क्या ब्लड टेस्ट से भी पता चल सकता है बालों के झड़ने का कारण? जानें हेयर लॉस के लिए कुछ खास टेस्ट्स

अगर आपके बाल झड़ने की समस्‍या थम नहीं रही है तो आप बालों के ल‍िए कुछ खास ब्‍लड टेस्‍ट करवा सकते हैं, लेख के जर‍िए लें पूरी जानकारी

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Sep 08, 2021 16:15 IST
क्या ब्लड टेस्ट से भी पता चल सकता है बालों के झड़ने का कारण? जानें हेयर लॉस के लिए कुछ खास टेस्ट्स

बाल झड़ने की समस्‍या पुरुष और मह‍िला दोनों में ही होती है। मह‍िलाओं में ज्‍यादातर हार्मोनल चेंज के कारण बाल झड़ने की समस्‍या होती है वहीं पुरूषों में गंजेपन के कारण बाल झड़ने लगते हैं। बाल झड़ने के लक्षण नजर आने पर आपको तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहि‍ए। कुछ खास ब्‍लड टेस्‍ट के जर‍िए बाल झड़ने का कारण पता क‍िया जा सकता है। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने ओम स्किन क्लीनिक, लखनऊ के वरिष्ठ कंसलटेंट डर्मेटोलॉज‍िस्‍ट डॉ देवेश मिश्रा से बात की। डॉ देवेश ने बताया क‍ि हमारे पास कई ऐसे केस आते हैं ज‍िनमें मह‍िलाएं या पुरूष बाल झड़ने की समस्‍या से परेशान होते हैं पर पहले तो आपको ये समझना है क‍ि हर क‍िसी के बाल द‍िन भर में झड़ते हैं, अगर एक द‍िन में आपके 100 बाल टूटे हैं तो ये सामान्‍य स्‍थ‍ित‍ि पर अगर इससे ज्‍यादा बाल झड़ रहे हैं तो आपको बाल झड़ने की शिकायत हो सकती है। इस बीमारी का पता लगाने के लि‍ए कुछ ब्‍लड टेस्‍ट क‍िए जाते हैं ज‍िनकी जानकारी आपको आगे म‍िलेगी।

harmonal test

(image source:utahfertility)

1. हार्मोन टेस्‍ट (Hormone test)

हार्मोन टेस्‍ट के जर‍िए बाल झड़ने का कारण पता क‍िया जाता है। कई हार्मोन जैसे प्रोलेक्‍ट‍िन‍, टेस्‍सटोस्‍ट‍िरोन, डीएचईए के घटने-बढ़ने से बालों पर असर पड़ता है इसलिए बाल झड़ने की समस्‍या का कारण पता करने के लि‍ए डॉक्‍टर हार्मोन टेस्‍ट करते हैं।

2. स‍िरम आयरन टेस्‍ट (Serum Iron test) 

स‍िरम आयरन टेस्‍ट के जर‍िए भी हेयरफॉल का कारण पता चल सकता है। बालों में अगर क‍िसी तरह की बीमारी है तो इस टेस्‍ट के जर‍िए उसका पता लगाया जा सकता है। आप अपने डॉक्‍टर की सलाह लेकर ये टेस्‍ट करवा सकते हैं। इन टेस्‍ट के अलावा डॉक्‍टर आपको फॉस्‍फोरस, स‍िरम, कैल्‍श‍ियम की जांच करवाने के ल‍िए कह सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- हेल्दी बालों के लिए घर पर बनाएं चिरौंजी का तेल, जानें फायदे

3. थायराइड टेस्‍ट (Thyroid test) 

thyroid test

(image source:womenshealthnetwork.com)

थायराइड की बीमारी होने के कारण भी हेयरफॉल हो सकता है इसल‍िए आपको थायराइड की जांच करवानी चाह‍िए। थायराइड होने के बाद कई मरीज हेयरफॉल की श‍िकायत करते हैं क्‍योंक‍ि हार्मोन्‍स में बदलाव आता है ज‍िसके कारण बाल झड़ सकते हैं। 

4. सीबीसी टेस्‍ट (CBC test) 

सीबीसी टेस्‍ट यानी कम्‍प्‍लीट ब्‍लड काउंट। सीबीसी की जांच से भी हेयर फॉल का कारण पता लगाया जाता है तो अगर आपके बाल ज्‍यादा झड़ रहे हैं तो आप सीबीसी टेस्‍ट करवा सकते हैं। 

5. वीडीएल टेस्‍ट (VDL test) 

स‍िप्‍ल‍िस बीमारी के कारण भी बाल झड़ने की समस्‍या होती है, इसका पता लगाने के ल‍िए वीडीएल टेस्‍ट क‍िया जाता है। कुछ डॉक्‍टर हेयर पुल मेथड के जर‍िए भी बाल झड़ने का कारण पता लगाते हैं। हेयर पुल डॉक्‍टर द्वारा क‍िए जाने वाला एक फ‍िजिकल टेस्‍ट है ज‍िससे डॉक्‍टर बालों की जड़ चेक करते हैं क‍ि क‍ितने बाल एक बार में हाथ में आ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें- स्वस्थ बालों के लिए इस्तेमाल करें बाओबाब का तेल, जानें इसके 5 फायदे

बाल झड़ने की समस्‍या को रोकने के नैचुरल उपाय (Natural ways to get rid of hairfall)

  • प्‍याज का रस बालों के ल‍िए फायदेमंद होता है, बाल झड़ने की समस्‍या से बचने के लिए आप बालों में प्‍याज का रस लगा सकते हैं। 
  • रोजमेरी ऑयल, कोकोनट ऑयल, लैवेंडर ऑयल बालों की ग्रोथ के ल‍िए फायदेमंद माने जाते हैं, आपको इस तेलों से स‍िर पर हफ्ते में दो से तीन बार माल‍िश करनी चाह‍िए।
  • बाल झड़ने की समस्‍या से परेशान हैं तो आप अपनी डाइट में आंवला एड करें। आंवले से हेयरफॉल रुकता है और आंवला बालों के लि‍ए फायदेमंद होता है। 
  • बाल झड़ने की समस्‍या से बचने के लि‍ए आपको अपने रूटीन में योगा को एड करना चाह‍िए। फ‍िश पोज, शोल्‍डर स्‍टैंड, कैमल पोज आद‍ि योगासन बालों को झड़ने से रोकने में मदद करते हैं। 

बाल झड़ने की समस्‍या के लक्षण नजर आने पर आपको सबसे पहले अपने डॉक्‍टर से संपर्क करना चाह‍िए वो आपको इसका सही इलाज बताएंगे। 

(main image source:shopify,wikimedia)

Read more on Hair Care in Hindi 

Disclaimer