ये 5 गलतियां प्रेग्नेंसी में आप पर पड़ सकती हैं भारी, अच्छी सेहत चाहिए तो बरतें दूरी

प्रेग्नेंसी के दौरान लापरवाही या गलती के चलते आपकी सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है, इसल‍िए आपको गर्भावस्‍था में कुछ बातों का ध्‍यान रखना होगा 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 22, 2021Updated at: Jun 22, 2021
ये 5 गलतियां प्रेग्नेंसी में आप पर पड़ सकती हैं भारी, अच्छी सेहत चाहिए तो बरतें दूरी

मां बनना एक खूबसूरत अहसास है लेक‍िन कुछ गलत‍ियों के चलते आपके इन लम्‍हों में खलल पड़ सकती है। गर्भस्‍थ श‍िशु और होने वाली मां के ल‍िए प्रेग्नेंसी के दौरान छोटी सी गलती या लापरवाही भी बड़ी परेशानी का कारण बन सकती है इसल‍िए आपको इस नाजुक दौर में कई बातों का ध्‍यान रखना है जैसे कसरत अवॉइड न करें, कुछ महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान कम खाती है वहीं कुछ ज्‍यादा डाइट ले लेती हैं पर दोनों ही स्‍थ‍ित‍ि सही नहीं है। आपको प्रेग्नेंसी के दौरान बैलेंस डाइट लेनी है। प्रेग्नेंसी में कुछ मह‍िलाएं कसरत अवॉइड करती हैं पर ये आपको सेहतमंद रखने के ल‍िए जरूरी है। इसके अलावा आपको प्रेग्नेंसी के दौरान खुद से दवा लेना या गलत पॉश्‍चर में सोना भी अवॉइड करना है। प्रेग्नेंसी के दौरान इन्‍हीं छोटी लापरवाही या गलतियों के बारे में जानने के ल‍िए पूरा लेख पढ़ें। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के मह‍िला अस्‍पताल झलकारीबाई की गाइनोकॉलोजिस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।

self medication

1. प्रेग्नेंसी के दौरान खुद से दवाओं का सेवन करना (Avoid self medication during pregnancy)

प्रेग्नेंसी में सेल्‍फ मेड‍िकेशन क्‍यों नहीं करना चाह‍िए? प्रेग्नेंसी के दौरान मह‍िलाएं खुद से दवाएं खाने की गलती कर बैठती हैं ज‍िसके बाद उन्‍हें जी म‍िचलाना, उल्‍टी, स‍िर दर्द, घबराहट आद‍ि की श‍िकायत हो सकती है। आम व्‍यक्‍त‍ि को भी ब‍िना डॉक्‍टर की सलाह ल‍िए दवाएं नहीं लेनी चाह‍िए पर गर्भावस्‍था में आपको खास ख्‍याल रखना है क‍ि आप क‍िसी की बताई हुई दवा या खुद से कोई दवा चुनकर न खाएं। अगर दो गर्भवती मह‍िलाएं हैं तो दोनों की बॉडी के अनुसार दवा की डोज़ अलग होगी इसल‍िए क‍िसी सहेली या ऐसी मह‍िला जो गर्भवती है या रह चुकी है, उनकी दवा भी आपको प्रेग्नेंसी के दौरान नहीं लेना चाह‍िए। 

2. प्रेग्नेंसी के दौरान गलत पॉश्‍चर में सोना (Avoid sleeping in a wrong posture during pregnancy)

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको अपने पॉश्‍चर का खास ख्‍याल रखना है। गलत पॉश्‍चर में सोने से आपको कमर में दर्द, ह‍िप्‍स पेन, गर्दन दर्द की श‍िकायत हो सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान पेट बढ़ने के साथ आपको सोने में थोड़ी द‍िक्‍कत जरूर हो सकती है पर सही पॉश्‍चर बनाए रखना भी जरूरी है। प्रेग्नेंसी के दौरान पेट के बल सोने के बजाय आप बाएं हाथ की ओर करवट लेकर सो सकती है। ऑनलाइन शॉप‍िंग साइट्स पर प्रेग्नेंसी प‍िलो भी उपलब्‍ध है, उसकी मदद से आपको आरामदायक पोज‍िशन में सोने में मदद म‍िलेगी।

इसे भी पढ़ें- 50+ उम्र में ज्यादातर महिलाएं करती हैं ये 5 गलतियां, स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा असर

3. प्रेग्नेंसी के दौरान गलत फुटवियर पहनना (Avoid wearing wrong footwear during pregnancy)

wearing wrong footwear

प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आप गलत फुटवियर पहनते हैं तो आपके पैरों में दर्द, सूजन या फुट कॉर्न की समस्‍या हो सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान बैली फैट बढ़ने के कारण आपको चलने में परेशानी हो सकती है या पैरों पर ज्‍यादा भार पड़ सकता है इसल‍िए गर्भावस्‍था में पैरों को पूरा सपोर्ट देने के ल‍िए फ्लैट बेली या शूज़ पहनें। कपड़े के शूज़ आपके ल‍िए आरामदायक रहेंगे। प्रेग्नेंसी के दौरान आपको क‍िसी भी तरह की हील पहनने से बचना चाह‍िए। प्रेग्नेंसी के दौरान हील क्‍यों नहीं पहनना चाह‍िए? प्रेग्नेंसी के दौरान हील पहनने से बैलेंस ब‍िगड़ने का डर रहेगा और पैरों पर ज्‍यादा दबाव पड़ सकता है।

4. प्रेग्नेंसी के दौरान कसरत को नजरअंदाज करना (Avoid complete rest or no exercise during pregnancy)

प्रेग्नेंसी के दौरान मह‍िलाएं सोचती हैं क‍ि हम सेहतमंद रहने के ल‍िए केवल बेडरेस्‍ट करें पर आपको बता दें आपको डॉक्‍टर भी ऐसा करने की सलाह नहीं देते। प्रेग्नेंसी के दौरान पूरी तरह आराम करना भी ठीक नहीं है। अगर प्रेग्नेंसी के दौरान आप कसरत को अवॉइड करती हैं तो इस गलती को सुधार लें। प्रेग्नेंसी के दौरान हल्‍की कसरत करने से आपका ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल रहेगा, स्‍ट्रेस नहीं होगा और मांसपेश‍ियां भी लचीली बनेंगी। इसल‍िए प्रेग्नेंसी के दौरान आपको कसरत को अवॉइड नहीं करना चाह‍िए।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में महिलाओं के शरीर में आ सकते हैं ये 7 बदलाव

5. प्रेग्नेंसी के दौरान कम या ज्‍यादा खाना (Avoid over or less diet during pregnancy)

प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ मह‍िलाएं वजन बढ़ने के डर से ब‍िल्‍कुल नहीं खाती हैं और अपनी सामान्‍य डाइट कम कर लेती हैं, ऐसा करने से गर्भस्‍थ श‍िशु को जरूरी पोषण नहीं म‍िलेगा। वहीं कुछ मह‍िलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान ज्‍यादा खा लेती हैं ज‍िसके बाद उन्‍हें पेट दर्द, गैस, अपच की श‍िकायत हो सकती है। आपको अपनी डॉक्‍टर या डायटीश‍ियन से सही डाइट चार्ट लेकर उसे फॉलो करना चाह‍िए। भारत सरकार के हेल्‍थ पोर्टल पर भी गर्भवती मह‍िलाओं को रोजाना द‍िए जाने वाले पोष्‍ट‍िक भोजन का डाइट चार्ट उपलब्‍ध है, आप चाहें तो वहां से जाकर उसे डाउनलोड कर सकती हैं।

प्रेग्नेंसी के दौरान आप भी इन गलत‍ियों को दोहरा रही थीं तो अब अच्‍छी आदतों को अपनाएं और कोई भी समस्‍या या शंका होने पर डॉक्‍टर से सलाह लें।

Read more on Women Health in Hindi 

Disclaimer