पीछे की जेब में बटुआ रखने से होता है दर्द? जानें दर्द से छुटकारा पाने का तरीका

अगर आपको भी पीछे वाली जेब में बटुआ रखने से दर्द होता है तो इस तरह पाएं दर्द से छुटकारा और जानें बटुआ रखने का सही तरीका। 

 
Vishal Singh
विविधWritten by: Vishal SinghPublished at: Jan 30, 2020Updated at: Jan 30, 2020
पीछे की जेब में बटुआ रखने से होता है दर्द? जानें दर्द से छुटकारा पाने का तरीका

ज्यादातर लोगों की आदत होती है कि वो अपना बटुआ जींस या पैंट के पिछली जेब में ही रखते हैं। खासकर ये आदत आपको दफ्तर जाने वाले लोगों में ज्यादा दिखेगी। कई बार लोग बटुआ रखने की वजह से दर्द के भी शिकार हो जाते हैं। जिसके बाद उन्हें दर्द के साथ थकावट भी महसूस होने लगती है। 

जींस या पैंट की पिछली जेब में भारी बटुआ रखना युवाओं को कमर और पैरों की गंभीर बीमारी का शिकार भी बना रहा है। आपको बता दें जींस या पैंट की पीछे वाली जेब में बटुआ रखने से कई तरह की बीमारी भी हो सकती है। जैसे पियरी फोर्मिस सिंड्रोम जिसमें कमर से लेकर पैरों की उंगलियों तक में  चुभन वाला दर्द होने लगता है। 

back pain

मेंसहेल्थ में यूनिवर्सिटी ऑफ वाटरलू के प्रोफेसर ऑफ स्पाइन बायोमेकेनिक्स स्टुअर्ट मैकगिल ने बताया कि पर्स कुछ देर के लिए रखना चाहिए, लेकिन लोग जब इसे मौजूद कार्ड, बिल और सिक्कों के गठ्ठर पर कई घंटे बैठेंगे तो इससे हिप जॉइंट और कमर के निचले हिस्से में दर्द होने लगता है। स्टुअर्ट के मुताबिक, ये परेशानी शुरू होती है सियाटिक नर्व के साथ, जो ठीक हिप जॉइंट के पीछे होती है। मोटा पर्स रखने की वजह से यही बटुए और हिप के बीच में दबती है और जिससे परेशानी होने लगती है। 

इसे भी पढ़ें: कमर दर्द को मिनट से पहले खत्म करेंगे ये 3 आसान उपाय

इस बीमारी के शिकार वे लोग ज्यादा होते हैं जो पैंट या जींस की पिछली जेब में बटुआ रखकर घंटों बैठकर काम करते रहते हैं।इस बीमारी का समय रहते उपचार नहीं होने पर सर्जरी करवानी पड़ती है। इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के वरिष्ठ आर्थोपेडिक सर्जन डा. राजू वैश्य ने बताया कि जब हम पैंट में पीछे लगी जेब में मोटा बटुआ रखते हैं तो वहां की पायरी फोर्मिस मांसपेशियां दब जाती है। अगर आप कुछ समय के लिए ऐसा करते हैं तो कोई बात नहीं है लेकिन अगर कई घंटे ऐसा करते हैं तो आपको दर्द का शिकार होना ही पड़ेगा।

दर्द से छुटकारा पाने का तरीका 

अगर आपको रोजाना इस दर्द से गुजरना पड़ता है तो आप इसके लिए एकर एक्सरसाइज भी कर सकते हैं। आप जमीन पर लेट जाएं और घुटनों को मोड़ लें। घुटने नीचे ले जाते वक्त दायीं तरफ ले जाएं जबकि कंधे और हिप को जमीन पर ही रखें और बायीं ओर ले जाएं। इससे आपको कमर के निचले हिस्से काफी आराम महसूस होगा। 

आप जमीन पर लेट जाएं और घुटनों को छाती तक लेकर आएं। इसके बाद पैरों का बाहरी हिस्सा पकड़ लें और कमर के सहारे रोल करने की कोशिश करें। 

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद में है कमर दर्द के ये प्रमुख कारण, ऐसे करें उपचार

कैसे रखें बटुआ? 

  • पैसे रखने वाले पर्स पतले होने चाहिए जो ज्यादा सख्त ना हो। 
  • आगे वाली पॉकेट में रखने की कोशिश करें। 
  • अपने पर्स में पैसे और कुछ जरूरी कार्ड ही रखें। अपने पर्स में आप ज्यादा सामान रखने से बचें। 
  • इसके अलावा आप चाहें तो बटुआ रखना ही छोड़ दें और पैसों को आप अपने जेब में ही रखें। बहुत से ऐसे लोग हैं जो पतले कार्डहोल्डर का इस्तेमाल करते हैं। 
  • अगर आपको पर्स के साथ घंटों बैठना है तो इससे बेहतर है कि आप अपने पर्स को निकाल कर बाहर रख लें। 

Read more articles on Miscellaneous  in Hindi

Disclaimer