आयुर्वेदिक 'अग्नि चाय' पीने से सेहत को मिलेंगे कई फायदे, जानें रेसिपी

गर्मियों में बेहतर पाचन और अच्छी इम्यूनिटी के लिए आपको भी ट्राई करनी चाहिए ये मसालेदार आयुर्वेदिक चाय- अग्नि टी।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: May 30, 2021Updated at: May 30, 2021
आयुर्वेदिक 'अग्नि चाय' पीने से सेहत को मिलेंगे कई फायदे, जानें रेसिपी

आपके मन में भी सवाल उठ रहा होगा कि आखिर क्या है यह अग्नि टी (Agni Tea)। तो सबसे पहले हमारे शरीर का अग्नि से क्या संबंध है, आपको यह मालूम होना चाहिए। आयुर्वेद के मुताबिक हमारी सेहत इस बात पर निर्भर करती है कि जो चीज हम खा रहे हैं वह अच्छे से पच रही है या नहीं। यदि आप का पाचन स्वास्थ्य दुरुस्त है तो आपका हाजमा भी बेहतर होगा। वैसे भी संस्कृत के अनुसार हमारा शरीर 5 तत्वों से मिलकर बना है। उसमें से एक है अग्नि। आयुर्वेद में अग्नि का अर्थ डाइजेस्टिव फायर। जब हमारी पाचन अग्नि मजबूत होती है तो इसका अर्थ है हमारी पाचन सेहत बढ़िया है। डाइजेस्टिव फायर हमारे शरीर के तापमान को स्थिर करती है और पाचन में भी लाभदायक होती है। यह अग्नि आपके द्वारा खाए गए खाने को एनर्जी में परिवर्तित करती है। अगर हमारे पाचन में कोई बाधा आ रही है तो टॉक्सिन पदार्थ इसका मुख्य कारण होते हैं इसलिए अगर आप इन सब टॉक्सिंस को अपने शरीर से निकालना चाहते हैं और अपनी पाचन सेहत को बेहतर बनाना चाहते हैं तो आपको आयुर्वेद द्वारा सुझाई यह अग्नि टी (Agni Tea) एक बार जरूर ट्राई करनी चाहिए।

ayurvedic agni tea benefits

बनाने का तरीका (Agni Tea Recipe)

अग्नि टी (Agni Tea) बनाने में बहुत ही आसान और हमारे शरीर के लिए भी बहुत लाभदायक होती है। यह पीने में भी बहुत स्वादिष्ट होती है। अग्नि को हमारी बढ़िया सेहत का रास्ता माना जाता है और यह हमारे शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने का भी एक रहस्य होती है। तो आइए जानते हैं कैसे बना सकते हैं आप यह स्वादिष्ट और आसानी से बनने वाली अग्नि टी।

इसे भी पढ़ें: हल्दी की चाय पीने के फायदे और नुकसान, जानें डायटीशियन से

सामग्री

  • -अदरक: अदरक पाचन के लिए बेहतर होता है, यह क्रोनिक अपाच्य जैसी समस्याओं का भी एक समाधान होता है, और इसमें बहुत सी हमारे शरीर के लिए लाभदायक एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी भी होती है ।
  • -लाल मिर्च: हमारे मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और बाउल जैसे इफेक्ट को साफ करने में लाभदायक होता है।
  • -सेंधा नमक: पाचन बेहतर बनाता है, मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और स्ट्रेस से राहत दिलाने में लाभदायक माना जाता है।
  • -नींबू का रस: पाचन क्रिया को बढ़िया ढंग से होने में मदद करता है और हाइड्रेशन को भी बढ़ावा देता है।
  • -2 चम्मच शहद और कोई भी प्राकृतिक स्वीटनर: प्राकृतिक स्वीटनर में विटामिन, मिनरल, एंजाइम और अन्य स्वास्थ्य वर्धक गुण होते हैं जो आपके शरीर के लिए बहुत लाभदायक हैं।

विधि :

  • एक बर्तन में पानी को गर्म कर लें।
  • अब सभी चीजें इस पानी में एड कर लें।
  • यह ध्यान रखें  कि आप पानी में लाल मिर्च केवल एक चुटकी ही मिलाएं क्योंकि इससे आपकी अग्नि टी बहुत अधिक स्पाइसी हो सकती है।
  • अब सभी इंग्रेडिएंट्स को एक साथ मिक्स कर लें और 20 मिनट तक इस पानी को अच्छे से उबाल लें।
  • अब इस बर्तन को गैस से उतार लें और इसे कुछ मिनट तक ठंडा होने दें।
  • अब इस चाय को छान लें।
  • फिर नींबू का रस और प्राकृतिक स्वीटनर मिला दें।
  • इसके बाद आपकी अग्नि टी तैयार है और आप इसे दिन में मील से पहले किसी भी समय ले सकते हैं।

अग्नि चाय पीने के फायदे (Agni Tea Health Benefits)

अग्नि टी (Agni Tea) आपके लिए एक हेल्दी पाचन फायर होती है जो आपको बीमारियों से दूर रखने में लाभदायक होती है। आइए जानते हैं अग्नि टी से हमें कौन कौन से स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।

agni tea recipe

  • यह आपके शरीर में अग्नि या डाइजेस्टिव फायर को संतुलित करने में लाभदायक होती है।
  • यह आपके मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में लाभदायक  है।
  • यह आपका पाचन बढ़ाती है और आपके शरीर के अवशोषण फंक्शन को मजबूत करती है।
  • अगर आप वजन कम करना चाह रहे हैं तो यह टी आपके लिए बहुत लाभदायक हो सकती है और यह आपकी भूख को भी कम करने में सहायक होती है।
  • आपके शरीर को डिटॉक्स करने में लाभदायक होती है।
  • यह विटामिन ए और विटामिन सी का एक बढ़िया स्रोत है।

यह चाय उन लोगों के लिए बहुत अधिक लाभदायक है जिन्हें पाचन समस्याएं होती हैं और यह आपके शरीर को एक प्रकार से प्राकृतिक रूप से डिटॉक्स करती है। जिससे आपके शरीर के अंदर से सारे टॉक्सिंस निकल जाते हैं और आपका पाचन सुचारू रूप से होता है। आप अपनी संपूर्ण सेहत को बढ़ाने के लिए इस अग्नि टी को एक बार जरूर ट्राई कर सकती हैं।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer