जॉइंट फैमिली में रहने से मिलते हैं कई फायदे, जानें क्यों जरूरी है परिवार का साथ

ज्वाइंट फैमिली में रहने के कई फायदे हैं। इसमें आपको हर दुख-सुख बांटने के लिए कई लोग मिलते हैं। आप छोटी सी खुशी में भी बहुत खुश रहते हैं। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jun 06, 2022Updated at: Jun 06, 2022
जॉइंट फैमिली में रहने से मिलते हैं कई फायदे, जानें क्यों जरूरी है परिवार का साथ

संयुक्त परिवार में रहना कई लोगों को अपनी निजता के साथ समझौता और कभी स्वतंत्र रूप से फैसला न लेने के कारण ठीक नहीं लगता है। ऐसे लोगों को मानना है कि उनके पैसे भी परिवार के अन्य लोगों में बंट जाते हैं। इसके अलावा दादा-दादी के लाड़-प्यार को भी पेरेंटिंग में इंटेरफेरंस माना जाता है क्योंकि कई बार पढ़ने से या मार से बचने के लिए बच्चे दादा-दादी के पास भाग जाते हैं और कई चीजों के लिए उन्हें घर के बड़े बिगाड़ सकते हैं। ऐसी स्थिति में कई लोगों को ज्वाइंट फैमिली में रहना सही नहीं लगता है लेकिन इससे इतर ज्वाइंट फैमिली में रहने के कई फायदे भी हैं। दरअसल ज्वाइंट फैमिली में रहने से आपको शारीरिक और मानसिक रूप से कई लाभ मिलते हैं। साथ ही वर्किंग माता-पिता के होने के बावजूद बच्चे अकेला अनुभव नहीं करते हैं। वह सामाजिक रूप से अधिक समझदार होते हैं। संयुक्त परिवार में आप अपनी परेशानियां अगर अपने माता-पिता को बता नहीं पाते हैं, तो अन्य लोगों को बता पाते हैं और ऐसा उनका मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहता है और यह उनके भविष्य और सेहत के लिए भी अच्छा होता है। आइए ज्वाइंट फैमिली रहने के ऐसे ही कुछ फायदे जानते हैं। 

ज्वाइंट फैमिली में रहने के फायदे

1. बुरे समय में परिवार का साथ 

कई बार सिंगल फैमिली में सिर्फ माता-पिता और एक बच्चा होता है। ऐसे में उनके लिए किसी इमरजेंसी के समय सबकुछ मैनेज करना मुश्किल हो सकता है। कई लोग इस हालात में बिल्कुल निराश हो जाते हैं और कई बार अकेले हिम्मत हार जाते हैं। यहीं नहीं अक्सर हादसे से निकलने के बाद भी लोग अकेले रहकर मानसिक रूप से उभर नहीं पाते हैं और डिप्रेशन जैसी समस्याओं से घिर जाते हैं। इस समस्या से निकलाने के लिए भी उनके पास अधिक लोग नहीं होते हैं। वहीं संयुक्त परिवार में आपके पास अपनी बातों और परेशानियों को बांटने के लिए कई लोग होते हैं। इसमें आप एक से नहीं तो किसी अन्य से अपनी बात आसानी से कह पाते हैं। 

joint-family-benefits

2. बच्चे अकेला महसूस नहीं करते हैं

सिंगल परिवार में कई बार बच्चे अकेला अनुभव करने लगते हैं क्योंकि पेरेंट्स काम की वजह से ज्यादातर समय बाहर रहते हैं और शाम को घर आने के बाद वे इतने थक जाते हैं कि उनके पास अपने बच्चे से उनके पूरे दिन के बारे में पूछने के लिए समय भी नहीं होता है। ऐसे में बच्चे आसानी से अकेला महसूस कर सकते हैं। वहीं ज्वाइंट फैमिली में माता-पिता के अलावा भी बच्चे के पास चाचा-चाची और दादा-दादी होते हैं, जिनसे बच्चे अपनी बातें शेयर कर पाते हैं या फिर अपने भाई-बहन से भी बात कर पाते हैं। 

3. बहुत सारी खुशियां

कहते हैं जितने ज्यादा लोग खूशी उतनी दोगुनी हो जाती है, यही बात संयुक्त परिवार पर भी लागू होती है। जहां छोटी सी खुशी भी बहुत बड़ी लगती है। लोग मिलकर एक-दूसरे की खुशी में खुश होते हैं और साथ ही किसी भी पर्व-त्योहार को मिलकर अच्छे से मनाते हैं और मिल-जुलकर काम करते हैं, जिससे कोई भी काम मस्ती भरा बन जाता है। हर कोई आपका साथ देने के लिए हमेशा मौजूद रहता है।

इसे भी पढ़ें- जॉइंट फैमिली में हो रही है शादी तो इन 6 तरीकों से जीतें सबका दिल, परिवार में आएगी खुशहाली

4. प्यार और देखभाल सीखते हैं

संयुक्त परिवार में आपको बड़े-बुजुर्गों का खूब प्यार और केयर मिलती है। बीमार होने पर आपका बहुत अधिक ध्यान रखा जाता है। इसके अलावा अगर आफ दुखी होते हैं, तो सभी आप से जानने की कोशिश करते हैं कि आप क्यों दुखी है और आपको उदास भी नहीं होने देते हैं। यह आपको एक बेहतर इंसान बनने में भी मदद करती है और आपको समाज में अच्छे से व्यवहार करना भी सिखाती है। 

joint-family-benefits

5. किताबों से परे ज्ञान मिलता है

संयुक्त परिवार में आपको किताबों से परे बहुत अधिक ज्ञान मिलता है और बड़ों की कहानियों में आपके लिए प्यार और शिक्षा दोनों होती है। साथ ही उनकी डांट में भी ढेर सारा प्यार और आपके लिए परवाह होती है। ऐसे में आपके बच्चे को किसी भी चीज के लिए बाहर के लोगों को सहारा नहीं लेना पड़ता है। साथ ही आप अपने परिवार में अपनों को देखकर बहुत कुछ सीखते हैं।

(All Image Sources- Freepik.Com)

Disclaimer