अश्वगंधा और मिश्री के फायदे: इन 6 समस्याओं को दूर करने के लिए खाएं अश्वगंधा और मिश्री का मिश्रण

अश्वगंधा और मिश्री का सेवन करने से शरीर की कई परेशानी दूर हो सकती है। आइए जानते हैं इसका सेवन करने से होने वाले फायदे-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jan 27, 2022Updated at: Jan 27, 2022
अश्वगंधा और मिश्री के फायदे: इन 6 समस्याओं को दूर करने के लिए खाएं अश्वगंधा और मिश्री का मिश्रण

अश्वगंधा स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है। वहीं, मिश्री का सेवन भी हमें कई तरह की बीमारियों से बचाव कर सकता है। ऐसे में अश्वगंधा और मिश्री का एक साथ सेवन करने से कई तरह की बीमारियों और समस्याओं को दूर किया जा सकता है।  गाजियाबाद स्वर्ण जयंती के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि अश्वगंधा और मिश्री का एक साथ सेवन करने से पेट की परेशानियों से लेकर स्पर्म काउंट को बढ़ाने में अश्वगंधा और मिश्री का मिश्रण लाभकारी हो सकता है। इसके अलावा इससे कई अन्य परेशानी भी दूर हो सकती है। आज हम इस लेख में अश्वगंधा और मिश्री का सेवन करने के फायदे और इस्तेमाल करना का तरीका बताएंगे। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से- 

1. खांसी की परेशानी से दिलाए राहत (Ashwagandha and Mishri Relief from Cough )

अश्वगंधा और मिश्री का सेवन खांसी जुकाम की परेशानी से राहत दिला सकता है। इसका सेवन करने के लिए 10 ग्राम अश्वगंधा की जड़ लें। अब इसे अच्छे से कूट लें। इसके बाद इसमें 10 ग्राम मिश्री मिक्स कर लें। इसके बाद इसे 400 मिलीग्राम पानी में अच्छे से उबाल लें। पानी को तब तक उबाल लें, जब तक पानी 50 मिलीग्राम न रह जाए। दिन में थोड़ा-थोड़ा करके इस मिश्रण को पीने से खांसी और जुकाम की परेशानी दूर होगी। साथ ही कुकुर खांसी या वात से भी राहत दिला सकता है।

इसे भी पढ़ें - अश्वगंधा पाक के सेवन से दूर होती हैं कई समस्याएं, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और बनाने का तरीका

2. प्रजनन क्षमता बढ़ाए (increase fertility)

गर्भधारण के लिए भी अश्वगंधा और मिश्री का सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभकारी हो सकता है। इसका सेवन करने के लिए 20 ग्राम अश्वगंधा का चूर्ण लें। अब इसमें 1 लीटर पानी और गाय का दूध 250 मिलीग्राम मिक्स कर दें। इसके बाद इसे कम आंच पर पकाएं। जब दूध आधा रह जाए, तो इसमें 6 ग्राम-6 ग्राम मिश्री और गाय का घी मिक्स कर दें। पीरियड्स के बाद इस मिश्रण सेवन करने से प्रजनन क्षमता बेहतर हो सकता है।

3. ल्यूकोरिया का करे इलाज  (Ashwagandha Mishri Cure Leukorrhea)

अश्वगंधा और मिश्री का मिश्रण ल्यूकोरिया से पीड़ित महिलाओं के लिए लाभकारी हो सकता है। इसके लिए 2 से 4 ग्राम असगंधा कीचूर्ण (ashwagandha powder benefits) लें। इसमें थोड़ी सी मात्रा में मिश्री मिक्स कर लें। अब इस मिश्रण को गाय के दूध के साथ दिन में दो बार सुबह और शाम पिएं। इससे ल्यूकोरिया में काफी लाभ मिल सकता है।

4. शारीरिक कमजोरी करे दूर (Cure Body Weakness With Ashwagandha Mishri)

शारीरिक कमजोरी को दूर करने में मिश्री और अश्वगंधा का सेवन लाभकारी हो सकता है। इसके लिए 6 ग्राम असगंधा चूर्ण लें। इसमें समान मात्रा में शहद और मिश्री को मिक्स कर लें। इसके बाद इसमें 10 ग्राम गाय का घी मिक्स करके सुबह शाम 2-4 ग्राम लें। इससे आपके शरीर की कमजोरी दूर हो सकती है। इसके अलावा अश्वगंधा और मिश्री के मिश्रण को गाय के दूध के साथ पीने से काफी लाभ मिलेगा। 

5. वीर्य की अनियमित्ता करे खत्म ( Resolves Irregularity of sperm )

अश्वगंधा और मिश्री का सेवन पुरुषों के लिए लाभकारी हो सकता है। इससे स्पर्म काउंट को बढ़ाने में लाभकारी हो सकता है। लो स्पर्म काउंट की परेशानी को दूर करने के लिए यह मिश्रण प्रभावी है।

इसे भी पढ़ें - अश्वगंधा और शतावरी के फायदे: इन 5 परेशानियों को दूर करते हैं अश्वगंधा और शतावरी, जानें प्रयोग का तरीका

6. ब्लड शुगर करे कंट्रोल  ( Controls Sugar )

ब्लड शुगर में किसी तरह की परेशानी होने पर मिश्री और अश्वगंधा का सेवन किया जा सकता है। ब्लड में शुगर बढ़ने पर डॉक्टर चीनी का सेवन करने के लिए मना करते हैं। इस स्थिति में अगर आपको कुछ मीठा खाने का मन करे, तो अश्वगंधा और मिश्री का सेवन करें। इससे ब्लड शुगर का स्तर नहीं बढ़ेगा। 

 

अश्वगंधा और मिश्री का सेवन करने से शरीर को कई लाभ हो सकते हैं। इससे शारीरिक कमजोरी दूर होने के साथ-साथ कई अन्य परेशानी जैसे- ल्यूकोरिया, वीर्य अनियमितता, ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

Disclaimer