गर्भावस्‍था के हर चरण से जानें गर्भ की स्थिति

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 15, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पहली तिमाही दौरान स्तनों में कोमलता आ जाती है।
  • भ्रूण बढ़ने के कारण शारीरिक बेचैनी बनी रहती है।
  • इन दिनों में आपके योनि से श्वेत स्राव भी हो सकता है।
  • इस दौरान आप अतिरिक्त भोजन करने लगती हैं।

गर्भावस्था के नौ महीने के दौरान प्रत्येक तिमाही के लक्षण के बारे में जानना बहुत जरूरी है। लेकिन इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। गर्भावस्था के हर पल में अद्वितीय अनुभव होता है। लेकिन यहां हम आपको कुछ सामान्य से लक्षण बता रहे हैं-

pregnancy in hindi

गर्भावस्था के लक्षण पहली तिमाही दौरान (1 से 14 सप्ताह)-

  • गर्भावस्था की यह अवधि सबसे महत्त्वपूर्ण अवधि होती है। गर्भावस्था के दौरान आप महसूस कर सकती हैं कि आपको अत्यधिक गैस, बेचैनी, चिंता, सुबह उठने पर बीमार सा महसूस होना या मतली आना और कब्ज की परेशानी रहती है।
  • गर्भावस्था के लक्षण पहली तिमाही दौरान स्तनों में कोमलता आ जाती है। स्तनों का आकार बढ़ता है और उनमें सूजन और दर्द भी रहता है।
  • गर्भावस्था के इस स्तर पर आप भावनाओं की चरम सीमाओं के माध्यम से हो कर गुजरती हैं। उदाहरण के लिए आप एक पल उत्तेजित महसूस करती हैं और दूसरे ही पल में नर्वस महसूस करती हैं। लगातार भावनाओं का उतार-चढ़ाव बना रहता है।
  • इस दौरान पेट में ऐंठन बना रहता है और थकान सी महसूस होती है।  
  • आपके गर्भाधान करने के साथ ही आपका वजन भी समय के साथ‍-साथ बढ़ता रहता है।
  • शारीरिक बेचैन रहता है, और यह भ्रूण के बढ़ने के कारण होता है।
  • लेकिन समय के साथ-साथ ये परेशानियां कम होने लगती है। पेट का आकार बढ़ने लगता है।
  • गर्भावस्था के इस स्तर पर शरीर के तापमान में वृद्धि होना एक सामान्य स्थिति है।
  • कुछ गर्भवती महिलाओं को इस दौरान अपने नाखूनों के रंग में बदलाव नजर आ सकता है।   

 

गर्भावस्था के लक्षण दूसरी तिमाही के दौरान (15 से 29 सप्ताह)-

  • गर्भावस्था के चौथे महीने की शुरुआत से आपको अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए।
  • गर्भावस्था के चौथे महीने में पेट में संकुचन और दर्द जैसी समस्याएं भी महसूस हो सकती हैं।
  • चौथे महीने में आपका वजन अतिरिक्त बढ़ता है। इस वजह से आपके पीठ में दर्द की शिकायत रह सकती है।
  • इस दौरान आपके पेट, स्तनों और नितंबों पर खिंचाव के साथ-साथ लाल, बैंगनी या लाल चमकदार धारियों वाले निशान भी हो सकते है। त्वचा में खुजली का अनुभव भी हो सकता है।
  • गर्भावस्था की दूसरी तिमाही से ही आप अपने त्वचा की रंगत में परिवर्तन देख सकती हैं। आपकी त्वचा में कालापन आ सकता है। गर्भावस्था के दौरान संवेदनशीलता का अनुभव कर सकती हैं।
  • इन दिनों में आपके योनि से श्वेत स्राव भी हो सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान आपके फेफड़े और अधिक हवा लेना शुरू करते है, ताकि भ्रूण को सही से ऑक्सीजन मिल सके। इस कारण आप पहले की तुलना में थोड़ा तेजी से सांस लेने लगती हैं। ऐसे में सांस की तकलीफ भी देखी जा सकती है।

 

गर्भावस्था के लक्षण तीसरे तिमाही के दौरान (31 से 42 सप्ताह)-

  • इस दौरान आप अतिरिक्त भोजन करने लगती हैं। आपको ज्यादा से ज्यादा भूख लगती है और आप सिर्फ अपने लिए नहीं बल्कि अपने शरीर में पल रहे भ्रूण की जरूरतों को भी पूरा करती हैं। ऐसे में आपको अधिक पोषक तत्वों की जरूरत होती है।
    यह गर्भावस्था की अंतिम तिमाही होती है और आप इस समय अपने पूर्व गर्भावस्था वजन से कम से कम 25 से 30 पौंड अधिक वजन बढ़ा लेती हैं।
    इस दौरान लगातार स्तन वृद्धि होने के कारण भी पीठदर्द बना रहता है। साथ ही सांस की तकलीफ भी बनी रह सकती है।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते हैं।

Image Source : Getty

Read More Article On- Pregnancy Week in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES102 Votes 60750 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर