मेथी की चाय पीने से कम होगा बलगम, फेफड़ों (लंग्स) को हेल्दी रखने के तरीके जानें Luke Coutinho से

वेलनेस कोच और न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉउटिन्हो के बताए इन तरीकों से आप अपने फेफड़ों की क्षमता बढ़ा सकते हैं और बलगम से छुटकारा पा सकते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 05, 2020Updated at: May 21, 2021
मेथी की चाय पीने से कम होगा बलगम, फेफड़ों (लंग्स) को हेल्दी रखने के तरीके जानें Luke Coutinho से

हम सभी जानते हैं कोरोनावायरस संक्रमण में सामान्य फ्लू जैसे ही लक्षण होते हैं, जो अधिक गंभीर हो जाते हैं। वहीं कोरोनोवायरस आपके फेफड़ों पर हमला करता है और बलगम को गाढ़ा करता है, जिससे सांस लेने में मुश्किल आने लगती है। यह तथ्य सभी को उनके फेफड़ों के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित कर रहा है। अब घातक वायरस से खुद को बचाने के लिए, लोग अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने और अपने फेफड़ों को स्वस्थ रखने के तरीकों की तलाश कर रहे हैं। आखिरकार, स्वस्थ फेफड़े हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली का एक रक्षा तंत्र हैं। वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक डॉ, टेड्रोस एडनॉम के आधिकारिक रिपोर्ट की मानें, तो फेफड़े की खराब स्थिति और कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों को कोरोनावायरस संक्रमण के लिए अतिसंवेदनशील होने की संभावना है। इसलिए जरूरी है कि हम अच्छी स्वच्छता बनाए रखने के अलावा, ये सुनिश्चित करें कि हमारे फेफड़े स्वस्थ रहें, ताकि वो किसी भी संक्रमण से बच सके। इन तमाम चीजों को देखते हुए होलिस्टिक वेलनेस कोच और न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉउटिन्हो (Luke Coutinho) ने हाल ही में इंस्टाग्राम पर बताया कि फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए सबसे पहले बलगम को कम करना या इसे बनने न देना क्यों जरूरी है।

insidehomerediesfromcoutinho

न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉउटिन्हो (Luke Coutinho) ने बताया बलगम को कैसे करें कम 

न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉउटिन्हो का मानें, तो "हमारे शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली का एक रक्षा तंत्र है। ल्यूक कॉउटिन्हो कहते हैं कि हमारे शरीर को बलगम की जरूरत होती है, क्योंकि यह रक्षा तंत्र के रूप में काम करता है। जब हम कुछ बैक्टीरिया या वायरस को सांस लेते हैं, तो यह फेफड़ों में बलगम द्वारा फंस जाता है, जो इसे हमारे शरीर में जाने से रोकता है। इस बलगम को बाद में छींकने, खांसी या नाक बहने के माध्यम से शरीर द्वारा समाप्त कर दिया जाता है। समस्या तब होती है जब आपके फेफड़ों में बहुत अधिक बलगम बनता है। सीओपीडी, अस्थमा, ब्रोंकाइटिस वाले लोगों के फेफड़ों में अधिक बलगम होता है। ऐसे में आपको कुछ चीजें बता सकता हूं, जो आपको बलगम को खत्म करने या साफ करने में मदद करेंगी।

insidekalimirch

मेथी दाना 

मेथी के बीज का एक बड़ा चमचा लें और उन्हें 4-5 मिनट के लिए पानी में उबाल लें, तनाव और इसे गर्म पीना। आप एक दिन में एक-दो कप ले सकते हैं। यह बलगम को तोड़ता है, जिसे बाद में आपका शरीर बाहर निकाल देता है।जमा बलगम आपके शरीर को रोगाणु, रोगजनकों, बैक्टीरिया या वायरल के लिए एक प्रजनन भूमि बनाता है। जितनी जल्दी हो सके बलगम को तोड़ना आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखने का सबसे अच्छा तरीका है। इसके साथ ही ल्यूक कॉउटिन्हो ने मेथी दाने और काली मिर्च के इस्तेमाल से चाय या काढ़ा बनान भी बताया।

इसे भी पढ़ें : आम वायरल की तरह ही होता है निमोनिया, जानें इसके मुख्य लक्षण और बचाव के तरीके

मेथी दाने और काली मिर्च से बना चाय या काढ़ा

  • -एक चम्मच मेथी दाना लें
  • -इसे पानी में उबालें और मिश्रण को छान लें
  • -कॉउटिन्हो कहते हैं कि आप मेथी के दानों के साथ पानी में काली मिर्च भी मिला सकते हैं। काली मिर्च में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-ऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है और दर्द को कम करने और कफ और बलगम को तोड़ने में मदद करता है। कॉउटिन्हो ने अजवाइन, जीरा और हल्दी की भी बात की। इसके साथ ही कॉउटिन्हो ने इंडियन गर्म मसालों की तारीफ करते हुए कहा कि इसलिए इन गर्म मसालों को इम्यूनिटी बूस्टर माना जाता है।
  • -बेहतर परिणाम के लिए आप इसे एक गिलास सुबह और एक गिलास शाम को पी सकते हैं।
insidemethi

पिछले विडियो में भी बताया था बलगम को कम करने के ये उपाय

  • प्राणायाम और व्यायाम करें : न्यूट्रिशनिस्ट ल्यूक कॉउटिन्हो की मानें तो गहरी सांसें हमें बलगम को तोड़कर शरीर से बाहर निकालने में उसी तरह मदद करती हैं। व्यायाम करने से हम भारी सांस लेते हैं, जितना भारी हम सांस लेते हैं, उतना ही बलगम टूटता है।
  • खारे पानी की गार्गल: इसमें नमक के साथ थोड़ा पानी उबालें। अब इसे गुनगुना ठंडा होने दें और फिर इससे गरारे करें। यह आसान उपाय बलगम को तोड़ने में भी मदद करता है।
  • भाप लें : ल्यूक कॉउटिन्हो कहते हैं कि आपके पास घर पर स्टीमर है, तो इसका उपयोग करें। इसके अलावा आप बस एक बड़े कटोरे में पानी उबाल सकते हैं और अपने सिर को एक तौलिया के साथ कवर करके भाप ले सकते हैं। इस तरह पानी से गर्म हवा अतिरिक्त बलगम को बाहर निकालने में मदद करती है और इस तरह आपके फेफड़ों को स्वस्थ रखती है।

Read more articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer