तिमूर के बीज दूर कर सकते हैं मुंह की बदबू और कब्ज जैसी ये 5 समस्याएं

Timur Spice in Hindi: तिमूर के बीजों का इस्तेमाल करने से पायरिया, मुंह से बदबू आना जैसी परेशानी को कम किया जा सकता है। तिमूर के बीजों के लाभ क्या हैं?

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraUpdated at: Nov 12, 2022 10:00 IST
तिमूर के बीज दूर कर सकते हैं मुंह की बदबू और कब्ज जैसी ये 5 समस्याएं

Timur Seeds Benefits: तिमूर को पहाड़ों का नीम भी कहा जाता है। नीम की तरह यह भी कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसके इस्तेमाल से आप हाई ब्लड प्रेशर से लेकर मुंह की बदबू को कम कर सकते हैं। तिमूर के बीजों से लेकर लकड़ियों का इस्तेमाल किया जाता है। उत्तराखंड के पहाड़ों में इसका पेड़ आपको आसानी से नजर आएगा। इसके बीज से स्वास्थ्य को कई लाभ हो सकते हैं। तिमूर का बीज इस्तेमाल करने से आप कब्ज से भी आराम पा सकते हैं। आज हम इस लेख में तिमूर के बीजों से स्वास्थ्य को होने वाले लाभ के बारे में बताएंगे।Timur Seeds Benefits in Hindi

तिमूर के बीजों के फायदे - Timur Seeds Benefits

उत्तराखंड का नीम यानि तिमूर के बीजों का इस्तेमाल करने से आप कब्ज, अपच और ब्लड प्रेशर की परेशानी कम कर सकते हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इसके लाभ क्या हैं?

1. दांतों से खून आना करे बंद

नीम की तरह तिमूर के बीजों का इस्तेमाल भी पायरिया रोग को दूर करने के लिए किया जा सकता है। इसके बीजों से आप मंजन तैयार कर सकते हैं, जिसे दांतों पर रगड़ने से दांतों से खून आना बंद हो सकता है। साथ ही आप तिमूर की शाखाओं का इस्तेमाल दातुन के रूप में भी कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - दांतों को मोती जैसे चमकाने के लिए पुदीना, नीम और मुलेठी से बनाएं Teeth Whitening Powder

2. कब्ज से छुटकारा

तिमूर के बीजों का प्रयोग कब्ज जैसी गंभीर परेशानी को कम करने के लिए किया जा सकता है। साथ ही यह बीज अपच, एसिडिटी और खट्टी डकार को भी कम कर सकता है। इसके अलावा तिमूर का बीच पाचन संबंधी कई अन्य परेशानियों से भी राहत दिला सकता है। कब्ज से छुटकारा पाने के लिए तिमूर के बीजों का आप गर्म पानी के साथ सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा तिमूर के बीजों से चटनी भी बनाई जाती है, जो स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है। 

3. मुंह की बदबू से छुटकारा

मुंह की बदबू से अगर आप परेशान हैं, तो तिमूर का बीज आपके लिए काफी हेल्दी साबित हो सकता है। यह मुंह की दुर्गंध को कम करके सांसों को ठीक करता है। मुंह की दुर्गंध को कम करने के लिए आप तिमूर के बीजों को पिपरमिंट की तरह चबा सकते हैं, इसका स्वाद भी पिपरमिंट की तरह होता है। इससे मुंह की बदबू कम होगी। रोजाना इसके बीजों का इस्तेमाल करने से मसूड़ों और मुंस से आने वाले दुर्गंध को कम कर सकते हैं। 

4. चोट के निशान को करे कम

चोट के निशान को कम करने के लिए तिमूर के बीजों का प्रयोग किया जा सकता है। इसमें एंटी-सेप्टिक गुण मौजूद होता है, जो घाव को बढ़ने से रोक सकता है। इसका प्रयोग करने के लिए तिमूर के बीजों को पीसकर इसका पाउडर या लेप बना लें। अब इसे प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इससे चोट के निशान कम होंगे। साथ ही घाव भी जल्दी भर सकता है। 

5. ब्लड प्रेशर करे कंट्रोल

तिमूर के बीजों का इस्तेमाल करने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल किया जा सकता है। यह बीज पोटैशियम का काफी अच्छा स्त्रोत माना जाता है, जो हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल कर सकता है। इसके अलावा इसकी कांटेदार टहनिया आपके लिए एक्यूपंचर की तरह कार्य करती हैं, जो ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में प्रभावी है। 

तिमूर के बीजों का इस्तेमाल करने से स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियां दूर की जा सकती है। हालांकि, अगर आप पहली बार इसके बीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। 

Disclaimer