ठंडे पानी से नहाने वाले पुरूषों को नहीं होती इतनी तरह की बीमारियां

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 13, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • ठंडे पानी से नहाने से टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन के रिलीज में मदद मिलती है
  • जिससे पुरुषों के प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार होता है
  • शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली और लसीका ग्रंथियों को सक्रिय करता है।

नहाने के लिए पानी कैसा होना चाहिए, इस बात को लेकर हमेशा लोगों में भ्रम की स्थिति रहती है। आयुर्वेद में ठंडे व गर्म पानी दोनों के फायदे बताए गए हैं। ठंडे पानी से नहाने के फायदे सुबह के समय ठंडे पानी से नहाना आलस दूर करता है। इससे शरीर में बीटा एंडोर्फिन केमिकल सक्रिय होता है जो तनाव कम करने में मददगार है। शोध के अनुसार ठंडे पानी से नहाने से टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन के रिलीज में मदद मिलती है जिससे पुरुषों के प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार होता है। यह फेफड़ों की कार्यप्रणाली सुधारने के साथ शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली और लसीका ग्रंथियों को सक्रिय करता है। इससे संक्रमण की आशंका कम होती है।

इसे भी पढ़ें- फोड़े-फुंसी को चुटकियों में दूर करता है नीम का तेल

गुनगुने पानी से नहाने के लाभ

गर्म तापमान कीटाणुओं को अधिक तेजी से मारता है। इस तरह गुनगुने पानी से नहाने से शरीर साफ होता है। शोधों से पता चला है कि गुनगुना पानी मांसपेशियों के लचीलेपन में सुधार करता और दर्द में आराम देता है। आयुर्वेद के अनुसार, नहाने के लिए पानी गर्म या ठंडा कैसा होना चाहिए आयुर्वेद में इसके चयन के लिए कुछ कारकों के बारे में बताया गया है।

1- अधिकतर युवा व बुजुर्ग को गुनगने पानी से नहाना चाहिए। लेकिन यदि आप छात्र हैं तो ठंडे पानी से नहाना बेहतर है। इससे बॉडी एक्टिव रहती है।  

2- पित्त से जुड़े रोग जैसे अपच या लीवर संबंधी विकार से पीडि़त हैं तो ठंडे पानी से नहाना अच्छा होगा। मिर्गी और कफ या वात से जुड़े रोग से पीडि़त हैं तो गुनगुने पानी से नहाना चाहिए।

3- सुबह नहा रहे हैं तो ठंडे पानी से और रात में रिलैक्स महसूस करने के लिए गुनगुने पानी से नहाएं। सबसे पहले पानी कहां डालें जल्दबाजी में नहाने से इसके लाभ नहीं मिल पाते, साथ ही सफाई भी नहीं हो पाती है। ऐसे में धीरे-धीरे नहाएं ताकि शरीर के हर हिस्से की सफाई हो सके। नहाने की शुरुआत हाथ और पैरों को धोने से करें।

इसे भी पढ़ें: जानें जुकाम और फ्लू के बीच अंतर

ठंडे पानी से नहाएं तो...

ठंडे पानी से नहा रहे हैं तो इसकी शुरुआत सिर से पैर की ओर ही करें। वहीं गुनगुने पानी से नहा रहे हैं तो पैरों की अंगुलियों पर पानी डालकर नहाने की शुरुआत करें। केमिकल युक्त साबुन से नहाने से बचें। नहाने से पहले सरसों के तेल की मसाज शरीर के लिए फायदेमंद होती है। इससे मांसपेशियां रिलैक्स होती हैं। नहाने के पानी में नीम की पत्तियां डालकर कुछ समय के लिए छोड़ दें। इससे नहाने से संक्रमण के अलावा त्वचा रोगों से भी छुटकारा मिलता है। अधिक समय तक नहाने से बचना चाहिए।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living

 

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES3890 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर