यौन संचारित बीमारियों (STDs) से लड़ने में मदद करते हैं ये 5 फूड्स, कई तरह के इंफेक्शन से रहता है बचाव

यौन संचारित बीमारियों में ज्यादातर इंफेक्शन्स होते हैं, जिनसे लड़ने के लिए आपके शरीर को एंटीबायोटिक फूड्स की जरूरत होती है। जानें ऐसे ही 5 फूड्स।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 17, 2020Updated at: Mar 17, 2020
यौन संचारित बीमारियों (STDs) से लड़ने में मदद करते हैं ये 5 फूड्स, कई तरह के इंफेक्शन से रहता है बचाव

यौन संचारित बीमारियां (Sexually Transmitted Diseases) वो होती हैं, जो असुरक्षित यौन संबंध के दौरान फैलती हैं। इनमें ज्यादातर बीमारियां सामान्य संक्रमण (इंफेक्शन) होते हैं, जो सामान्य एंटीबायोटिक्स से ठीक हो जाते हैं। इसके अलावा कुछ बीमारियां संक्रामक और गंभीर होती हैं, जिन्हें ठीक करने के लिए आपको दवाओं के साथ-साथ अपने शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने की जरूरत होती है। अगर आप भी किसी यौन संचारित बीमारी या इंफेक्शन का शिकार हैं, तो आपको अपने खानपान में कुछ खास चीजों को शामिल करना चाहिए, जिससे आपका शरीर संक्रमण से लड़ने के लिए तैयार हो सके और आप बीमारी से जल्दी छुटकारा पा सकें। हम आपको बता रहे हैं ऐसे ही 5 फूड्स, जो आपको इन यौन संचारित बीमारियों के संक्रमण से लड़ने में मदद करेंगे।

लहसुन खाएं

लहसुन को सबसे बेहतर नैचुरल एंटीबायोटिक माना जाता है। लहसुन में एंटीबैक्टीरियल के साथ-साथ एंटी-फंगल, एंटी-वायरल और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं। इसीलिए शरीर में होने वाले किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने के लिए लहसुन को बेस्ट फूड माना जाता है। लहसुन में एलिसिन नाम का एक खास तत्व होता है, जो शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है और कीटाणुओं को बढ़ने से रोकता है। अगर आप किसी यौन संचारित बीमारी से परेशान हैं, तो रोजाना कम से कम 1-2 कली कच्चा लहसुन जरूर खाएं।

इसे भी पढ़ें: लिवर को बैक्टीरिया और इंफेक्शन से बचाती है ये आयुर्वेदिक चाय

अदरक है गुणकारी

अदरक में भी एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण होते हैं। यही कारण है कि अदरक का सेवन करने से शरीर में होने वाले संक्रमणकारी बैक्टीरिया और वायरस (पैथोजन्स) का का विकास रुक जाता है। शोध बताते हैं कि अदरक में प्राकृतिक रूप से एंटीबायोटिक गुण होते हैं और ये बैक्टीरिया को मारता है। इसके अलावा अदरक को रेस्पिरेटरी और पेरिओडॉन्टल इंफेक्शन्स में भी फायदेमंद पाया गया है। इसलिए आपको अपने रोजाना के खाने में अदरक को जरूर शामिल करना चाहिए।

Watch Video: यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से कैसे बचा जाए

कच्चा शहद

शहद को तमाम तरह की शारीरिक समस्याओं में दवा के तौर पर हजारों सालों से प्रयोग किया जाता रहा है। शहद में शुगर का कंसंट्रेशन ज्यादा होता है, मगर इसमें हाइड्रोजन परऑक्साइड होता है और इसकी पीएच वैल्यू भी बहुत कम होती है। शहद में मिथाइलग्लायोक्सल होता है। इन्हीं सब गुणों के कारण शहद को बेस्ट एंटी-माइक्रोबियल फूड माना जाता है। शहद का सेवन हर तक के इंफेक्शन में फायदेमंद होता है। STDs में भी आप इसका सेवन करके अपने शरीर को इंफेक्शन से लड़ने के लिए तैयार कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: खतरनाक हो सकता है मूत्र संक्रमण या यूरिन इंफेक्शन, जानें कारण और इलाज

नारियल का तेल

कोकोनट ऑयल (नारियल के तेल) में भी एंटीफंगल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण होते हैं। इसके अलावा नारियल का तेल एक सेफ लुब्रिकेंट होता है, जिसका इस्तेमाल सेंसिटिव स्किन वाले लोग कर सकते हैं। नारियल का तेल में लॉरिक एसिड होता है, जो इसके एंटीबैक्टीरियल गुण के लिए जिम्मेदार होता है। अगर यौन संबंध के दौरान आप नारियल के तेल को लुब्रिकेंट के तौर पर इस्तेमाल करते हैं, तो STDs का खतरा कम होता है।

पत्तागोभी खाएं

आपको जानकर हैरानी होगी मगर पत्ता गोभी के सेवन से भी बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति बढ़ती है। पत्तागोभी के जूस का इस्तेमाल बहुत पुराने समय से कैंसर रोगियों में कैंसर सेल्स को रोकने और रेडिएशन के एक्सपोजर को रोकने के लिए किया जाता रहा है। इसके अलावा पत्ता गोभी आपके शरीर मं लिवर, ब्लैडर और कोलन को डिटॉक्सिफाई भी करता है। इसलिए इसका सेवन भी आपके लिए बहुत फायदेमंद है।

Read more articles on Healthy Foods in Hindi

Disclaimer