मशीन लर्निंग तकनीक पता लगा सकती है किसी की भी असली उम्र, शोध में हुआ खुलासा

शोधकर्ताओं ने पाया है कि एक नई कॉस्मेटिक प्रक्रिया के बाद युवा दिखना पहले से कहीं ज्यादा आसान है। पर ये तकनीक तब भी लोगों की असली उम्र पता लगा लेगी।

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 29, 2020
मशीन लर्निंग तकनीक पता लगा सकती है किसी की भी असली उम्र, शोध में हुआ खुलासा

यूसीएलए के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक अध्ययन में कहा गया है कि राइनोप्लास्टी या नाक की कॉस्मेटिक सर्जरी महिलाओं को तीन साल तक छोटी दिखने में मदद कर सकती है। वहीं मशीन लर्निंग तकनीक की मदद से ऐसे लोगों की असली आयु का पता लगाया जा सकता है। शोधकर्ताओं मे इस निष्कर्ष पर आने के लिए एक विशिष्ट प्रकार की कृत्रिम बुद्धि का इस्तेमाल किया जिसे मशीन लर्निंग कहा जाता है। यह शोध हाल ही में जर्नल एस्थेटिक सर्जरी जर्नल में प्रकाशित हुआ है। शोधकर्ताओं ने 16 से 72 के बीच की कुल 100 महिलाओं की तस्वीरों के पहले और बाद की तस्वीरों का अध्ययन करने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग करके अध्ययन किया। अध्ययन से जुड़ी सभी महिलाओं ने यूसीएलए सर्जन और अन्य लोगों द्वारा कॉस्मेटिक कारणों से राइनोप्लास्टी करवाई थी।

Inside_reakage

12 या अधिक हफ्तों के बाद, शोधकर्ताओं ने प्रौद्योगिकी का उपयोग करने वाली महिलाओं की मानकीकृत तस्वीरों का अध्ययन किया जो एक तस्वीर से चेहरे को काटकर और फिर एल्गोरिथ्म का उपयोग करके एक भविष्यवाणी तक पहुंचने से किसी व्यक्ति की उम्र का अनुमान लगाता है।

राइनोप्लास्टी कॉस्मेटिक सर्जरी है 

राइनोप्लास्टी (Rhinoplasty) को व्यापक रूप से चेहरे के सौंदर्यीकरण की प्रक्रिया के रूप में पहचाना जाता है, लेकिन यह आमतौर पर इसके एंटी-एजिंग प्रभावों के लिए नहीं जाना जाता है। शोध के प्रमुख डॉ. रॉबर्ट डोरफमैन की मानें, तो राइनोप्लास्टी में नाक के अंदर छोटे चीरों के माध्यम से हड्डी और इसके संरचनात्मक रूप को बदलने का कोशिश की जाती है और इसके लिए नथुने के चारों तरह सर्जरी होती है। उन्होंने कहा, "यह तकनीक हमें एक उद्देश्यपूर्ण तरीके से उम्र का सही अनुमान लगाने की अनुमति देती है और यह इस बात से परे है कि उम्र बढ़ने के पैटर्न और विशेषताओं को साबित किया जा सकता है।

 इसे भी पढ़ें : जानलेवा साबित हो सकती है कॉस्मेटिक सर्जरी

मशीन लर्निंग तकनीक से लग सकता है उम्र का सही अनुमान 

अध्ययन के परिणाम के अनुसार 40 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं में जिनमें से कुछ को राइनोप्लास्टी के बाद सात साल छोटा दिखने का अनुमान था, उनकी असली उम्र 40 के पार थी। 40-प्लस समूह का नमूना आकार लगभग 25 महिलाओं से छोटा था। वहीं शोधकर्ताओं ने कहा कि परिणामों को मान्य करने के लिए आगे के अध्ययन की आवश्यकता है। अध्ययन में भाग लेने वालों की औसत आयु 32 थी।

 इसे भी पढ़ें : बदल रहा है कॉस्मेटिक सर्जरी का रूप, पलकों की सर्जरी में टांके की जगह लेगा ग्लू

शोधकर्ताओं के अनुसार नाक को कभी भी उम्र बढ़ने के इलाज के लिए ध्यान केंद्रित नहीं किया जाता है, बल्कि शरीर की किसी भी अन्य विशेषता की तरह, नाक जो नरम ऊतक, हड्डी और उपास्थि से बना होता है, जो सही उम्र बता सकता है। वहीं शोधकर्ताओं का ये भी मानना है कि चेहरे की उम्र की अन्य विशेषताएं होने पर नाक भी प्रभावित होती है। जैसे जब हम अपने गालों में चेहरे की चर्बी और आयतन खो देते हैं, जो कि कैनवास है, जिस पर हमारी नाक बैठती है, नाक अधिक प्रमुख हो जाती है। शोधकर्ताओं ने आगे कहा कि पूरे चेहरे की युवा उपस्थिति बढ़ाने के लिए नाक की कॉस्मेटिक सर्जरी एक बड़ी भूमिका निभाती है।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer