प्रेग्नेंसी के दौरान तनाव हो सकता है बच्चे के लिए घातक, स्ट्रेस दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं में अधिक तनाव का असर मां और बच्चे की सेहत पर पड़ता है, इस दौरान स्ट्रेस को दूर करने के लिए आप इन तरीकों को अपना सकते हैं।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 30, 2021Updated at: Jun 30, 2021
प्रेग्नेंसी के दौरान तनाव हो सकता है बच्चे के लिए घातक, स्ट्रेस दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के दौरान महिलाओं में तनाव की समस्या कई कारणों से हो सकती है। इस दौरान अधिक तनाव लेना पेट में पल रहे बच्चे की सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। गर्भावस्था के दौरान मां और बच्चे दोनों की सेहत के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होना जरूरी होता है। हमारे शरीर में एड्रेनालाईन और कार्टिसोल नामक हार्मोन के बढ़ने से तनाव और थकान की स्थिति पैदा होती है। अधिक स्ट्रेस लेने से आपकी सेहत तो बिगड़ती ही है लेकिन इसकी वजह से बच्चे की सेहत पर भी प्रतिकूल असर होता है। कई मामलों में अधिक तनाव मिसकैरेज की वजह भी बन जाता है। इसलिए जरूरी यह है कि प्रेग्नेंसी के दौरान खुद का और बच्चे का सही तरीके से ख्याल रखने के लिए तनाव से दूरी बनाई जाये। गर्भावस्था के दौरान होने वाले स्ट्रेस (Stress During Pregnancy) को दूर करने के लिए आप इन तरीकों को अपना सकती हैं।

गर्भावस्था के दौरान तनाव को दूर करने के लिए अपनाएं ये 8 तरीके (8 Ways to Relieve Stress During Pregnancy)

Tips-to-Relieve-Stress-During-Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान अधिक तनाव ग्रस्त होना सेहत के लिए नुकसानदायक तो होता ही है लेकिन इसकी वजह से प्रसव में भी कई समस्याएं हो सकती हैं। बहुत लंबे समय से तनाव झेल रही महिला को प्रेग्नेंसी के दौरान तनाव दूर करने के लिए इन तरीकों को ध्यान में रखना चाहिए।

1. नियमित व्यायाम (Regular Exercise)

Tips-to-Relieve-Stress-During-Pregnancy

प्रेग्नेंसी के दौरान नियमित रूप से व्यायाम करना फायदेमंद होता है। प्रेग्नेंसी के लिए व्यायाम के कई तरीके हैं आप स्ट्रेस और चिंता को दूर करने के लिए इन व्यायाम का नियमित अभ्यास कर सकती हैं। रोजाना एक्सरसाइज करने से आपकी मानसिक और शारीरिक सेहत पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। प्रेग्नेंसी के दौरान एक्सरसाइज के नियमित अभ्यास की सलाह चिकित्सक भी देते हैं। 

इसे भी पढ़ें: ये 5 गलतियां प्रेग्नेंसी में आप पर पड़ सकती हैं भारी, अच्छी सेहत चाहिए तो बरतें दूरी

2. उचित और संतुलित आहार का सेवन करें (Have Balanced Diet)

Tips-to-Relieve-Stress-During-Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस दौरान ऐसे किसी भी खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए जो सेहत के लिए नुकसानदायक माने जाते हैं। गर्भावस्था में शरीर के लिए फायदेमंद हरी सब्जियां, फल और प्रोटीन और विटामिन से युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए। आप प्रेग्नेंसी में तनाव को कम करने के लिए रेनबो डाइट का पालन भी कर सकती हैं। कुछ खाद्य पदार्थ जैसे ऑयली फूड, फास्ट फूड आदि का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। हमारी डाइट का सीधा प्रभाव हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है इसलिए स्ट्रेस को कम करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन गर्भावस्था में फायदेमंद होता है।

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में कौन सी मछली खाना सुरक्षित है और कौन सी नहीं? डॉक्टर से जानें पूरी लिस्ट

3. पर्याप्त आराम करना चाहिए (Take Proper Rest)

Tips-to-Relieve-Stress-During-Pregnancy

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको पर्याप्त आराम करने की जरूरत होती है। इस दौरान नींद का पूरा होना बेहद जरूरी माना गया है। चिकित्सक भी इस दौरान पर्याप्त आराम और नींद लेने की सलाह देते हैं। अगर आप इस दौरान पर्याप्त आराम और पर्याप्त नींद नहीं लेती हैं तो इसका सीधा असर आपके और पेट में पल रहे बच्चे की सेहत पर पड़ता है। नींद और आराम भी मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी कारक हैं। पर्याप्त नींद लेने से शरीर में हार्मोन का संतुलन बना रहता है और इस दौरान होने वाले तनाव से छुटकारा मिलता है। इसलिए हर गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दौरान पर्याप्त नींद लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: क्या प्रेग्नेंसी में चने (छोले) खाना सही है? जानें इसके सेवन से होने वाले फायदे और नुकसान

4. बिल्कुल न करें शराब का सेवन और धूम्रपान (Restrict Alcohol and Smoking)

Tips-to-Relieve-Stress-During-Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन और धूम्रपान बच्चे और मां दोनों के लिए बेहद नुकसानदायक होता है। शराब का सेवन करने से आपकी सेहत पर तो असर पड़ता ही है बल्कि यह आपके स्ट्रेस लेवल को बढ़ाने का भी काम करती है। गर्भावस्था के दौरान स्मोकिंग का असर बच्चे की सेहत पर भी होता है। इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान शराब के सेवन और धूम्रपान से दूरी बनाकर रखनी चाहिए।

5. स्ट्रेस की दिक्कत ज्यादा होने पर चिकित्सक से संपर्क करें (Take Expert Advise)

गर्भावस्था के दौरान अधिक स्ट्रेस लेने का असर मां और बच्चे दोनों पर पड़ता है। अगर इस दौरान तनाव का स्तर अधिक हो जाए तो इससे समय से पहले प्रसव, बच्चे के वजन का कम होना और मिसकैरेज की संभावना भी होती है। इसलिए ऐसी स्थिति में चिकित्सक की सलाह के अनुसार इलाज किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में कब जरूरी हो जाता है बेड रेस्ट? जानें डॉक्टर से

गर्भवती महिलाऐं ऊपर बताये गए तरीकों को अपनाकर गर्भावस्था के दौरान अपने स्ट्रेस लेवल को कम कर सकती हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान तनाव सेहत के लिए बेहद खतरनाक माना जाता है इसलिए इससे बचने के लिए नियमित एक्सरसाइज और उचित खानपान का सहारा लें।

Read more on Women Health in Hindi

Disclaimer