स्वस्थ आदतों के साथ आज करें एक हेल्दी शुरुआत, आपको फिट रखने वाले हर स्वास्थ्यकर्मी को कहें ''thank you''

विश्व स्वास्थ्य दिवस हर साल सात अप्रैल को मनाया जाता है और इस साल का इसका थीम है 'Support nurses and midwives'.

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 07, 2020
स्वस्थ आदतों के साथ आज करें एक हेल्दी शुरुआत, आपको फिट रखने वाले हर स्वास्थ्यकर्मी को कहें ''thank you''

आज विश्व स्वास्थ्य दिवस है और पूरा विश्व का स्वास्थ्य एक गहरे संकटकाल से गुजर रहा है। दुनियाभर की सभी सुर्खियों में अब कोरोनावायरस नामक महामारी ही है। ये स्थिति इतनी दुखद है और भयावह है कि इसके कारण आज लाखों लोग पीड़ित हैं और कितनों की मौत हो गई है। जैसा कि हम जानते हैं कोरोनोवायरस का कोई उचित इलाज नहीं है और डॉक्टर और शोधकर्ता इसके बारे में नई चीजें ढूंढ ही रहे हैं। पर फिर भी ये डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ हमारे लिए इस संकटकाल में सबसे आगे खड़े होकर ये लड़ाई लड़ रहे हैं और पूरा विश्व उन्हें सलाम कर रहा है। दिलचस्प बात ये है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) का इस साल का थीम भी है ''Support nurses and midwives'' यानी कि आइए मिलकर उन नर्स, दाई और सभी मेडिकल स्टाफ की सहायता करें, जिन्होंने हमारी जिंदगी को खुशहाल बनाया है। तो इस स्वास्थ्य दिवस 'ऑनली माई हेल्थ' सभी डॉक्टर, नर्स, मिडवाइफ और हर तरह के स्वास्थ्यकर्मी को उनकी सेवा के लिए दिल से शुक्रिया अदा करते हुए, उनके इस हिम्मती जज्बे को सलाम करता है।

insidewho4

विश्व स्वास्थ्य दिवस के इस अवसर पर, डब्ल्यूएचओ दक्षिण-पूर्व एशिया के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह की मानें, तो नर्सिंग और मिडवाइफरी कर्मचारियों की संख्या सुनिश्चित करने के लिए हमें अपने प्रयासों को शक्ति, कौशल और सहायता प्रदान करनी चाहिए। डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह की मानें, तो नर्सिंग और मिडवाइफरी कर्मचारियों की संख्याओं को बढ़ाने के लिए हमें अपने प्रयासों को दोगुना करना होगा। उनकी मानें, तो विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र के देशों को 2030 तक सभी के लिए स्वास्थ्य सुविधा बेहतर बनाने के लिए अपने नर्सों और दाइयों के कैडर को 1.9 मिलियन तक मजबूत और विस्तारित करने के प्रयासों में तेजी लाने की आवश्यकता है।

Loading...

डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ हमारे लिए जो कर रहे हैं, सो तो ठीक है लेकिन प्रश्न ये है कि हम अपने स्वास्थ्य के लिए क्या कर रहे हैं। कोरोनावायरस ने हम सभी को जगा कर रख दिया है और बता दिया कि स्वास्थ्य हल्के में लेने कि चीज नहीं है। अगर आपका स्वास्थ्य थोड़ा भी कमजोर पड़ा तो वो आसानी से किसी भी कोरोनावायरस जैसे महामारी का शिकार हो सकता है। तो भले ही एक दिन हम इस कोरोनावायरस नामक महामारी से छुटकारा पा जाएं पर हमें आगे कि हर महामारी से खुद को बचाने के लिए अपने आप को पूरी तरह से स्वस्थ रखना होगा। तो आज ऑनली माई हेल्थ आपको आपको आपके स्वास्थ्य से जु़ड़े उन पहलुओं से अवगत करायागा, जिसका आपको हमेशा ख्याल रखना है।

insideworldhealthday

सबसे पहले जरूरी है 'सही पोषण' 

पोषण यानी कि हम क्या खा-पी रहे हैं, ये हमारे स्वास्थ्य में एक बड़ी भूमिका निभाता है। जाहिर है, एक स्वस्थ और अच्छी तरह से संतुलित आहार अपने आप को फिट और ठीक रखने के लिए एक पहली जरूरत है लेकिन कुछ खाद्य पदार्थ हैं, जो आपको बीमार भी कर सकते हैं। वहीं आपको ये बात हमेशा याद रहनी चाहिए कि आपको संपूर्ण डाइट चाहिए, जिसमें हर चीज हो जो शरीर की जरूरत है।

शरीर की मजबूत करने के लिए प्राथमिकता के क्रम में सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में प्रोटीन, अच्छी गुणवत्ता वाला फैट, विटामिन-ए और विटामिन सी जैसे संक्रामक विरोधी विटामिन, विटामिन ई, सेलेनियम और जिंक जैसे एंटीऑक्सिडेंट विटामिन और खनिज शामिल हैं। इन पोषक तत्वों को प्राप्त करने के लिए आपके अपने खाद्य संसाधनों को अधिकतम करने पर ध्यान देने के साथ बैलेंस डाइट का दृष्टिकोण अपनाना होगा। इसलिए ड्राई फ्रूट्स से लेकर साग-सब्जी, फलों और सभी प्रकार के अनाजों को अपने भोजन में शामिल करें। इसके साथ ही मांस, मछली, अंडा, दूध, दही, घी और पनीर जैसे प्रोटीन उत्पादकों का भी खास ख्याल रखें।

insidehealthydiet

इसे भी पढ़ें : World Health Day 2020: बच्चों तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने वाली 'बोट एंबुलेंस' सिर्फ नाव नहीं, एक मिशन है

किसी भी महामारी से लड़ने के लिए इम्यूनिटी को मजबूत बनाएं

एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली न केवल विभिन्न मौसमी फ्लू और सर्दी के खतरे को कम करती है, बल्कि बीमारियों को दूर रखने में भी मदद करती है। कम प्रतिरक्षा वाले लोग कोरोनवायरस जैसी महामारी और किसी भी प्रकार के बीमारी के अधिक शिकार होते हैं। उचित इलाज नहीं मिलने पर आपकी इम्यूनिटी ही है, जो आपको जिंदा रखेगी।इसलिए, सटीक उपचार से गुजरना और अपनी प्रतिरक्षा को त्वरित बढ़ावा देने और कोरोनवायरस की पहुंच से खुद को बचाने के लिए अपने इम्यूनिटी पर खास ध्यान देना बेहद महत्वपूर्ण है।

हार्मोन और एंटीबॉडी का भी रखें ख्याल 

हार्मोन, एंटीबॉडी, प्रोस्टाग्लैंडिंस सहित शरीर में नियामक पदार्थों को संश्लेषित करने की आवश्यकता है। ये एंटीबॉडी प्रतिरक्षा प्रणाली की कोशिकाओं का समर्थन करते हैं और शरीर में वायरस, बैक्टीरिया या अन्य विदेशी पदार्थों पर हमला करते हैं। इस प्रकार यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है जब विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि भरपूर मात्रा में एक अच्छा आहार लेना, जिसमें प्रोटीन की मात्रा अच्छी हो, तो ये आपके शरीर को संक्रमणों से बचा सकता है।

insidehealthday

इसे भी पढ़ें : World Health Day 2020: स्‍वस्‍थ जीवन जीने के लिए जरूर अपनाएं ये 8 अच्‍छी आदतें, बीमारियों से रहेंगे कोसों दूर

आखिर में याद रखें ''रोकथाम इलाज से बेहतर है- Prevention is better than cure''

यह एक प्रसिद्ध कहावत है कि रोकथाम इलाज से बेहतर है। कोरोनावायरस एक संक्रामक बीमारी है और अपने और अपने प्रियजनों को बचाने के लिए कुछ निवारक उपाय करना बेहद जरूरी है। घर पर रहें, सामाजिक दूरी का अभ्यास करें, अपने हाथों को धोएं और जितना हो सके पौष्टिक और स्वस्थ भोजन खाएं। कोरोनोवायरस से बचने और शरीर को स्वास्थ रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा औषधीय चीजों को भी अपनाएं। इसके साथ ही व्यायाम, योग और ध्यान करें। ये तीनों इसलिए भी जरूरी है क्योंकि जितना जरूरी हमारे शारीरिक स्वास्थ्य को ठीक रखना है, उतना ही मानसिक स्वास्थ्य को भी। इसलिए सुबह समय पर उठें, योग करें, अच्छा डाइट लें, चिंता कम करें और एक बेहतर नींद सोएं। इस तरह आप एक खुशहाल और स्वस्थ जीवन जीते रहेंगे।

Read more article on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer