Akshay Kumar Birthday: अक्षय कुमार रोज पीते हैं गोमूत्र, आयुर्वेद के अनुसार जानें गोमूत्र पीने के फायदे

Happy Birthday Akshay Kumar: बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार आयुर्वेदिक फायदों के कारण रोजाना गोमूत्र पीते हैं। जानें इससे मिलने वाले स्वास्थ्य लाभ।

 

सम्‍पादकीय विभाग
आयुर्वेदWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Sep 11, 2020Updated at: Sep 09, 2021
Akshay Kumar Birthday: अक्षय कुमार रोज पीते हैं गोमूत्र, आयुर्वेद के अनुसार जानें गोमूत्र पीने के फायदे

आज फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार का जन्मदिन है। वो 54 साल के हो गए हैं। अक्षय निर्विवाद रूप से बॉलीवुड के सबसे फिट और सफल अभिनेताओं में से एक हैं। वह अपनी डाइट और एक्‍सरसाइज रूटीन को सख्‍ती से फॉलो करते हैं। उनके बारे में आपने अक्‍सर सुना होगा कि वह डेली रूटीन से समझौता नहीं करते हैं। वह हमेशा एक स्वस्थ जीवन शैली की आदतों की वकालत करते हैं। कुछ दिनों पहले अक्षय कुमार ने एक इंस्टाग्राम लाइव सेशन में वाइल्डलाइफ एडवेंचरर बेयर ग्रिल्स के साथ अपनी सेहत से जुड़ा एक रहस्‍य अपने प्रशंसकों के साथ शेयर किया, जिसमें खुलासा किया कि वह हर दिन 'गोमूत्र' पीते हैं। इसके बाद एक बार फिर गोमूत्र के सेवन को लेकर तमाम तरह की बातें सामने आने लगी। 

दरअसल, आयुर्वेद में गोमूत्र का काफी महत्‍व है। तमाम आयुर्वेदाचार्य गोमूत्र के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के दावे करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि गामूत्र कई गंभीर शारीरिक विकारों का नाश करते हैं।

वीडियो साभार: Cobrapost

आयुर्वेद में गोमूत्र का महत्व

आयुर्वेद में गोमूत्र को काफी फायदेमंद माना जाता है। विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य स्थितियों से पीड़ित लोगों को गोमूत्र पीने की सलाह दी जाती है। 1000 साल पुरानी वैकल्पिक चिकित्सा प्रणाली के अनुसार, गोमूत्र कई खनिजों का एक प्राकृतिक स्रोत है और इसके दैनिक सेवन से शरीर को विभिन्न पोषक तत्वों की कमी को दूर करने में मदद मिल सकती है। ऐसा माना जाता है कि जब गाय मैदान में आती है, तो वे कई औषधीय पत्तियों को खाती हैं, जिनके निशान उनके मूत्र में पाए जा सकते हैं।

भारत में गोमूत्र का उपयोग चिकित्सीय प्रयोजनों के लिए बहुत लंबे समय से किया जाता रहा है। गर्भवती गाय के मूत्र को भी स्वस्थ माना जाता है क्योंकि इसमें विशेष हार्मोन और खनिज होने का दावा किया जाता है।

आयुर्वेद मधुमेह, ट्यूमर, तपेदिक, पेट की समस्याओं और यहां तक कि कैंसर सहित विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य बीमारियों के इलाज के लिए रोज सुबह खाली पेट गोमूत्र पीने की सलाह देता है।

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद के जरिए भी कंट्रोल कर सकते हैं अपना ब्‍लड शुगर लेवल, एक्‍सपर्ट से जानिए डायबिटीज का आयुर्वेदिक उपचार

गोमूत्र पीने के अन्य स्वास्थ्य लाभ

प्राचीन भारतीय चिकित्सा प्रणाली के अनुसार, गोमूत्र सभी के लिए फायदेमंद है। यह न केवल रोग के लक्षणों को ठीक करता है, बल्कि इसके रोजाना सेवन से पुरानी बीमारी भी दूर रहती है। आयुर्वेद द्वारा बताए गए गोमूत्र पीने के कुछ अन्य स्वास्थ्य लाभ हैं।

  • यह कुष्ठ, पेट के दर्द, पेट फूलना, मधुमेह और यहां तक कि कैंसर के इलाज में मददगार होने का दावा किया जाता है।
  • बुखार के इलाज के लिए इसे काली मिर्च, दही और घी के साथ लिया जाता है।
  • माना जाता है कि त्रिफला, गोमूत्र और गाय के दूध का मिश्रण एनीमिया को दूर करने में मदद करता है।

यह एक उत्कृष्ट डिटॉक्स ड्रिंक माना जाता है। आयुर्वेद का मानना है कि गोमूत्र सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर मानव शरीर को अंदर से साफ कर सकता है, जिससे पुरानी बीमारी का खतरा कम होता है। इसके अलावा, साबुन और शैंपू जैसे कॉस्मेटिक उत्पादों को तैयार करने के लिए भी तरल पदार्थ का उपयोग किया जाता है।

इसे भी पढ़ें: वात-पित्त, कफ दोष वाले लोगों को दिन में इतनी बार पीना चाहिए काढ़ा! जानें 1बार में काढ़े की कितनी मात्रा पिएं

गोमूत्र को लेकर विज्ञान क्या कहता है? 

जैसा कि हम जानते हैं कि आयुर्वेद गोमूत्र पीने के लाभों के लिए दावा करता है, लेकिन इस दावे का समर्थन करने के लिए कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। गोमूत्र सोडियम, पोटेशियम, क्रिएटिनिन, फास्फोरस और इपिथेलियल कोशिकाओं जैसे खनिजों में काफी समृद्ध है, लेकिन विज्ञान इस बात का समर्थन नहीं करता है कि इसे पीना किसी भी तरह से स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है। इस खनिज युक्त उत्पाद का उपयोग मिट्टी को समृद्ध करने के लिए किया जा सकता है, न कि स्वास्थ्य के मुद्दों के इलाज के लिए।

Read More Articles On Ayurveda In Hindi

Disclaimer