अक्षय कुमार ने दी गर्मियों में फिट और हाइड्रेट रहने की 5 सस्ते टिप्स

अक्षय ने कई बार अपने इंटरव्‍यू में ये बताया है कि वह अपनी दिनचर्या को लेकर किसी से समझौता नहीं करते हैं। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले अक्षय हमेशा अपने फैन्स के लिए कुछ न कुछ शेयर करते हैं। अब उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया है, ज

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Apr 24, 2018
अक्षय कुमार ने दी गर्मियों में फिट और हाइड्रेट रहने की 5 सस्ते टिप्स

इंडियन सिनेमा के "खिलाड़ी" अक्षय कुमार फिल्‍म इंडस्ट्री में अपनी फिटनेस को लेकर अक्‍सर चर्चाओं में रहते हैं। उनकी फिट और फ्लेक्सिबल बॉडी युवा पीढ़ी के लिए एक उदाहरण है। 50 साल की उम्र में भी अक्षय अपनी हेल्‍थ को लेकर काफी गंभीर रहते हैं। अक्षय ने कई बार अपने इंटरव्‍यू में ये बताया है कि वह अपनी दिनचर्या को लेकर किसी से समझौता नहीं करते हैं। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले अक्षय हमेशा अपने फैन्स के लिए कुछ न कुछ शेयर करते हैं। अब उन्होंने इंस्‍टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें वो एक लकड़ी की माला से एक्सरसाइज करते नजर आ रहे हैं।

अक्षय ने इस वीडियो को साझा करते हुए लिखा है "गर्मी में इस लकड़ी की माला से ट्रेनिंग कर रहा हूं। ये पीठ और पेट के लिए बहुत अच्छा है, साथ ही वर्कआउट करने का ये सबसे अच्छा समय है" अक्षय हमेशा से ही फिटनेस को लेकर काफी सीरियस रहे हैं। वह अक्सर लोगों से कहते हैं कि हमें भगवान ने जो शरीर दिया है, उसकी इज्जत करिए। इसके लिए लाखों रूपये खर्च करने की जरुरत नहीं है। बस जो आपके पास है उसका फायदा उठाइए।

दरअसल, अक्षय की फिल्म 'पैडमैन' लोगों को काफी पसंद आई थी। इसके बाद उनकी कई फिल्‍में कतार में हैं। इसी साल उनकी फिल्म 'गोल्ड' स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 15 अगस्त को रिलीज होनी है। ऐसे में अक्षय अपनी फिटनेस का काफी ध्यान रख रहे हैं। अक्षय कुमार ने पिछले साल स्टार प्लस पर 'इंडियाज लाफ्टर चैलेंज' शो पर प्रमुख जज की भूमिका में थे।

हाइड्रेट रहने के फायदे

1: यदि आप हाइड्रेटेड नहीं रहते हैं, तो यह डिहाईड्रेशन (शरीर में पानी की कमी), आपके शारीरिक प्रदर्शन को प्रभावित कर सकता है। हालांकि, खिलाडियों का पसीना के माध्यम से अपने शरीर के वजन को कम करना असामान्य नहीं है। इससे शरीर के तापमान पर नियंत्रण, प्रेरणा में कमी, थकान में वृद्धि हो सकती है और व्यायाम को शारीरिक और मानसिक रूप से करना, अधिक कठिन लगता है। हाइड्रेशन को तीव्र व्यायाम के दौरान होने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने के लिए दिखाया गया है।

2: आपका मस्तिष्क पानी की मात्रा से अधिक प्रभावित होता है। अध्ययन बताते हैं कि हल्का डिहाईड्रेशन या पानी की कमी मस्तिष्क कार्यों के कई पहलुओं को भी कम कर सकता है। एक अध्ययन में दिखाया गया है कि अभ्यास के बाद पानी की कमी, मूड और एकाग्रता दोनों को कम करती है और सिरदर्द, चिंता और थकान की भावना बढ़ाती है। हल्का डिहाईड्रेशन आपके मूड, स्मृति और मस्तिष्क के कार्यों को कम कर सकता है।

3: कब्ज एक आम समस्या है, जिसमें अनियंत्रित मल त्यागने की आदतें और मल त्यागने में कठिनाई होती है। युवा और बुजुर्ग दोनों व्यक्तियों में कम पानी की खपत, कब्ज का कारक बनता है। इसलिए पानी का सेवन बढ़ाने से अक्सर, कब्ज़ का उपचार करने के रूप में फायदेमंद होता है।कार्बोनेटेड पानी कब्ज राहत के लिए बेहतर परिणाम दिखाता है।

4: किडनी की पथरी, किडनी में खनिज क्रिस्टल के दर्दनाक झुंड के कारण होती हैं, जो मूत्र प्रणाली में बाधा पैदा करते हैं। पानी का सेवन बढ़ाने से, लोगों में किडनी की पथरी की पुनरावृत्ति को रोकने में मदद मिल सकती है। पानी का अधिक सेवन, किडनी से मूत्र की मात्रा को बढ़ाता है, जो खनिजों की एकाग्रता को कम करता है, इसलिए पानी पथरी बनने की संभावना कम करता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Celebrity Fitness In Hindi

Disclaimer