पैरों में बेचैनी का कारण हो सकती है शरीर में इन 4 विटामिन की कमी, जानें इससे छुटकारा पाने का उपाय

पैरों में बेचैनी का कारण:   शरीर में इन कुछ विटामिन की कमी के कारण पैरों में बेचैनी महसूस हो सकती है। आइए जानते हैं इससे बचाव का उपाय। 

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 26, 2022Updated at: Jan 26, 2022
पैरों में बेचैनी का कारण हो सकती है शरीर में इन 4 विटामिन की कमी, जानें इससे छुटकारा पाने का उपाय

पैरों में बेचैनी के कई कारण हो सकते हैं। सबसे पहले तो ज्यादातर लोगों को ये रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम के कारण हो सकता है। इसके अलावा कई बार डायबिटीज और मानसिक बीमारियों के कारण भी लोगों को पैरों में बेचैनी होती है।  पर क्या आपने कभी इस बात पर ध्यान दिया है कि शरीर में विटामिन की कमी भी पैरों में बेचैनी का कारण बन सकती है।  जी हां, कई बार शरीर में कुछ विटामिन की कमी भी पैरों में बेचैनी का कारण बन सकती है। दरअसल, जब शरीर में कुछ खास विटामिन की कमी होती है तो इसका असर कमजोरी और मसल्स क्रैंप्स के रूप में होता है। इस वजह से आपके पैरों में लगातार बेचैनी महसूस होती है। ऐसे में आपको इन परेशानी से बचने के लिए इनके बारे में जानना चाहिए और इनसे भरपूर फूड्स का सेवन करना चाहिए। 

inside_paironmedrd

विटामिन की कमी से पैरों में बेचैनी

1. विटामिन बी-12

विटामिन बी12 ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद करता है। ये रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम को कम करता है और पैरों में होने वाली बेचैनी से आराम दिलाता है। आप विटामिन बी को मूंगफली, बीन्स, दाल और पालक जैसे चीजों को खा कर पा सकते हैं। ये सीधे आपके शरीर में एनर्जी लाता है और इस बेचैनी को दूर करता है। 

इसे भी पढ़ें : शरीर में विटामिन C की कमी से हो सकती हैं ये 6 समस्याएं, डॉक्टर से जानें कैसे करें इस विटामिन की कमी पूरी

2. विटामिन सी कमी कमी

विटामिन सी का हमारे शरीर में कई काम है। विटामिन सी वास्तव में आपके शरीर को आयरन को बेहतर तरीके से अवशोषित करने में भी मदद करता है और आयरन की कमी को दूर करते ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता है। दरअसल, आयरन की कमी के कारण शरीर में खून की कमी होने लगती है जिससे ब्लड सर्कुलेशन में दिक्कत आ जाती है। इससे पैरों की बेचैनी बढ़ती है। इसलिए आपको इस चीज से बचने के लिए विटामिन सी से भरपूर फूड्स का सेवन करना चाहिए। जैसे कि 

  • -खट्टे फल, जैसे संतरे
  • -मिर्च
  • -आलू
  • -स्ट्रॉबेरीज
  • -ब्रॉकली
  • -ब्रसल स्प्राउट
inside_vitaminc

3. विटामिन डी की कमी

विटामिन डी एक अत्यंत महत्वपूर्ण विटामिन है जो आपके पूरे शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्य करता है। अन्य विटामिनों के विपरीत, विटामिन डी एक हार्मोन की तरह कार्य करता है। आपके शरीर की कई कोशिकाओं में इसके लिए एक रिसेप्टर होता है। आपका शरीर इसे कोलेस्ट्रॉल से बनाता है जब आपकी त्वचा सूरज की रोशनी के संपर्क में आती है। पर जब आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो आपके पैरों में बेचैना हो सकती है।  साथ ही ये मांसपेशियों का तनाव भी बढ़ा सकता है। ऐसे में आपको विटामिन डी से भरपूर इन फूड्स का सेवन करना चाहिए। जैसे कि

  • -फैटी फिश 
  • -अंडे की जर्दी
  • -मोटे अनाज
  • -दही

इसे भी पढ़ें : इम्यूनिटी मजबूत करने के लिए जरूरी है कार्डियो रेस्पिरेटरी फिटनेस, जानें क्या है ये

4. विटामिन ई

विटामिन ई ब्लड वेसेल्स के स्वास्थ्य और धमनियों के ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद करता है। दरअसल, जब आपके ब्लड वेसेल्स हेल्दी नहीं होते तो, आपका ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित रहता है। इससे आपके पैरों में रह-रह कर बेचैनी होती है। इसलिए आपको इस स्थिति में विटामिन ई से भरपूर चीजों को सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप इन फूड्स का सेवन कर सकते हैं। जैसे कि

  • -कद्दू और सूरजमुखी के बीज
  • -बादाम और मूंगफली
  • -पीनट बटर
  • -चुकंदर का साग
  • - पालक
  • -लाल शिमला मिर्च

इस तमाम चीजों के अलावा अगर आपको पैरों में बेचैनी से बचना है तो आपको शरीर में डोपामाइन की कमी से भी बचना चाहिए। क्योंकि डोपामाइन ब्लड वेसेल्स को हेल्दी रखता है। इसके अलावा एक्सरसाइज ना करने से भी पैरों में बेचैनी हो सकती है। क्योंकि एक्सरसाइज ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाती है और पैरों में बेचैनी को कम करती है। साथ ही इससे आपको पैर भी हेल्दी रहते हैं। साथ ही डायबिटीज के मरीजों को अपने पैरों से जुड़ी की समस्याओं को खास ध्यान देना चाहिए और डायबिटीज कंट्रोल करने की कोशिश करनी चाहिए। 

all images credit: freepik

Disclaimer