Health Benefits of Bichhiya: पैरों में बिछिया पहनने से महिलाओं की सेहत को मिलते हैं कई फायदे

Health Benefits of Bichhiya: हिंदू धर्म में बिछिया विवाहित स्त्रियां ही पहनती हैं। बिछिया पहनने से शरीर को ठंडक मिलती है।  

Written by: Ashu Kumar Das Updated at: 2023-01-17 16:27

Health Benefits of Bichhiya: हिंदू धर्म में कई परंपराएं हैं। इन्हीं परंपराओं में से एक है शादीशुदा महिलाओं का पैरों में बिछिया पहनने का। पैरों की उंगलियों पर पहनने वाली बिछिया चांदी की धातु से बनाई जाती है। हिंदू धर्म में महिलाओं का बिछिया पहनना सुहाग की निशानी मानी जाती है। कहा ये भी जाता है कि जो महिलाएं पैरों में बिछिया पहननती हैं उनके पति की उम्र लंबी होती है। लेकिन क्या आप जानते हैं पैरों में बिछिया (Bichhiya Pehanne ke Fayde) पहनना सिर्फ धर्म के लिहाज से महत्वपूर्ण नहीं बल्कि इससे सेहत को भी बहुत सारे फायदे मिलते हैं। 

हालही में बॉलीवुड एक्ट्रेस जूही चावला ने अपने इंस्टाग्राम पर पैरों में बिछिया पहने हुए एक फोटो शेयर की है। पैरों में बिछिया पहने इस खूबसूरत तस्वीर को शेयर करते हुए जूही चावला ने कैप्शन में लिखा, 'जड़ों की ओर वापसी।' इसके साथ ही एक्ट्रेस ने अपनी पोस्ट में पैरों में बिछिया पहनने से सेहत को कौन से फायदे मिलते हैं इसके बारे में भी बताया है। आज इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं पैरों में बिछिया पहनने से सेहत को मिलने वाले फायदों के बारे में।

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में अक्सर रहती है कब्ज की समस्या? इन घरेलू उपायों से पाएं छुटकारा
 

 

पैरों में बिछिया पहनने से सेहत को मिलने वाले फायदे - Health benefits of wearing nettle on feet

1.  यूट्रेस रहता है हेल्दी

आयुर्वेद के अनुसार पैरों में बिछिया पहनने से महिलाओं का यूट्रेस हेल्दी रहता है। आयुर्वेद में कहा गया है कि पैर के अंगूठे की दूसरी उंगली की नस सीधे महिला के यूट्रस से जुड़ी होती है। जब अंगूठे के बगल वाली उंगली पर जब दवाब पड़ता है तो इससे यूट्रेस हेल्दी रहता है। इतना ही नहीं ये पीरियड्स को भी रेगुलर करने में मदद करता है।

2. ब्लड प्रेशर को करता है कंट्रोल

बिछिया पर हुई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि पैरों के अंगूठे की तरफ से दूसरी अंगुली में एक विशेष नस होती है जिसका कनेक्शन गर्भाशय से होता है। जब पैरों के अंगूठे की तरफ दवाब पड़ता है तो ये ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करती है। ब्लड प्रेशर नियंत्रित होने से गर्भाशय तक खून सही तरीके से पहुंच पाता है।

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में चाय-कॉफी नहीं, इन 3 चीजों से करें दिन की शुरुआत, रुजुता दिवेकर से जानें फायदे

3. शरीर को मिलती है पॉजिटिव एनर्जी

आयुर्वेद के अनुसार चांदी की बिछिया पहनने से शरीर को ठंडक मिलती है। पैरों के जरिए शरीर के पूरे हिस्से तक ठंडक पहुंचती है, जिससे महिलाओं को पॉजिटिव एनर्जी मिलती है।

 

Pic Credit: Freepik.com

 

 

 

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

Related News