16 की उम्र में 150 किलो के थे अर्जुन कपूर, माता-पिता के अलग होने के बाद 'इमोशनल ईटिंग' के कारण बढ़ा था वजन

अर्जुन कपूर ने बताया क‍ि जब वो 16 साल के थे तब उनका वजन 150 क‍िलो था, माता-प‍िता के अलग होने के कारण वो इमोशनल ईटिंग के श‍िकार हो गए थे

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Apr 30, 2021Updated at: Apr 30, 2021
16 की उम्र में 150 किलो के थे अर्जुन कपूर, माता-पिता के अलग होने के बाद 'इमोशनल ईटिंग' के कारण बढ़ा था वजन

बॉलीवुड के एक्‍टर अर्जुन कपूर आजकल फ‍िल्‍मों के साथ नेटफ्लिक्‍स का शो Star Vs Food में अपनी कुक‍िंग स्‍क‍िल्‍स द‍िखा रहे हैं। इस शो की शूटिंग के वक्‍त अर्जुन ने अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़ी कुछ बातें शेयर की जो उनकी वेट लॉस जर्नी से भी जुड़ी है। अर्जुन ने बताया क‍ि वो बचपन में काफी मोटे हुआ करते थे। स‍िर्फ 16 साल की उम्र में उनका वजन 150 क‍िलो था। अर्जुन के मुताब‍िक वो इमोशनल और ब‍िंज ईट‍िंग के श‍िकार थे। ब‍िंज ईट‍िंग का मतलब होता है अध‍िक खाने का व‍िकार। इस समस्‍या में व्‍यक्‍त‍ि जरूरत से ज्‍यादा खाना खा लेता है। इसमें व्‍यक्‍त‍ि थोड़ी-थोड़ी देर में जरूरत से ज्‍यादा खाता है। इस समस्‍या से जूझ रहे व्‍यक्‍त‍ि की आदतों में बदलाव होता रहता है वहीं इमोशनल ईट‍िंग का श‍िकार व्‍यक्‍त‍ि नेगेट‍िव सोच को शांत करने के ल‍िए जरूरत से ज्‍यादा खाना खा लेता है। ब‍िना सोचे समझे और ब‍िना भूख के भी व्‍यक्‍त‍ि को खाने से इमोशनल सपोर्ट म‍िलता है। चल‍िए जानते हैं अर्जुन कपूर की वेट लॉस जर्नी और उनकी पर्सनल लाइफ से जुड़ी बातें। 

arjun kapoor

अर्जुन का वजन बढ़ने का क्‍या कारण था? (Why Arjun Kapoor gain extra weight in childhood)

अर्जुन ने बताया क‍ि वो ब‍िंज और इमोशनल ईट‍िंग का श‍िकार थे ज‍िसके चलते उनका वजन बचपन से ही बहुत ज्‍यादा था। इसका कारण वो अपने माता-प‍िता के अलग होने के क‍िस्‍से को मानते हैं। अर्जुन के मुताब‍िक जब उनकी मां मोना कपूर और प‍िता बोनी कपूर तलाक लेकर अलग हुए तब अर्जुन इमोशनली टूट गए थे। ये घटना साल 1996 की है। उस समय अर्जुन ने ओवर ईट‍िंग शुरू कर दी थी ज‍िसके चलते उनका वजन तेजी से बढ़ने लगा। वो खाकर अपना सुकून उसमें ढूंढने की कोश‍िश करते थे। अर्जुन ने ये भी बताया क‍ि जब आपको कोई टोकने वाला नहीं होता तो कोई बुरी हरकत आदत बन जाती है और अर्जुन के साथ भी ऐसा ही हुआ, उन्‍होंने जरूरत से ज्‍यादा खाना शुरू कर द‍िया। इस समस्‍या से न‍िकलने के ल‍िए अर्जुन ने एक दिन चावल और चीनी छोड़ने का फैसला क‍िया और तब से उनकी ज‍िंदगी में बदलाव से दस्‍तक दी। 

''मैं 16 साल की उम्र में 150 किलो का था'' - अर्जुन कपूर (Arjun Kapoor reveals his weight loss journey)

arjun kapoor personal information

अर्जुन कपूर ने शो के दौरान र‍िवील क‍िया क‍ि एक समय था जब उनका वजन डबल था। वजन को लेकर अर्जुन अच्‍छा महसूस नहीं करते थे। अर्जुन ये भी कहते हैं क‍ि वो खुद से प्‍यार करने की कोश‍िश करते थे, वजन कम करना उनके प्‍लान में पहले शाम‍िल नहीं था। केवल 16 साल की उम्र में वे 150 क‍िलो के थे जो क‍ि सामान्‍य से बहुत ज्‍यादा होता है। उन्‍होंने बताया क‍ि अस्‍थमा के चलते उनकी इंजरी भी हुई था, बचपन में उन्‍हें कई मेडिकल ट्रीटमेंट द‍िए गए थे। अर्जुन ने बताया क‍ि उन्‍हें मीठा खाना और चावल खाने का बहुत शौक है पर अब वो मीठा पूरी तरह से छोड़ चुके हैं और हेल्‍दी डाइट पर फोकस कर रहे हैं। अपनी पहली फ‍िल्‍म की शूट‍िंग से पहले अर्जुन ने 50 क‍िलो वजन कम क‍िया था। 

इसे भी पढ़ें- ज्यादा खाना और फिर वजन घटाने के लिए भूखे रखना, उल्टी करना जैसे लक्षण हैं बुलिमिया ईटिंग डिसऑर्डर का संकेत

हफ्ते में 5 द‍िन वर्कआउट करके खुद को फ‍िट रखते हैं अर्जुन (Arjun Kapoor does workout 5 days a week)

arjun kapoor weight loss program

एक्‍टर अर्जुन कपूर ने एक शो के दौरान बताया क‍ि बचपन में वजन ज्‍यादा होने के कारण उन्‍हें अस्‍थमा था तब वो 10 सेकेंड के ल‍िए भी दौड़ नहीं पाते थे पर उन्‍होंने ठान ल‍िया था क‍ि एक्‍टर बनने के ल‍िए वजन कम करना ही होगा। अर्जुन अपनी वेट लॉस जर्नी में इंस्‍पिरेशन का श्रेय सलमान खान को भी देते हैं। उन्‍होंने अर्जुन से कहा था क‍ि वजन घटाकर तुम एक्‍टर बन सकते हो। अर्जुन ने बताया क‍ि उन्‍होंने फ‍िटनेट जर्नी जब शुरू की थी तब मैं रोजाना वर्कआउट के ल‍िए जिम जाता था। ये स‍िलस‍िला दो साल तक रोजाना चला। मैंने इस दौरान 50 क‍िलो वजन क‍म क‍िया। उसके बाद मैंने साल 2012 में इशकजादे फ‍िल्‍म से अपने कर‍ियर की शुरूआत की थी। अर्जुन रोजाना वर्कआउट करते हैं। इसमें वो कार्ड‍ियो, वेट ट्रेन‍िंग आद‍ि करते हैं। इसके अलावा अर्जुन पुलअप्‍स, स्‍काट्स भी करते हैं। वे इस रूटीन को हफ्ते में 5 द‍िन रोजाना 2 घंटे के ल‍िए फॉलो करते हैं। 

हेल्‍दी डाइट फॉलो करते हैं अर्जुन ज‍िससे घटा वजन (Arjun Kapoor follows healthy diet plan)

अर्जुन ने कई प्‍लेटफॉम्स पर इस बात को शेयर क‍िया है क‍ि जब वो वजन कम करने के बारे में नहीं सोचते थे तब वो द‍िन में एक साथ तीन बर्गर खा लेते थे। फ‍िर जब उन्‍होंने वजन कम करने के बारे में सोचा तो उन्‍हें अहसास हुआ क‍ि वो जरूरत से ज्‍यादा खाना खाते हैं। हेल्‍दी डाइट में उन्‍होंने ब्रेकफास्‍ट में टोस्‍ट और अंडे को शाम‍िल क‍िया। लंच में अर्जुन रोटी सब्‍जी, दाल और च‍िकन खाते हैं। अर्जुन ड‍िनर में प्रोटीन को प्राथम‍िकता देते हैं ज‍िसमें चावल, च‍िकन और मछली शाम‍िल होता है। वहीं अर्जुन मीठे से पूरी तरह से परहेज करते हैं। अर्जुन ने बताया क‍ि अगर आप वजन घटाना चाहते हैं तो एक्‍सरसाइज और हेल्‍दी डाइट दोनों स्‍टेप्‍स फॉलो करें। अर्जुन ने बताया क‍ि वजन कम करने के लि‍ए वो क‍िसी तरह की स्‍पेशल डाइट फॉलो नहीं करते, वे वही खाते हैं जो नॉर्मल घरों में रोजाना बनता है। वजन कम करने के ल‍िए उन्‍होंने मीठा पूरी तरह से बंद क‍िया इसके अलावा उन्‍होंने चावल की मात्रा कम की। अर्जुन कहते हैं क‍ि अगर आप हेल्‍दी डाइट लो तो कई बीमार‍ियों से बचा जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें- वजन घटाने वाले अक्सर करते हैं ये 11 गलतियां जिनसे घटने के बजाय बढ़ने लगता है वजन, कहीं आप तो नहीं कर रहे?

क्‍या होता है ब‍िंज और इमोशनल ईट‍िंग ज‍िसके श‍िकार थे अर्जुन कपूर? (What is Binge and Emotional Eating)

अर्जुन ने बताया क‍ि वो ब‍िंज और इमोशनल ईट‍िंग का श‍िकार थे। जो व्‍यक्‍त‍ि इमोशनल ईट‍िंग का श‍िकार होता है वो नकारात्‍मक भावनाओं को कम करने के ल‍िए खाने का सहारा लेता है। जब भी उसे एंग्‍जाइटी, स्‍ट्रेस या ड‍िप्रेशन होता है वो खाना खाकर अपना मन शांत करता है। इस दौरान व्‍यक्‍त‍ि को भूख न भी हो तो भी वो जरूरत से ज्‍यादा खाना खा सकता है। इमोशनल ईट‍िंग के चलते व्‍यक्‍त‍ि का वजन बढ़ जाता है और वो बीमार‍ियों का श‍िकार भी हो सकता है। इमोशनल ईट‍िंग ड‍िसऑर्डर को ठीक करने के ल‍िए आप साइकोलॉज‍िस्‍ट और डायटीश‍ियन से संपर्क कर सकते हैं। वहीं बात की जाए ब‍िंज ईट‍िंग की तो इस ड‍िसऑर्डर में व्‍यक्‍त‍ि थोड़ी-थोड़ी देर में ब‍िना भूख के खाना खाता रहता है। इस समस्‍या से पीड़‍ित व्‍यक्‍त‍ि का खुद पर कंट्रोल नहीं रहता। आपको भी ऐसी कोई बीमारी है तो मनोच‍िक‍ित्‍सक से संपर्क करना न भूलें। 

अर्जुन कपूर की स्‍टोरी से प्रेरणा लेते हुए आप भी अपना वजन कम कर सकते हैं, इसके ल‍िए आपको केवल न‍ियम‍ित कसरत और हेल्‍दी डाइट पर ध्‍यान देना है। 

Read more on Weight Management in Hindi 

Disclaimer