बला के पौधे में होते हैं कई औषधीय गुण, जानें आयुर्वेद के अनुसार इसके फायदे-नुकसान और इस्तेमाल का तरीका

बला स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होती है। इसके सेवन से डायबिटीज से लेकर इम्यून पावर को बूस्ट किया जा सकता है। 

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: May 27, 2022Updated at: May 27, 2022
बला के पौधे में होते हैं कई औषधीय गुण, जानें आयुर्वेद के अनुसार इसके फायदे-नुकसान और इस्तेमाल का तरीका

आपने कई बार अपने आसपास बला देखा होगा, लेकिन इसकी जानकारी न होने की वजह से इसे पहचान नहीं पाए होंगे। बला एक ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जिसके इस्तेमाल से आप शारीरीक और मानसिक समस्याओं को दूर कर सकते हैं। यह अर्थराइटिस से लेकर स्किन डिजीज को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। इसके अलावा बला के इस्तेमाल से शरीर को कई फायदे हो सकते हैं। आज हम इस लेख में बला से शरीर को होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे। 

बला के फायदे (Health benefits of Bala in Hindi)

सिर की समस्याएं होंगी दूर

सिर में होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए बला का इस्तेमाल करें। इसकी जड़ और बेल से तैयार काढ़ा डैंड्रफ और स्कैल्प पर होने वाली बैक्टीरियल समस्याओं को दूर कर सकता है। इसका इस्तेमाल आप घी में मिक्स करके लगा सकते हैं। यह आपके वात रोग को दूर कर सकता है।

इसे भी पढ़ें - सुनने की क्षमता कम हो गई तो क्या करें? एक्सपर्ट से जानें बहरेपन का आयुर्वेदिक इलाज

आंखों की समस्या से दिला सकता है छुटकारा

आंखों की परेशानी को दूर करने के लिए बला का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए बला के पत्तों को पीस लें। अब इसकी टिकिया बनाकर आंखों के ऊपर रखें। बाद में  किसी कपड़े की मदद से इसे साफ कर लें। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा।

छाती की सूजन करे कम

सीने की सूजन को कम करने के लिए बला के पौधों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए बला के जड़ को पीस लें। अब इसमें थोड़ा सा हींग मिक्स कर लें। इसके बाद इसे अपनी छाती पर लगाएं। इससे सीने में होने वाली सूजन कम हो सकती है। 

खांसी का करे इलाज

खांसी की परेशानी को दूर करने के लिए बला का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका सेवन करने के लिए बला की पत्तियों को पीसकर इसमें थोड़ा सा शहद मिक्स कर लें। इससे खांसी की परेशानी दूर होगी। 

गले की परेशानी करे दूर

गले की परेशानी को दूर करने के लिए आप बला के पौधों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका सेवन करने के लिए बला में शहद, मिश्री और घी मिक्स कर लें। इसके बाद इसका सेवन करें। इससे गले की परेशानी दूर होगी। साथ ही आपका अगर गला बैठा है, तो इसका सेवन करें। 

घेंघा में है लाभकारी

घेंघा रोगियों के लिए बला लाभकारी हो सकता है। इसका सेवन करने के लिए बला की पत्तियों का रस हल्का सा गर्म करके रोजाना पिएं। इससे आपकी परेशानी दूर होगी। 

डायबिटीज रोगियों के लिए असरदार

बला का पौधा डायबिटीज रोगियों के लिए लाभकारी होता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए इसकी पत्तियों को पीसकर इसे आधे लीटर पानी में गर्म करके पिएं। सुबह शाम इस पानी का सेवन करने से डायबिटीज की परेशानी कंट्रोल हो सकती है। 

प्रेग्नेंसी में असरदार

प्रेग्नेंसी में बला स्वास्थ्य के लिए लाभकारी हो सकती है। इसका इस्तेमाल करने के लिए बला की पत्तियों को घी में पका लें। अब इसे डिलीवरी के बाद दर्द से प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इससे दर्द से काफी आराम मिलेगा। 

बला के नुकसान (Bala Side effects)

बला स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है। हालांकि, इसका इस्तेमाल करने से पहले एक्सपर्ट से सलाह लें। अधिक मात्रा में बला का इस्तेमाल करने से आपको एलर्जी की शिकायत हो सकती है। इसके कारण आपको दस्त, उल्टी और स्किन पर रैशेज की परेशानी होने की संभावना हो सकती है।

बला स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होती है। हालांकि, इसका इस्तेमाल से पहले एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। 

Disclaimer