Doctor Verified

व्हाइट डिस्चार्ज ज्यादा होने पर क्‍या करें? एक्सपर्ट से जानें कारण और इलाज

White Discharge: सफेद पानी की समस्‍या बढ़ने पर वजाइनल एर‍िया में दर्द और सूजन बढ़ सकती है। व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज का इलाज हम आपको लेख के जर‍िए बताएंगे।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 10, 2022Updated at: Aug 10, 2022
व्हाइट डिस्चार्ज ज्यादा होने पर क्‍या करें? एक्सपर्ट से जानें कारण और इलाज

मह‍िलाओं में सफेद पानी आने की समस्‍या उन्‍हें परेशान कर सकती है। इसे मेड‍िकल भाषा में लिकोरिया के नाम से भी जाना जाता है। वजाइना से व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज होने पर कमजोरी, चक्‍कर आना, जी म‍िचलाना, वजाइना से बदबू, बार-बार पेशाब आने जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं। व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या बढ़ने पर जलन, दर्द, सूजन या खुजली महसूस हो सकती है। अगर वजाइना से ज्‍यादा व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज हो, तो आपको क्‍या करना चाह‍िए? इसका जवाब हम आगे लेख में जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।   

white discharge in women

ज्‍यादा व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज होने के कारण- White Discharge Reasons 

  • साफ-सफाई का ध्‍यान न रखना 
  • खून की कमी 
  • ज्‍यादा हस्तमैथुन करना
  • बैक्‍टीर‍ियल या फंगल इंफेक्‍शन 
  • व‍िटाम‍िन डी की कमी 
  • व‍िटाम‍िन सी की कमी  
  • गर्भवती होना
  • यूरिनरी इंफेक्शन 
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना
  • एस्‍ट्रोजन हार्मोन का लेवल कम होना

इसे भी पढ़ें- महिलाओं में सफेद पानी (white discharge) की समस्या के लिए आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय बता रही हैं डॉ. चंचल शर्मा

व्हाइट डिस्चार्ज ज्यादा होने पर क्या करें?

सफेद पानी की समस्‍या ज्‍यादा हो, तो आप ब‍िना देरी क‍िए डॉक्‍टर से संपर्क करें। वो आपको सही इलाज बता सकते हैं। इलाज के कुछ तरीके आगे जानें- 

एंटीफंगल और एंटीबायोट‍िक दवाएं  

यीस्‍ट इंफेक्‍शन (yeast infection) के कारण व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या हो रही है, तो डॉक्‍टर एंटीफंगल दवा दे सकते हैं। ये दवा प‍िल्‍स या जेल व क्रीम के फॉर्म में हो सकती हैं। वहीं बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन (bacterial infection) होने पर एंटीबायोट‍िक्‍स दी जा सकती हैं। व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज के दौरान टाइट कपड़े पहनने से बचें। बॉथरूम इस्‍तेमाल करने के बाद साफ वाइप्‍स का इस्‍तेमाल करें और त्‍वचा को ड्राई रखें। वजाइनल एर‍िया को साफ करने के ल‍िए सीधे साबुन का इस्‍तेमाल करने से बचें।  

दूध और केला खाएं 

ल्‍यूकेर‍िया या व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए केला और दूध (banana and milk) फायदेमंद माना जाता है। आप एक ग‍िलास दूध में एक चम्‍मच घी और केला मैश करके डालें और शेक बनाकर पी सकती हैं। इससे सफेद पानी आने की समस्‍या कुछ ही द‍िनों में ठीक हो जाएगी। इसी तरह अंजीर भी व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या दूर करने में मदद करता है। अंजीर को रात को भ‍िगोकर रख दें। सुबह खाली पेट चबाकर खाएं। इसके बाद पानी पी लें। 

कसरत करें 

exercise for vagina

व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज के पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे व‍िटाम‍िन डी (vitamin D) की कमी। व‍िटाम‍िन डी की कमी पूरी करने के ल‍िए आप रोजाना सुबह वॉक करें। कसरत भी होगी और व‍िटाम‍िन डी भी शरीर को म‍िलेगा। इसके अलावा आपको व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए रोजाना कसरत, मेड‍िटेशन पर गौर करना चाह‍िए। इस दौरान इंटेंस वर्कआउट करने से बचें।      

पीर‍ियड्स में पैड बदलती रहें 

व्‍हाइट ड‍िस्‍चार्ज की समस्‍या से जूझ रही हैं, तो आपको इसका इलाज हाइजीन को बरकरार रखकर ही म‍िलेगा। पीर‍ियड्स (periods) के दौरान एक ही पैड को ज्‍यादा समय तक न इस्‍तेमाल करें। कॉटन पैंटी पहनें। साफ अंडरव‍ियर पहनें। इन बातों का ख्‍याल रखेंगी, तो इंफेक्‍शन को दूर करने में मदद म‍िलेगी।        

रोजाना 2 से 3 लीटर पानी प‍िएं 

पानी का सेवन करने से सफेद ड‍िस्‍चार्ज (white discharge) की समस्‍या को कम क‍िया जा सकता है। आपको रोजाना 10 से 12 ग‍िलास पानी पीना चाह‍िए। ये मात्रा 2 से 3 लीटर के बराबर होती है। इसके अलावा संतुलि‍त आहार लें, मेड‍िटेशन करें। एक से ज्‍यादा पार्टनर के साथ संबंध बनाने से भी ये समस्‍या बढ़ सकती है इसल‍िए एहत‍ियात बरतें।

इस लेख में बताए तरीकों को अपनाने से सफेद पानी आने की समस्‍या से छुटकारा म‍िलेगा। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।  

Disclaimer