अच्छी नींद लेने से भी बढ़ती है शरीर की इम्यूनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता), जानें कैसे

लंबी और स्वस्थ जिंदगी जीना चाहते हैं तो 3 नियम अपना लें- हेल्दी खाएं, रेगुलर एक्सरसाइज करें और अच्छी नींद लें। जानें नींद और इम्यूनिटी का संबंध।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 13, 2020
अच्छी नींद लेने से भी बढ़ती है शरीर की इम्यूनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता), जानें कैसे

नींद हम सभी के लिए जरूरी है क्योंकि नींद की कमी से भी सैकड़ों बीमारियां हमें घेर सकती हैं। लेकिन आजकल गैजेट्स के ज्यादा प्रयोग और गेमिंग/सोशल मीडिया आदि के कारण लोग देर रात तक जागते हैं, जिसके कारण उनकी नींद भी पूरी नहीं होती और नींद की क्वालिटी पर भी असर पड़ता है। इन दिनों कोविड और कई तरह की सीजनल बीमारियों के कारण इम्यूनिटी की बहुत ज्यादा चर्चा है। इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता वो शक्ति है, जो शरीर को रोगों से लड़ने के लिए तैयार करती है। ज्यादातर लोग समझते हैं कि अच्छी इम्यूनिटी सिर्फ हेल्दी खाने से बन सकती है, जबकि ऐसा नहीं है। इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में अच्छे खानपान के साथ, फिजिकल एक्टिविटी और नींद का भी बहुत महत्वपूर्ण रोल है। आइए आपको बताते हैं कि नींद आपके इम्यून सिस्टम को कैसे प्रभावित करती है।

 

बीमारी से बचने के लिए जरूरी है नींद

नींद हम सभी के लिए जरूरी है। आसान भाषा में कहें, तो नींद हमारे डिस्चार्ज शरीर को दोबारा चार्ज करने का एक प्राकृतिक तरीका है। नैशनल स्लीप फाउंडेशन के अनुसार एक वयस्क को एक दिन में कम से कम 7 से 9 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए, मगर ज्यादातर लोग इतनी देर नहीं सोते हैं। वहीं आजकल लोगों के नींद की क्वालिटी भी लगातार खराब हो रही है। क्या आपको पता है कि आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी पर आपके सोने और जागने का बहुत ज्यादा असर पड़ता है? आज हम आपको इसी बारे में बता रहे हैं कि किस तरह नींद आपकी इम्यूनिटी को प्रभावित करती है।

इसे भी पढ़ें: जानें आपकी उम्र के मुताबिक कितनी देर सोना जरूरी है आपके लिए

रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाती है नींद

रिसर्च बताती हैं कि अच्छी नींद लेने से आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सकती है। जर्मनी के शोधकर्ताओं ने पाया कि सोने से शरीर में इम्यून सेल्स (T सेल्स) बढ़ते हैं। टी-सेल्स एक तरह के इम्यून सेल्स होते हैं, जो वायरस, बैक्टीरिया से लड़ने में शरीर की मदद करते हैं। सोने के दौरान हमारे शरीर में कई स्ट्रेस हार्मोन्स (एड्रेनेलिन और नोराड्रेनेलिन) और इन्फ्लेमेशन बढ़ाने वाले कारक कम हो जाते हैं, इसलिए इस दौरान शरीर में टी-सेल्स का विकास तेजी से होता है। ये टी-सेल्स आपके शरीर में वायरस से प्रभावित सेल्स या कैंसर से प्रभावित सेल्स को ठीक करने में मदद करती हैं।

कम सोने से जल्दी होती है मौत

आपको जानकर हैरानी हो सकती है मगर शोध बताते हैं कि अगर कोई व्यक्ति रोजाना 5 घंटे से कम नींद लेता है, तो उसकी मौत जल्दी होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। इसके अलावा खराब नींद के कारण बहुत सारी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। पर्याप्त नींद न लेने के कारण व्यक्ति का मस्तिष्क ठीक तरह से काम नहीं करता है और कई समस्याएं जैसे- कार दुर्घटना, मूड स्विंग्स, चिड़चिड़ापन, आलस, थकान, खराब याददाश्त, खराब वर्क परफॉर्मेंस आदि हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: रात में नींद न आने का कारण हो सकते हैं ये 5 फूड्स, हो सकते हैं गंभीर बीमारियों का शिकार

रोगों से बचना है तो लें अच्छी नींद

स्वस्थ रहने के लिए जितना जरूरी अच्छा खाना है, उससे कहीं ज्यादा जरूरी अच्छी नींद है। अगर आप बहुत हेल्दी चीजें खाते हैं, मगर शरीर को पर्याप्त नींद नहीं देते हैं, तो इससे आपका शरीर बीमारियों के खिलाफ लड़ने की क्षमता नहीं विकसित कर पाएगा। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक लंबी और स्वस्थ जिंदगी के 3 ही नियम हैं- हेल्दी खाना, अच्छी नींद और रेगुलर एक्सरसाइज। इसलिए आप भी अच्छी नींद लें और हमेशा स्वस्थ रहें।

Watch Video: खुद से नींद की कमी को कैसे दूर कर सकते हैं आप, वीडियो में जानें आसान तरीका

Read more articles on Mind & Body in Hindi

Disclaimer