क्या वाकई पैरों को डिटॉक्स करते हैं फुट पैड्स? जानें सच्चाई

पैरों को डिटॉक्स करने के लिए आजकल बाजार में फुट पैच आते हैं। लेकिन क्या वे वाकई फायदेमंद होते हैं? जानें क्या है इन फुट पैच के दावों की हकीकत।

सम्‍पादकीय विभाग
त्‍वचा की देखभालWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Feb 27, 2020Updated at: Feb 27, 2020
क्या वाकई पैरों को डिटॉक्स करते हैं फुट पैड्स? जानें सच्चाई

शरीर से गंदगी और हानिकारक टॉक्सिन्स को बाहर निकालने की प्रक्रिया को डिटॉक्स कहते हैं। पैरों की डिटॉक्स करने के लिए आजकल डिटॉक्स फुट पैड का इस्तेमाल किया जाता है। पिछले कुछ समय में इसका प्रचलन काफी बढ़ गया है। फुट पैड या फुट पैच (patches) का इस्तेमाल पैरों के तलवे पर किया जाता है जिससे वो शरीर से टॉक्सिन निकालने में मदद करते हैं। लेकिन सवाल ये पैदा होता है कि क्या ये वाकई उतने ही कारगर होते हैं? क्या सच में इसका इस्तेमाल फायदेमंद होता है? क्या है फुट डिटॉक्स करने के घरेलू तरीके आइए जानते हैं। 

फुट डिटॉक्स पैड का इस्तेमाल क्या वाकई है फायदेमंद? 

फुट डिटॉक्स पैड्स आजकल बाज़ार में कई ब्रैंड्स उपलब्ध करवाते हैं। इन पैड्स को पैरों के तलवे पर करीब 6 घंटे तक अच्छी तरह से लगा कर रखना होता है। जब आप रात को इन पैड्स को पैरों पर लगाकर सोते हैं तो सुबह इनका रंग बदल जाता है।  दावा किया जाता है कि ऐसा शरीर से निकलने वाले हानिकारक टॉक्सिन्स के कारण होता है। लेकिन अगर आप इन पर थोड़ा सा पानी डाल दें तो भी ये रंग बदल जाता है ऐसे में बहुत से डॉक्टर्स ये नहीं मानते की फुट पैड्स में शरीर के टॉक्सिन्स निकल जाते हैं। इसको लेकर किसी तरह का साइंटिफिक रिसर्च भी अभी तक सामने नहीं आया है। कुछ डॉक्टर्स का मानना है की इन पैड्स का रंग बदलता है पसीने के कारण। साथ ही फुट पैड्स का इस्तेमाल करने से किसी तरह का फायदा होता है इसके लिए भी अभी कोई रिसर्च सामने नहीं आया है। हालांकि इनको इस्तेमाल करने से कोई नुकसान नहीं है लेकिन ये मंहगे होते हैं जो सिर्फ खर्चे को बढ़ाते हैं क्योंकि वैज्ञानिकों ने इनका कोई स्वास्थ्य लाभ नहीं बताया है। 

घरेलू उपायों से ही कैसे करें पैरों को डिटॉक्स

 1.ऑक्सीजन डिटॉक्स से करें पैरों को डिटॉक्स

पैरों को ऑक्सीजन डिटॉक्स करने के लिए गर्म पानी को टब में भरें और उसमें हाइड्रोजन परॉक्साइड के 2 कप और एक चम्मच सूखी अदरक का पाउडर डालें। इस पानी में पैरों को डालकर 1 घंटा रिलैक्स होकर बैठ जाएं। इससे आपके पैरों से सारे टॉक्सिन्स निकल जाते हैं और पैर डिटॉक्स हो जाते हैं। 

इसे भी पढ़ें: हमेशा दिखना चाहते हैं सुंदर? जानें घर पर कैसे करें त्वचा की देखभाल और इसको अपनाने का तरीका

2. क्ले बाथ करता है पैरों को डिटॉक्स

बेंटोनाइट क्ले में नेचुरल क्लीनर के गुण मौजूद होते हैं। गर्म पानी में 2 चम्मच बेंटोनाइट क्ले एक कप सेंधा नमक, एक चम्मच एप्पल साइडर वेनेगर और एसेंशियल ऑयल की कुछ बूंदे डालें और इस मिश्रण में 10-15 मिनट तक पैर डालकर बैठे रहें। इससे पैरों में से सभी टॉक्सिन्स निकल जाते हैं। 

3.लेमन डिटॉक्स

एक टब में गर्म पानी और एक कप नींबू का रस डालें। इसमें एक चम्मच ऑलिव ऑयल और एक चौथाई कप दूध डालें और पैरों को इसमें सॉक होने दें। इससे फुट डिटॉक्स तो होता ही साथ ही पैरों की त्वचा को भी पोषण मिलता है इसलिए लेमन डिटॉक्स करना फायदेमंद होता है। 

इसे भी पढ़ें: आप भी मॉइश्चराइजर का करते हैं इस्तेमाल? तो जान लें मॉइश्चराइजर का ओवर डोज हो सकता है आपके लिए हानिकारक

4.नमक करता है फुट डिटॉक्स

साधारण सेंधा नमक पैरों को डिटॉक्स करने के लिए काफी फायदेमंद होता है साथ ही यह शरीर को रिलैक्स भी करता है। अगर आपके पैरों को कोई फोड़ा या किसी तरह का संक्रमण नहीं है तो आप इस विधि का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक टब में गर्म पानी डालें और उसमें दो कप सेंधा नमक डालकर आराम से पैरों को रिलैक्स करने दें। कम से कम 20-40 मिनट तक आपको इस डिटॉक्स को करना है पैरों से टॉक्सिन्स निकालने का ये आसान और सस्ता उपाय है। 

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer