शरीर देता है डाइटिंग बंद करने के लिए ये 7 संकेत, नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी

डायट‍िंग के दौरान हमारा शरीर ऐसे कई संकेत देता है ज‍िस पर गौर करके हमें डायट‍िंग बंद कर देनी चाहि‍ए 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Feb 23, 2021Updated at: Feb 23, 2021
शरीर देता है डाइटिंग बंद करने के लिए ये 7 संकेत, नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी

डाइटिंग बंद करने के क्‍या संकेत होते हैं? डाइट‍िंग के दौरान आपकी जरा सी गलती सेहत पर भारी पड़ सकती है। डाइटिंग के दौरान कम या ज्‍यादा खाने से या गलत डाइट लेने से कई नेगेट‍िव इफेक्‍ट बॉडी पर पड़ते हैं। शरीर इन संकेतों को कई तरह से बताता है, आपको उन संकेतों पर ध्‍यान देने की जरूरत है। खाना ज्‍यादा कम कर देने से आपके शरीर को पोषक तत्‍व नहीं म‍िलते ज‍िसके चलते कमजोरी, पेट में दर्द जैसी समस्‍या शुरू हो जाती है। मह‍िलाओं में पीर‍ियड्स रुकना या अन‍ियम‍ित होने जैसे लक्षण गलत डाइट‍िंग का एक कारण है। चल‍िए आपको बताते हैं वो 7 संकेत जो आपको डाइट‍िंग के दौरान नजरअंदाज नहीं करने चाहि‍ए। इस बारे में ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

dieting mistakes

1. एस‍िड‍िटी (Acidity while you are on diet)

खाने के साथ अगर आप अनहेल्‍दी र‍िश्‍ता बनाएंगे तो आपका पेट हमेशा बीमार रहेगा। डाइट‍िंग के दौरान लोग कम से कम खाने की कोश‍िश करते हैं ज‍िसके चलते गैस या पेट दर्द की समस्‍या हो सकती है। ये संकेत बताता है क‍ि आपको डाइट‍िंग रोकनी है और कुछ हेल्‍दी खाना है।

2. दुखी महसूस करना (Feeling sad while dieting)

डाइट‍िंग के दौरान कई बार हम देर तक भूखे रहते हैं। डाइट‍िंग का मतलब भूखा रहना नहीं होता बल्‍क‍ि इसमें आपको बैलेंस डाइट लेनी होती है। कई बार गलत खानपान या आदतों के साथ आप डाइट‍िंग शुरू तो कर देते हैं पर उसका असर नहीं द‍िखता। ऐसे में आप दुखी हो जाते हैं। ऐसा महसूस हो तो डाइटिंग रोक दें और वजन कम करने के ल‍िए कोई और तरीका अपनाएं। 

3. ज्‍यादा खाना (Eating more during dieting)

eating more during diet

अगर आपको अचानक लगने लगा है क‍ि डाइट‍िंग शुरू करने के बाद आपको कभी भी भूख लग जाती है और आप जरूरत से ज्‍यादा खा रहे हैं तो डाइट‍िंग तुरंत रोक दें और बैलेंस डाइट लें। आपको डायटीश‍ियन से म‍िलने की जरूरत है क्‍योंक‍ि आप जो भी खा रहे हैं वो या तो अनहेल्‍दी है या उसकी मात्रा ठीक नहीं है। 

4. चिड़चिड़ापन (Irritation when you are on diet)

जब शरीर को पोषक तत्‍व नहीं म‍िलते तो स्‍वभाव च‍िड़च‍िड़ा हो जाता है। अगर आप भी डाइट‍िंग के बाद च‍िड़च‍िड़ापन महसूस करते हैं तो डाइटिंग बंद कर दें और डॉक्‍टर से संपर्क करें। हो सकता है आप अपनी कार्य क्षमता से ज्‍यादा या कम खाना खा रहे हों। आपके वजन, कद और उम्र के मुताब‍िक डॉक्‍टर आपको सही आहार बता सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- सुबह सोकर उठने पर सबसे पहले पानी पीना है अच्छी आदत, जानिए खाली पेट पानी पीने के 10 फायदे

5. अनियमित पीरियड (Irregular period during dieting)

डाइट‍िंग के दौरान शरीर का मेटाबॉलिज्‍म कम हो जाता है ज‍िससे शरीर में हार्मोन बदलने लगते हैं। इससे मह‍िलाओं में अन‍ियम‍ित पीरियड्स की समस्‍या बढ़ जाती है। इससे आपको और भी रोग हो सकते हैं। इसलि‍ए ऐसा संकेत द‍िखे तो डाइट‍िंग बंद कर दें। 

6. भूख न लगना (Not feeling hungry while dieting)

जो लोग डाइट‍िंग करते हैं वो हर समय वजन कम करने के बारे में सोचते रहते हैं ज‍िससे उन्‍हें स्‍ट्रेस होने लगता है। इससे उनकी भूख पर असर पड़ता है। डाइट‍िंग शुरू करने के बाद आपको भूख न लगने की समस्‍या हो तो डाइट‍िंग कुछ समय के ल‍िए बंद कर दें। 

इसे भी पढ़ें- What To Do After Eating: भोजन करने के बाद जरूर करें ये 1 काम, वजन होगा कम, शुगर रहेगा कंट्रोल

7. थकान (Feeling tired while dieting)

अगर आपको डाइट‍िंग शुरू करने के कुछ समय बाद ही थकान का अहसास हो आपको डाइट‍िंग बंद कर देना चाहि‍ए। ऐसा इसल‍िए होता है क्‍योंक‍ि आपके शरीर को पोषक तत्‍व नहीं म‍िल रहे होते हैं। वजन कम करने के चक्‍कर में हम जरूरी पोषण लेना बंद कर देते हैं। ऐसी गलती न करें। बैलेंस डाइट लें और कमजोरी लगने पर डाइट‍िंग रोक दें।

अगर आपका शरीर इनमें से कोई संकेत दे रहा है तो डाइट‍िंग बंद कर दें और डॉक्‍टर या डायटीश‍ियन से संपर्क करें। 

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer