बच्चे हो बड़े पेन चबाने की आदत बना सकती है संक्रमण का शिकार, जानें ऐसी 6 आदतें जो बनाती हैं आपको बीमार

आप भले ही स्वच्छता की सारी अच्छी आदतें फॉलो कर रहे हों लेकिन ये 6 गंदी आदतें आपकी छूट नहीं सकती है। जानें क्यों।

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: May 13, 2020
बच्चे हो बड़े पेन चबाने की आदत बना सकती है संक्रमण का शिकार, जानें ऐसी 6 आदतें जो बनाती हैं आपको बीमार

दुनियाभर में तबाही फैला चुके कोरोनावायरस के प्रकोप के साथ हम सभी अपनी स्वच्छता की आदतों के बारे में अतिरिक्त सतर्क हो गए हैं या धीरे-धीरे हो रहे हैं। हम अपने घरों को स्वच्छ रखने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं ताकि किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचा जा सके। हम सभी लोग पहले से कहीं अधिक हाथ धो रहे हैं और चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा सलाह दिए गए सभी स्वच्छता नियमों का सख्ती से पालन कर रहे हैं। लेकिन अभी भी ऐसी कुछ गंदी आदतें हैं जिनका हम बिना एहसास किए फॉलो करते हैं। अगर आपके लाख सोचने के बाद भी आपके दिमाग में नहीं आ रहा कि ऐसी क्या चीजें हैं तो इस लेख में हम आपको ऐसी 6 गंदी आदतों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप हर वक्त फॉलो करते हैं। तो आइए जानते हैं अनजाने में आपके द्वारा की गई ऐसी 6 आदतें, जो संक्रमण फैला सकती हैं। 

pen

पेन चबाना

ये गंदी आदत हालांकि बच्चों के बीच एक आम आदत की तरह लग सकती है लेकिन सिर्फ बच्चों के साथ ऐसा नहीं है। हम में से कई लोग, भले ही वे वयस्क ही क्यों न हों मुंह में पेन लेकर चबाने लगते हैं। कभी-कभी हम दूसरों की कलम लेकर भी चबाने लगते हैं, जो कि एक गंदी आदत है और हमें बीमार बना सकती है। इसलिए इस आदत को तुरंत छोड़ दें। 

फ्लश करते समय टॉयलेट लिट बंद नहीं करना

अमेरिकन जर्नल ऑफ इंफेक्शन कंट्रोल के अनुसार, जब आप फ्लश करते हैं, तो टॉयलेट (पानी और कीटाणु) की सामग्री हवा में चारों ओर फैल जाती है। टॉयलेट के ढक्कन को बंद नहीं करना, आपके हाथ, बाथरूम की सतह और उसके आस-पास मौजूद चीजों जैसे टूथब्रश और शैंपू की बोतलों को बैक्टीरिया से दूषित कर सकता है।

इसे भी पढ़ेंः टॉयलेट सीट पर बैठने से लेकर पानी पीते वक्त हर कोई करता है ये 5 गलतियां, बार-बार गलती पहुंचाती है हमें नुकसान

बंद चीजों को खोलने के लिए मुंह का इस्तेमाल करना

आप में से कितने लोग अपने दांतों के जरिए हर रोज दूध के पैकेट खोलते हैं? यह देखने में बड़ा ही आसान लगता है लेकिन यह बिल्कुल अनहेल्दी है। यदि हम एक मिल्क पैक का उदाहरण लेते हैं, तो इसे छूने वाले लोगों की संख्या की कल्पना करें, सोचें कि ये ऐसी कितनी सतहों पर रखी गई होती है, फिर जाकर आपके पास पहुंचती हैं। अपने किचन में कैंची रखें और चीजों को खोलने के लिए इसका इस्तेमाल करें।

sponge

रसोई में रखे स्पंज का बहुत लंबे समय तक उपयोग करना

अगर आप न केवल बर्तन साफ करने के लिए बल्कि माइक्रोवेव को साफ करने के लिए भी अपने रसोई में रखे स्पंज का उपयोग करते हैं, तो आपको सप्ताह में एक बार अपने रसोई के स्पंज को बदलने की आवश्यकता है। उपयोग के आधार पर इसके इस्तेमाल को बढ़ाया या घटाया जा सकता है। 

इसे भी पढ़ेंः दिन में किसी भी वक्त चटाई पर बैठकर लगाने लगते हैं ध्यान? ठहरिए, जानें ध्यान लगाने का सही वक्त, मिलेगें फायदे

अपने बच्चे के खिलौने डिसइंफेक्ट न करना 

अधिकांश बच्चों का व्यवहार आम होता है। वे खिलौनों को मुंह में डालते हैं, उन्हें जमीन पर फेंकते हैं और खिलौनों के साथ खेलते समय अपनी नाक उनपर छुआते हैं। अविकसित प्रतिरक्षा प्रणाली यानी की इम्यून सिस्टम उन्हें बीमारी के लिए विशेष रूप से अतिसंवेदनशील बनाती है। माता-पिता को हर हफ्ते या शायद अक्सर अपने बच्चे के खिलौने कीटाणुरहित करना सुनिश्चित करना चाहिए। अपने बच्चे के दोस्तों के आने पर ऐसा विशेष रूप से करना सुनिश्चित करें।

अपने पर्स को फर्श पर रखना

ज्यादातर लोग इस पर ज्यादा ध्यान न देते हुए कई बार फर्श पर बैग या पर्स रख देते हैं। ऐसा करने से आपके बैग या पर्स की बाहरी सतह बहुत सारे बैक्टीरिया के लिए घर बन जाती है। इसलिए अगली बार से अपने बैग या पर्स को फर्श पर न रखें और इसे कीटाणुरहित रखें।

Read More Articles On Mind & Body in Hindi

Disclaimer