इस वजह से आपको रात में भी करना चाहिए एक्‍सरसाइज़

वर्कआउट के लिए समय निकालना किसी जद्दोजहद से कम नहीं है।ऐसी स्थिति में आप चाहें तो रात के समय को चुन सकते हैं।अब आप सोच रहे होंगे कि रात को वर्कआउट कर क्या उतने ही फायदे हासिल हो सकते हैं जितने सुबह करने से हासिल होते हैं? यह जानने के लिए आगे पढि़य

Meera Roy
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Meera RoyPublished at: Aug 31, 2017
इस वजह से आपको रात में भी करना चाहिए एक्‍सरसाइज़

सामान्यतः लोग सुबह ही वर्कआउट करने को तरजीह देते हैं। इसमें कुछ गलत भी नहीं है। सेहत के लिहाज से यह बेहतर भी है। लेकिन देखा जाए तो इन दिनों समय के अभाव से हर कोई बावस्ता है। ऐसे में वर्कआउट के लिए समय निकालना किसी जद्दोजहद से कम नहीं है। सवाल है ऐसी स्थिति में क्या किया जाना चाहिए? ऐसी स्थिति में आप चाहें तो रात के समय को चुन सकते हैं।अब आप सोच रहे होंगे कि रात को वर्कआउट कर क्या उतने ही फायदे हासिल हो सकते हैं जितने सुबह करने से हासिल होते हैं? यह जानने के लिए आगे पढि़ये।

  • इंग्लैंड के बर्मिंघम विश्वविद्यालय द्वारा हुए अध्ययन के मुताबिक देर रात जगने वालों के लिए रात का समय अनुकूल है। दरअसल इस समय वे पूरे लगन से वर्कआउट करते हैं। वे किसी भी तरह की हड़बड़ी में नहीं होते। अतः वर्कआउट करने में पूरा ध्यान देते हैं।

इसे भी पढ़ें- सात मिनट के वर्कआउट से घटायें वजन

  • इतना ही नहीं वर्कआउट करते हुए वे अतिरिक्त मेहनत भी करते हैं क्योंकि उन्हें पता होता है कि इसके बाद उन्हें आराम करना है। मतलब साफ है कि निश्चित मन से रात को वर्कआउट करने वाले ज्यादा फोकस होते हैं। नतीजतन इसका उनकी सेहत पर गहरा असर देखने को मिलता है। साथ ही रात
  • शोध के मुताबिक शाम के समय मांसपेशियों में सुबह की तुलना में ज्यादा ताकत होती है और ये बेहतर ढंग से काम करने में सक्षम होते हैं। साथ ही शाम के समय हारमोन में तब्दीलियां भी होती है। नतीजतन रात को वर्कआउट करने से हमारा शरीर तेजी से टोन-अप होता है। हालांकि सुबह कोर्टिसोल का स्तर ज्यादा होता है जिससे मसल को सुरक्षित किया जा सकता है। लेकिन शाम को टेस्टोस्ट्रोन में इजाफा होता है। नतीजतन इससे शरीर में फुर्ती आती है। अतः शरीर को टोन-अप होने में मदद मिलती है।

इसे भी पढ़ें- 20 मिनट के इस वर्कआउट से घर पर बनाए मसल्स

  • रात को वर्कआउट के बाद आप बेहतर नींद भी हासिल कर सकते हैं। असल में मौजूदा समय में शारीरिक कामकाज न के बराबर रह गया है। ऐसे में यदि रात को वर्कआउट किया जाए तो इसका असर नींद पर भी देखने को मिलता है। अध्ययन के मुताबिक जो लोग जितनी मेहनत से वर्कआउट करते हैं, उन्हें उतनी ही बेहतर नींद आती है।
  • वैसे यदि आप अकसर नींद न आने की शिकायत करते हैं तो अच्छी नींद के लिए रात को रनिंग यानी दौड़ का सहारा भी ले सकते हैं। जितना ज्यादा दौड़ेंगे, शरीर उतना ही थकान महसूस करेगा। परिणामस्वरूप आप जल्द नींद की आगोश में खो जातें है।

 


इन दिनों लोग वर्कआउट करने हेतु रात के समय को चुन रहे हैं। अगर कहा जाए कि रात को वर्कआउट करना एक चलन की तरह उभर रहा है तो गलत नहीं है।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Sports and Fitness in  Hindi

Disclaimer