पुराने समय के 5 ब्यूटी सीक्रेट्स, जिनसे आज भी मिलती है खूबसूरत, मुलायम, दमकती त्वचा

पुराने जमाने के ब्‍यूटी सीक्रेट्स दादी-नानी से लेकर पुराने दौर की अभिनेत्र‍ियों ने भी खूब इस्‍तेमाल क‍िए हैं, आइए जानते हैं इनके बारे में 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 14, 2021Updated at: Jul 14, 2021
पुराने समय के 5 ब्यूटी सीक्रेट्स, जिनसे आज भी मिलती है खूबसूरत, मुलायम, दमकती त्वचा

एक कहावत है ओल्‍ड इज गोल्‍ड। ये कहावत उन ब्यूटी सीक्रेट्स पर पूरी तरह से फ‍िट बैठती है जो सद‍ियों से चले आ रहे हैं और आज भी वो उपाय कारगर हैं। पुराने जमाने के ब्‍यूटी सीक्रेट्स की बात करें तो उनमें कैम‍िकल नहीं होते थे, घर में आसानी से म‍िलने वाले उत्‍पादों को ही त्‍वचा और बालों को खूबसूरत बनाने के लि‍ए इस्‍तेमाल क‍िया जाता था जैसे मलाई, कच्‍चा दूध, केसर, जायफल आद‍ि। दादी-नानी क्रीम या पाउडर की जगह इन नैचुरल सीक्रेट्स से अपनी खूबसूरती बढ़ाती थीं। आपको पुराने जमाने की अभ‍िनेत्र‍ियां तो याद ही होंगी जैसे मीना कुमारी, मधुबाला। इनकी खूबसूरती भी प्राकृत‍िक उपायों की देन थी। चल‍िए जानते हैं ऐसे ही कुछ पॉपुलर ब्‍यूटी सीक्रेट्स जो आज भी आपकी खूबसूरती में चार चांद लगा सकते हैं। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने ओम स्किन क्लीनिक, लखनऊ के वरिष्ठ कंसलटेंट डर्मेटोलॉज‍िस्‍ट डॉ देवेश मिश्रा से बात की।

use of kesar

1. स्‍क‍िन की रंगत हल्‍की करने के ल‍िए इस्‍तेमाल करें केसर (Saffron)

केसर में व‍िटामि‍न ए, बी, सी मौजूद होता है। स्‍क‍िन की रंगत हल्‍की करने के ल‍िए आप केसर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। पुराने समय से केसर का इस्‍तेमाल खूबसूरती न‍िखारने के ल‍िए क‍िया जाता है। केसर को दूध में म‍िलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरा साफ होता है। आइए जानते हैं केसर के फायदे और उसे इस्‍तेमाल करने का तरीका-

  • हेयर लॉस की समस्‍या से जूझ रहे हैं तो केसर को दूध में म‍िलाएं और बालो पर लगाएं, बाल टूटना बंद हो जाएंगे।
  • पुराने जमाने में केसर को मॉइश्‍चराइजर के रूप में इस्‍तेमाल क‍िया जाता था, आप भी इसे एलोवेरा जेल में म‍िलाकर लगा सकते हैं।
  • केसर से त्‍वचा कोमल बनती है आप इसे गुलाब जल में म‍िलाकर चेहरे पर लगाएं, आपको चेहरा फ्रेश महसूस होगा। 

इसे भी पढ़ें- सफेद पलकों को रंगने के लिए अपनाएं नैचुरल उपाय, घर बैठे रंगे पलकों के बाल

2. चेहरे की खूबसूरती बढ़ानी है तो लगाएं मलाई का उबटन (Malai)

use of malai

पुराने जमाने से मलाई का इस्तेमाल चेहरे की रंगत बढ़ाने के ल‍िए क‍िया जाता रहा है। आप सुंदर त्‍वचा के ल‍िए मलाई का उबटन लगा सकते हैं। मलाई से त्‍वचा कोमल होती है, दाग-धब्‍बे म‍िटते हैं और रंगत न‍िखरती है। चल‍िए जानते हैं मलाई के फायदे और इस्‍तेमाल करने का तरीका- 

  • आपकी स्‍किन में कोई दाग या धब्‍बा हो तो उसे ठीक करने के ल‍िए मलाई का इस्‍तेमाल करें। मलाई में कपूर पीसकर लगाएं इससे स्‍क‍िन की समस्‍याएं दूर हो जाएंगी।
  • त्‍वचा की खूबसूरती बढ़ाने के ल‍िए मलाई का उबटन बनाएं। संतरे के छ‍िलके को पीसकर मलाई में म‍िलाएं और उबटन की तरह चेहरे पर लगाएं, इससे त्‍वचा साफ होगी। 
  • अगर आप होंठ सूखने के उपाय खोज रहे हैं तो मलाई का इस्‍तेमाल करें। मलाई को होठों पर लगाने से होंठ कोमल होंगे और नहीं फटेंगे।

3. कोमल और साफ त्‍वचा के ल‍िए इस्‍तेमाल करें जायफल (Nutmeg)

use of nutmeg 

पुराने जमाने में सौंदर्य को बढ़ाने के ल‍िए जायफल का प्रयोग‍ क‍िया जाता था। जायफल हमारी स्‍क‍िन और बालों के ल‍िए फायदेमंद होता है। जायफल में एंटीमाक्रोब‍ियल गुण होते हैं। जायफल के इस्‍तेमाल से त्‍वचा की रंगत बेहतर होती है और एक्‍ने की समस्‍या भी दूर होती है। ज‍िन लोगों की स्‍क‍िन में फाइन लाइंस या र‍िंकल्‍स की समस्‍या है वो भी जायफल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। जायफल में एंटी-इंफ्लामेट्री गुण भी होते हैं, इससे बालों में डैंड्रफ की समस्‍या दूर होती है। अगर पुराने समय की बात करें तो जायफल का इस्‍तेमाल कई तरह से होता था, आइए जानते हैं जायफल को इस्‍तेमाल करने का तरीका-

  • आप जायफल के पाउडर और तेल दोनों को इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • नार‍ियल तेल के साथ जायफल का तेल म‍िलाकर लगाने से डैंड्रफ, स्‍कैल्‍प इंफेक्‍शन की समस्‍या दूर होती है।
  • जायफल में दूध म‍िलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरा कोमल बनता है और दाग-धब्‍बे दूर होते हैं। 
  • जायफल में चीनी म‍िलाकर लगाने से एक बेहतरीन स्‍क्रब की तरह काम करता है ज‍िससे ब्‍लैकहेड्स दूर होते हैं।

4. प‍िगमेंटेशन की समस्‍या दूर करती है मुल्‍तानी म‍िट्टी (Multani Mitti)

use of multani mitti

सद‍ियों पहले से मुल्‍तानी म‍िट्टी का इस्‍तेमाल होता आया है, दादी की दादी भी इसका इस्‍तेमाल जरूर करती होंगी। ये त्‍वचा और बालों के ल‍िए जादुई सामग्री है। आप मुल्‍तानी म‍िट्टी को पानी के साथ म‍िलाकर बाल या चेहरे पर लगा सकते हैं। मुल्‍तानी म‍िट्टी लगाने से त्‍वचा में मौजूद गंदगी साफ होती है और एक्‍स्‍ट्रा ऑयल भी न‍िकल जाता है। अगर आपको टैन‍िंग की श‍िकायत है तो भी आपको मुल्‍तानी म‍िट्टी का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए। आइए जानते हैं मुल्‍तानी म‍िट्टी को इस्‍तेमाल करने का तरीका- 

  • अगर आपकी त्‍वचा में सूजन है तो आप मुल्‍तानी म‍िट्टी का इस्‍तेमाल करें। सूजन वाली जगह पर मुल्‍तानी म‍िट्टी लगाकर छोड़ दें फ‍िर 20 म‍िनट बाद पानी से धो लें। सूजन कम हो जाएगी। 
  • डेड स्‍क‍िन न‍िकालने के ल‍िए मुल्‍तानी म‍िट्टी फायदेमंद मानी जाती है। आप मुल्‍तानी म‍िट्टी का लेप लगाएंगे तो त्‍वचा में ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ जाएगा।
  • प‍िगमेंटेशन की समस्‍या है तो आप मुल्‍तानी म‍िट्टी को जरूर लगाएं, इसमें एंटीसेप्‍ट‍िक गुण भी होते हैं। अगर त्‍वचा जली या कटी है तो उस पर मुल्‍तानी म‍िट्टी का पेस्‍ट लगाना फायदेमंद होगा।

इसे भी पढ़ें- अपनी बढ़ती हुई उम्र से पछताएं नहीं, 40 की उम्र के बाद भी अपनाएं ये बेहतरीन हेयरस्टाइल

5. एक्‍ने, झुर्र‍ियां हटाने के ल‍िए इस्‍तेमाल करें नीम (Neem)

use of neem

स्‍क‍िन की बात हो और नीम के बारे में बात न हो ये तो मुमकिन ही नही। पुराने जमाने से नीम का इस्‍तेमाल औषधी के तौर पर होता रहा है। नीम में एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं। कील-मुंहासे की समस्‍या में नीम का इस्तेमाल क‍िया जाता है। ये त्‍वचा को गहराई से साफ करता है। आप नीम के पत्‍त‍ियों को पीसकर उसका पेस्‍ट बनाकर इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आइए जानते हैं नीम के फायदे और इस्‍तेमाल का तरीका-

  • मुंहासे की समस्‍या होने पर आप नीम का पेस्‍ट चेहरे पर लगाएं तो एक्‍ने और उसके दाग दोनों म‍िट जाएंगे।
  • मुरझाई हुई त्‍वचा को फ‍िर से जीव‍ित करने के ल‍िए नीम फायदेमंद है, आप नीम के पेस्‍ट में गुलाब जल म‍िलाकर चेहरे पर लगाएं। फर्क खुद महसूस करेंगे।
  • उम्र बढ़ने के साथ झुर्रियां बढ़ने लगती हैं पर अगर आपको चेहरे पर एज‍िंग साइंस नहीं देखने तो नीम का इस्‍तेमाल करें, नीम का पेस्‍ट लगाने से झुर्रियां भी कम हो जाती हैं।

इन उपायों के वैसे तो कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं हैं पर अगर आपकी स्‍क‍िन को क‍िसी खास चीज के प्रत‍ि एलर्जी है तो उसे इस्‍तेमाल करने से बचें।

Read more on Fashion & Beauty Tips in Hindi 

Disclaimer