डिलीवरी के बाद जरूर करें ये 3 योगासन, पेट की चर्बी और हार्मोनल समस्याओं से मिलेगी राहत

डिलीवरी के बाद पेट की चर्बी बढ़ने की संभावना रहती है। अगर आपको भी इस बात का डर है तो डिलीवरी के बाद नियमित रूप से इन योगासन को कर सकते हैं।

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraUpdated at: Dec 20, 2020 14:32 IST
डिलीवरी के बाद जरूर करें ये 3 योगासन, पेट की चर्बी और हार्मोनल समस्याओं से मिलेगी राहत

डिलीवरी के बाद मोटापा और कई अन्य समस्या होने की चिंता हमारे मन में बनी रहती है। डिलीवरी के बाद शरीर का वजन बढ़े ये जरूरी नहीं होता है। अगर आप नियमित एक्सरसाइज और स्वस्थ दिनचर्या फॉलो करते हैं, तो आपका वजन कंट्रोल में रहता है। इसके साथ ही डिलीवरी के बाद होने वाली समस्याओं से भी राहत मिलता है। आज हम आपको कुछ ऐसे एक्सरसाइज के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे डिलीवरी के बाद भी आप अपने आप को फिट रख सकेंगे। आइए जानते हैं उन एक्सरसाइज के बारे में-

कैट काऊ पोज (Cat Cow Pose after Delivery)

डिलीवरी के बाद कैट काऊ पोज आपके लिए बेहतर है। कैट काऊ पोज (Cat Cow Pose) बिल्ली और गाय की तरह दिखने वाला योग है। इस वजह से इसे इंग्लिश में (कैट काऊ पोज) Cat Cow Pose कहते हैं। डिलीवरी के बाद अपने वजन को कंट्रोल में रखने के लिए आपके लिए यह योग बेहतर हो सकता है। इस योग से आपके रीढ़ की हड्डी को लोचदार बनती है, साथ ही आपके शरीर का ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है।  

  • इस योग को करने के लिए सबसे पहले योग मैट पर बैठ जाएं। 
  • अब अपने घुटने को टेकते हुए हाथ के सहारे अपने बॉली को उठाएं।
  • इस दौरान अपका सिर सीधा होना चाहिए। 
  • अब सांस अंदर की ओर लें और अपनी ठोड़ी को ऊपर करें।
  • अब सांस छोड़ते हुए अपने सिर को नीचे की ओर करें। 
  • इस अभ्यास के दौरान अपनी ठोड़ी को अपनी छाती पर लगाने का प्रयास करें।
  • इसका अभ्यास कम से कम 5 से 6 बार जरूर करें।

डिलीवरी के बाद करें उष्ट्रासन (Ustrasana Yoga for weight loss after delivery) 

डिलीवरी के बाद उष्ट्रासन योग करने से आपका पेट कम होता है। किडनी को स्वस्थ रखने में उष्ट्रासन योग आपकी मदद करता है। इस योग को नियमित रूप से करने से आपके शरीर का सभी अंग दुरुस्त होता है। इतना ही नहीं नियमित रूप से इस आसन को करने से आपके शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे आपका शरीर ऑक्सीकरण और डिटॉक्सिफाई होता है।

  • इस आसन को करने के लिए सबसे पहले योगा मैट पर बिछाकर घुटनों के बल खड़े हो जाएं। 
  • अब अपनी कमर से अपने शरीर को पीछे की ओर झुकाएं और दोनों हाथों को पीछे की ओर ले जाएं।
  • अब अपने सिर को पीछे की ओर झुका लें
  • इस दौरान आपके दोनों हाथ पैर की एड़ियों पर होने चाहिए। 
  • करीब 30 से 60 सेकंड तक इस स्थिति में रुकें। 
  • कम से कम 8 से 10 बार इस योग को करें। 

प्रेग्नेंसी के बाद करें त्रिकोणासन (Trikonasana yoga for after Delivery)

प्रेग्रेनेंसी के बाद त्रिकोणासन करने से महिलाओं के शरीर का हार्मोंन संतुलित रहता है। इस आसन को करने से रीढ़, पिंडली और हैमस्ट्रिंग खींचती है, जिससे आपकी छाती मजबूत होती है। पेट की चर्बी को कम करने में भी त्रिकोणासन आपकी मदद करता है। नई मां को यह आसन नियमित रूप से करना चाहिए।

  • इस योग को करने के लिए योगा मैट पर खड़े हो जाएं। 
  • अब अपने दोनों पैरों को दूर-दूर करें।
  • अब दाएं पैर के साइड झुकें और अपने दाएं हाथ को जमीन पर रखें।
  • इसके बाद दूसरे हाथ को ऊपर करके सीधा करें। इस स्थिति में 20 से 30 सेकंड के लिए रुकें।
  • करीब 8 बार इसका अभ्यास करें।
इसे भी पढ़ें -  तेजी से वजन घटाना चाहते हैं तो सिर्फ वर्कआउट नहीं काफी, एक्सरसाइज के बाद अपनाएं ये 4 जरूरी आदतें


Read More Articles on Exercise Fitness in Hindi
 
 
Disclaimer