharge from the vagina

क्या है ब्लैक डिस्चार्ज होने का मुख्य कारण

अगर आपको पीरियड्स के एक या दो दिन से ज्यादा ब्लैक डिस्चार्ज होता है, तो ये चिंता की बात है। लेकिन ये 1 या 2 दिन रहता है, तो सामान्य प्रक्रिया में गिना जाता है। 

कई बार वजाइना से ब्लैक डिस्टार्ज होने का मुख्य कारण तनाव और हार्मोनल असंतुलन हो सकता है। 

मौसम में बदलाव और ज्यादा ट्रैवलिंग करने की वजह से भी पीरियड्स में वजाइना से ब्लैक डिस्चार्ज की समस्या बढ़ सकती है। 

थायराइड के घटने और बढ़ने की वजह से भी वजाइना से ब्लैक डिस्चार्ज की संभावना काफी बढ़ जाती है। इस स्थिति में डॉक्टर से संपर्कर करना जरूरी होता है।

कई बार पीरियड्स के दौरान ज्यादा वर्कआउट करने की वजह से भी ब्लैक डिस्चार्ज की संभावना बढ़ जाती है। यही कारण है कि डॉक्टर और घर के बड़े बुजुर्ग पीरियड्स के वक्त महिलाओं को ज्यादा भागदौड़ और भारी वजन उठाने से मना करते हैं। 

इसे भी पढ़ेंः Weight Loss:कोकोनट मिल्क से वजन कैसे घटाएं, जानें सेवन का तरीका

black discharge from the vagina

कब जाना पड़ सकता है डॉक्टर के पास?

जिन महिलाओं को पीरियड्स के बिना ब्लैक या ब्राउन डिस्चार्ज ज्यादा हो रहा है। ब्लैक डिस्चार्ज के साथ वजाइना में खुजली, दर्द और छोटे-छोटे दाने निकल आए हैं, तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर से पास जाना पड़ सकता है। 

Disclaimer