भूख बढ़ाने के लिए घरेलू नुस्खे: आयुर्वेदिक एक्सपर्ट से जानें सर्दियों में भूख बढ़ाने के लिए 3 आसान रेसिपीज

लगातार भूख न लगना स्वास्थ्य से जुड़ी गंभीर परेशानी का संकेत हो सकती है। इसलिए इसे नजरअंदाज न करें। पर अगर ये आम समस्या है, तो घरेलू नुस्खों को आजमाएं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Dec 18, 2020
भूख बढ़ाने के लिए घरेलू नुस्खे: आयुर्वेदिक एक्सपर्ट से जानें सर्दियों में भूख बढ़ाने के लिए 3 आसान रेसिपीज

भूख कम लगना या ज्यादा लगना, आपके मेटाबोलिज्म से जुड़ा हुआ होता है। अगर आपको भूख कम लगती है, तो ये आपके खराब पाचनतंत्र का संकेत हो सकता है। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के मानसिक और शारीरिक बीमारी भी भूख की कमी का कारण बनते हैं। साथ ही लंबे समय तक भूख न लगना आपको कमजोर बना सकता है। भूख की कमी को दूर करने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में जानने के लिए हमने गाजियाबाद में आयुर्वेदा क्लिनिक के एक्सपर्ट आचार्य राहुल चतुर्वेदी से भी बात की। आचार्य राहुल चतुर्वेदी की मानें, तो आपका पाचनतंत्र ही भूख से जुड़े सभी परेशानियों का कारण है। अगर आपको पेट में कब्ज रहती है या आपका लिवर सही नहीं है, तब भी आपको भूख नहीं लगेगी। सर्दियों में आप भूख बढ़ाने के लिए आप इन 3 घरेलू नुस्खों (natural remedies to increase appetite)का इस्तेमाल कर सकते हैं, जो कि इम्यूनिटी बूस्टर भी हैं।

insidelossofappetite

भूख बढ़ाने के उपाय- natural remedies to increase appetite

1.आंवले की चटनी

सामग्री

  • -250 ग्राम आंवला (साबुत)
  • -25 ग्राम अश्वगंधा 
  • -25 ग्राम विदारीकंद
  • -25 ग्राम वसाका 
  • -25 ग्राम लौंग
  • -50 ग्राम घी
  • -5 ग्राम इलायची
  • -5 ग्राम काली मिर्च
  • -5 ग्राम सफेद मिर्च
  • -शहद
  • -केसर
  • -100 ग्राम चीनी
insidealmachutney

चटनी बनाने की विधि

  • -2 किलो पानी में आंवला, अश्वगंधा, विदारीकंद, वसाका और लौंग डाल के  2 घंटे तक पका लें।
  • -अब आंवले को धो कर बीज निकाल लें और फिर इसे ददरा पीस लें।
  • -अब इसे 50 ग्राम घी में डाल कर भूनें।
  • -घी जब छोड़ने लगे तो इसमें 5 ग्राम इलायची, काली मिर्च और सफेद मिर्ची को पीस कर इसमें मिला लें।
  • -अब इसमें शहद मिला लें और अगर आप इसे मीठा करना चाहते हैं तो 100 ग्राम चीनी मिला लें।
  • -अब केसर मिला लें और गैस बंद कर दें। तैयार हो गई आपके आंवले की चटनी।

आंवले की चटनी के फायदे

इस आंवले की चटनी को आपको रोज सुबह और शाम 1 चम्मच खाना है। इसे खाने से जहां आपकी भूख बढ़ेगी, वहीं इसमें मौजूद प्रोटीन और फाइबर भी आपके शरीर को ऊर्जा पहुंचाएगा। साथ ही आंवला हृदय संबंधी जोखिमों को कम करेगा। ये लिपिड को कम करने के साथ ही बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को भी कम करने में सहायता कर सकता है। 

इसे भी पढ़ें : आपके अच्छी सेहत के लिए फायदेमंद हैं ये 5 हाई कैलोरीज वाले फूड्स, वजन भी नहीं बढ़ाते और देते हैं एनर्जी

2.बादाम पाक 

बादाम पाक सर्दियों के लिहाज से भी काफी इम्यूनिटी बूस्टर चीज है। ऐसा इसलिए कि ये ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करते हैं और इम्यूनिटी बूस्ट करते हैं। इसके अलावा ये पाचन तंत्र को सही करते हैं और मेटाबोलिज्म को तेज करके भूख बढ़ाते हैं। साथ ही बादाम पाक आपके लिवर फंक्शन को भी तेज करते हैं, जो कि भूख बढ़ाने के लिए बेहद जरूरी है। बादाम पाक घर में बनाने के लिए 

सामग्री

  • -250 ग्राम बादाम को भून लें।
  • - बादाम को पीस लें।
  • -फिर इसमें शहद मिला लें।
  • -अब रोज सुबह और शाम इसे खा लें।
insidebadampak

इसे भी पढ़ें : नहीं आती अच्छी नींद? डायटीशियन स्वाती बाथवाल से जानें 5 फूड्स और रेसिपीज, जो नींद लाने में करेंगी मदद

3.छुहारा

सर्दियों में छुहारा खाना शरीर को गर्म करता है। छुहारा में भरपूर मात्रा में विटामिन ए और बी पाया जाता है। जो कि आपके शरीर  के लिए काफी फायदेमंद है। प्रति 100 ग्राम खजूर के सेवन से 283 कैलोरी ऊर्जा मिलती है। इसमें अच्छा खासा प्रोटीन होता है जो मसल्स बिल्डिंग में मदद करता है। इसमें ग्लूकोज, फ्रक्टोज की मात्रा अधिक होती है। ऐसे में इससे बॉडी को फौरन एनर्जी मिलती है। खास बात ये है कि छुहारा खाना भूख बढ़ाने के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ये मेटाबोलिज्म को तेज करता है और भूख को ट्रिगर करता है। छुहारा खाने के लिए 

  • -1 केजी छुहारा को आधा केजी शहद में मिला कर रख लें।
  • -इसमें से 1 छुहारा सुबह खाएं और एक छुहारा शाम को खाएं।

इन नुस्खों के अलावा भूख तेज करने के लिए आप अदरक, काली मिर्च, इलायची और सौंफ आदि का सेवन भी कर सकते हैं। एक बात का और ध्यान रखें कि पेट साफ रखने के लिए खूब पानी पिएं, इससे शरीर की गंदगी डिटॉक्स होती रहेगी। पर अगर आपको लंबे समय तक भूख की कमी से जुड़ी परेशानी रहती है और साथ में कुछ और स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या होती हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer