बिना वजह आंखों से निकलने लगता है पानी? तो कारण हो सकती हैं ये 5 समस्याएं, जानें इसे रोकने का उपाय

अगर आपकी आंखों से बिना किसी बात के अचानक पानी निकलने लगता है, तो इन 5 समस्याओं का संकेत हो सकता है। जानें इसे रोकने का आसान घरेलू उपाय।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: May 26, 2020
बिना वजह आंखों से निकलने लगता है पानी? तो कारण हो सकती हैं ये 5 समस्याएं, जानें इसे रोकने का उपाय

क्या आपके साथ भी ऐसा होता है कि बैठे-बैठे या लेटे हुए अचानक आंखों से पानी निकलने लगता है। हम इस बात को सामान्य समझकर नजरअंदाज कर देते हैं। मगर ये आंखों की कई समस्याओं का संकेत हो सकता है। आंखों से पानी आना आपको भले बिना कारण लगे, लेकिन इसके पीछे कुछ समस्याएं हो सकती हैं। हमारी आंखों में आंसू के लिए खास टियर ग्लैंड्स होते हैं, जो आंसू बनाते और छोड़ते हैं। कई बार टियर डक्ट में ब्लॉकेज होने के कारण अचानक से यूं ही आंसू निकल आता है। इसके अलावा कुछ अन्य समस्याएं भी इसका कारण हो सकती हैं। हम आपको बता रहे हैं 5 सबसे आम समस्याएं।

watery eye

इरिटेशन के कारण

कई बार आंखों में कोई बैक्टीरिया या महीन कण चला जाता है, जिसका पता आपको नहीं चलता है। लेकिन आंखों की एक्स्ट्रा सेंसिटिव टिशूज इसे पहचान लेती हैं और आपका इम्यून सिस्टम तुरंत एक्टिव हो जाता है और उस बैक्टीरिया या महीन कण को निकालने के लिए आंखों के टियर ग्लैंड को आंसू निकालने का आदेश देता है, ताकि आंसू उस बैक्टीरिया या कण को भी अपने साथ बाहर निकाल दे। तो हो सकता है कि आगर आपकी आंखों में आंसू आया, तो ये इम्यून सिस्टम का किसी बाहरी तत्व के खिलाफ रिस्पॉन्स हो।

इसे भी पढ़ें: कहीं आप भी तो नहीं हो रहे कंप्यूटर विजन सिंड्रोम के शिकार, जानें इसके लक्षण

रूखेपन के कारण

अगर आप कोई काम करते हुए लंबे समय तक देखते रहते हैं, खासकर स्क्रीन वाले गैजेट्स (मोबाइल, लैपटॉप, टीवी, टैबलेट आदि), तो इससे आपकी पलकें सामान्य से कम झपकती हैं। इस कारण से आंखों में रूखेपन (Dryness) की समस्या हो जाती है। इस रूखेपन को दूर करने के लिए ही आपका टियर ग्लैंड अपने आप एक्टिवेट हो जाता है, ताकि आंखों में पानी लाकर रूखेपन को खत्म किया जा सके। इसीलिए अक्सर स्क्रीन वाले गैजेट का इस्तेमाल करने वालों में आंसू निकलने की समस्या होती है। इससे बचाव का उपाय यह है कि आप थोड़ी-थोड़ी देर में पलकों को झपकाते रहें।

टियर डक्ट के ब्लॉक होने के कारण

आंखें एक बेहद नाजुक मशीन की तरह हैं। टियर ग्लैंड्स आंसू बनाते हैं और इसे बाहर निकालने का काम करता है। अतिरिक्त आंसू को शरीर के अंदर के रास्ते से बाहर निकालने के लिए टियर डक्ट लगा होता है, जो आंसुओं को  नाक तक पहुंचने से भी रोकता है। कई बार ये टियर डक्ट ब्लॉक हो जाता है, जिसके कारण आंखों में पानी की मात्रा बढ़ जाती है और फिर यही पानी बिना किसी कारण आंखों के कोरों से निकलने लगता है। अगर लंबे समय तक ऐसा होता है, तो आप डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

eye disorders

एलर्जी के कारण

कई बार एलर्जी भी आंखों से आंसू निकलने का कारण हो सकती है। एलर्जी या जुकाम होने पर नाक बहने, छींकने, त्वचा में खुजली जैसी समस्याएं होती हैं। लेकिन एलर्जी के कारण आंखों से आंसू निकलने की भी समस्या हो सकती है। अगर आपको ऐसा लग रहा है कि आंसू निकलने के अलावा भी एलर्जी के अन्य लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। एलर्जी के सही कारण का पता लगाकर एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन से इसे ठीक किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: उम्र बढ़ने के साथ पढ़ने-लिखने में आ रही है परेशानी, तो हो सकती है ये बीमारी

कॉर्निया के फैलने के कारण

आंखों की कॉर्निया आपके शरीर के सबसे संवेदनशील अंगों में से एक है। कॉर्निया आंखों की ऊपरी पर्त पर मौजूद पारदर्शी झिल्ली होती है। कई बार इस झिल्ली में किसी कारण से फैलाव आ जाता है, तो आपको हल्का दर्द महसूस हो सकता है और आंसू निकलने लगते हैं। हालांकि थोड़े समय में ही कॉर्निया अपने आप को ठीक करके सामान्य फंक्शन करने लगती है। मगर कई मामलों में जब आंसू और दर्द देर तक नहीं रुकते हैं, तो आंखों के डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

आंखों का पानी रोकने के तरीके

आंखों से अगर बिना कारण पानी आए और कोई अन्य समस्या न हो, तो आपको अपनी पलकों को 10-20 बार झपकाकर ठंडे पानी से आंखों को धोना चाहिए। इसके बाद कुछ देर आंखें बंद करके आराम करना चाहिए। इससे पानी आने की समस्या दूर हो जाएगी और आंखों को आराम मिलेगा।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer