सर्दियों में ब्लड क्लॉटिंग (नसों में खून जमने) से बचने के लिए पिएं ये 5 तरह के जूस, जानें फायदे

सर्दियों में ब्लड क्लॉटिंग की समस्‍या से बचने के ल‍िए आप ये 5 तरह के जूस का सेवन कर सकते हैं, इनके फायदे जान लें 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 29, 2021 15:06 IST
सर्दियों में ब्लड क्लॉटिंग (नसों में खून जमने) से बचने के लिए पिएं ये 5 तरह के जूस, जानें फायदे

सर्द‍ियों के द‍िनों में ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग का खतरा सबसे ज्‍यादा होता है। ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग यानी खून के थक्‍के जमने की समस्‍या से हार्ट अटैक आने का खतरा बढ़ जताा है। इस समस्‍या से बचने के ल‍िए आपको ठंड के द‍िनों में अपनी डाइट में कुछ हेल्‍दी जूस को एड करना चाह‍िए। ये आपकी सेहत को अच्‍छा तो रखेंगे ही साथ ही आपकी बॉडी को ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग की समस्‍या से भी बचाएंगे। ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग की समस्‍या से बचने के ल‍िए आपको अपनी डाइट में व‍िटाम‍िन के र‍िच वेज‍िटेबल और फ्रूट्स को शाम‍िल करना चाहि‍ए। ज्‍यादातर हरी सब्‍ज‍ियों में व‍िटाम‍िन के पाया जाता है जैसे पालक आपको ठंड के द‍िनों में पालक के जूस का सेवन करना चाह‍िए। अन्‍य 5 तरह के जूस के बारे में हम आगे लेख में जानेंगे।

spinach juice

image source:tasteofhome

1. पालक का जूस (Spinach juice)

पालक के जूस में व‍िटाम‍िन के मौजूद होता है। व‍िटाम‍िन K को फैट-सॉल्‍यूबल व‍िटाम‍िन माना जाता है यानी ये खून को गाढ़ा होने से रोकता है ज‍िससे ब्‍लड फ्लो ठीक तरह से हो पाता है और खून के थक्के बनने की समस्‍या नहीं होती। ये जूस हार्ट और शरीर के बाक‍ि अंगों के ल‍िए भी फायदेमंद माना जाता है। इससे ब्‍लड सर्कुलेशन भी बेहतर रहता है। पालक का जूस बनाने के ल‍िए आप पालक को काटकर म‍िक्‍सी में डालकर चला दें, जो रस न‍िकलें उसमें जीरा पाउडर, सेंधा नमक डालकर प‍िएं।

इसे भी पढ़ें- गर्म तासीर वाले फल और सब्जियां कौन-से हैं? एक्सपर्ट से जानें सर्दियों में क्यों करना चाहिए इनका सेवन

2. पुदीने का जूस (Mint juice)

आप अपनी डाइट में पुदीने का जूस भी शाम‍िल कर सकते हैं। पुदीने का सेवन करने से ब्‍लड वैसल्‍स स‍िकुड़ने से बचती हैं और बीपी की समस्‍या भी दूर होती है। पुदीने का सेवन करने से कोलेस्‍ट्रॉल भी कंट्रोल में रहता है और ब्‍लड फ्लो बेहतर रहता है। पुदीने की तासीर ठंडी होती है इसल‍िए इसे आप ताजी हरी सब्‍ज‍ियों के साथ म‍िक्‍स करके प‍िएं और सुबह के समय प‍िएंगे तो ज्‍यादा लाभदायक होगा।

3. संतरे का जूस (Orange juice)

आप ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग की समस्‍या से बचने के ल‍िए संतरे के जूस का सेवन भी कर सकते हैं। संतरे के रस में एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं, इससे ब्‍लड क्‍लॉट, हार्ट से जुड़ी बीमार‍ियों का खतरा कम होता है। ठंड के द‍िनों में संतरे का रस पीने से इम्‍यून‍िटी भी बनी रहती है और आप आसानी से बीमार भी नहीं पड़ते हैं। संतरे का रस न‍िकालने के लि‍ए संतरे को छीलकर उसका रस न‍िकाल लें और सुबह नाश्‍ते के साथ एक ग‍िलास प‍िएं।

इसे भी पढ़ें- Food Trends for 2022: इन 7 सुपरफूड्स के साथ करें नए साल की हेल्दी शुरुआत

4. अदरक का जूस (Ginger juice)

ginger juice

image source:tasteofhome

आप अदरक के जूस का सेवन भी ठंड के द‍िनों में कर सकते हैं। अदरक के जूस को पीने से सर्दी-खांसी आद‍ि की समस्‍या दूर होती है। इसके अलावा इस जूस को पीने से ब्‍लड वैसल्‍स ब्‍लॉक होने से बचेंगे और खून के थक्‍के बनने की समस्‍या नहीं होगी। अदरक का जूस बनाने के लि‍ए ताजे अदरक को छीलकर उसका रस न‍िकाल लें, रस में आप नींबू का रस और काली म‍िर्च डालकर पी सकते हैं।

5. गाजर का जूस (Carrot juice)

गाजर के जूस में नाइट्रेट होता है, इससे ब्‍लड का फ्लो बेहतर होता है। ब्‍लड वैसल्‍स को खोलने के ल‍िए ये एक अच्‍छा व‍िकल्‍प है। गाजर में बेटा कैरोटीन की भी मात्रा मौजूद होती है। इससे ब्‍लड वैसल्‍स क्‍लीन होती हैं। हार्ट के मरीजों को इस जूस का सेवन जरूर करना चाह‍िए। गाजर का जूस बनाने के ल‍िए आप ताजे गाजर को लें और उसे म‍िक्‍सी में डालकर पीस लें, अब जो रस न‍िकले उसे छानकर ग‍िलास में न‍िकाल लें, इसमें आप नींबू का रस म‍िलाकर पी सकते हैं।

ठंड के द‍िनों में आप ब्रोकली का जूस, पत्‍तागोभी या गोभी का रस न‍िकालकर भी पी सकते हैं, ब्‍लड क्‍लॉट‍िंग की समस्‍या से बचने के ल‍िए ये भी अच्‍छे व‍िकल्‍प माने जाते हैं।

main image source:eatthis.com

Disclaimer