जुड़वा बच्‍चों की मां एक लेकिन दो पिता होने की ये है सच्‍चाई

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 18, 2016
Quick Bites

  • जुड़वा बच्‍चों की मां एक लेकिन पिता दोनों के अलग-अलग।
  • 90 प्रतिशत में से ऐसा बमुश्किल एक बार ही ऐसा संभव है।
  • मेडिकल जगत में इसे बाई-पैटरनल सुपरफिकन्डेशन कहते हैं।
  • सुपरफेटेशन जानवरों की कुछ प्रजातियों में बेहद आम बात है।

कुछ साल पहले एक वियतनामी महिला ने जुड़वां बच्चों को जन्म दिया, लेकिन उन दोनों बच्चों में लगभग कोई समानता नहीं थी। परिवार को तो लगा कि शायद हॉस्पि‍टल में नर्सिंग स्टाफ से कोई चूक हो गई है और बच्चा किसी दूसरे बच्चे से बदल गया है। लेकिन जब ये बच्चे दो साल के हुए, तो इनके बीच का अंतर साफ देखा जा सकता था। एक बच्चे के बाल घुंघराले थे, जबकि दूसरे के सीधे। जुड़वां बच्चों में इस बड़े फर्क को देखकर परेशान परिवार ने दोनों बच्चों का डीअनए टेस्ट कराया तो एक चौंकाने वाली या कहिये विचित्र सी सच्चाई सामने आई। वियतनाम की एक मेडिकल लैब ने अपनी रिपोर्ट में पुष्टि कर बताया कि इन जुड़वां बच्चों की मां तो एक है, लेकिन पिता अलग-अलग!


गौरतलब है कि जुड़वां बच्चों के जन्म के 90 प्रतिशत मामलों में से ऐसा बमुश्किल एक बार ही मामला संभव होता है। लेकिन ये बात पूरी तरह से अप्रत्याशित और कल्पना से परे है।

 

Hercules in Hindi

 

तो क्या ये ट्विन्स हैं या फिर हाफ ब्रदर्स?

इस मामले के संबंध मे अंग्रेजी समाचार चैनल सीएनएन ने इन बच्चों की जांच करने वाले जेनेटिक एसोसिएशन ऑफ वियतनाम के प्रेसिडेंट ली दिन्ह ल्यूंग से बात की। ली ने बताया कि जांच के बाद आए नतीजों से बच्चों का परिवार वास्तव में हैरान था। ली के अनुसार जांचकर्ताओं के पूरे कार्यकाल में यह असमलैंगिक पैतृक जुड़वां बच्चों का महज़ दूसरा मामला था।

लेकिन क्या बायोलॉजिकली ऐसा संभव है?

जी हां, ये संभव है। दरअसल महिलाओं के ओवरी से निकला एक अंडा एक स्पर्म के साथ फर्टिलाइज्ड होता है, लेकिन कभी-कभी महिलाओं की ओवरी से अंडो का जोड़ा भी रिलीज हो जाता है। वहीं पुरुषों का वीर्य भी 7 से 10 दिनों तक जीवित रहता है। इस मामले में महिला ने एक के बाद एक दो पुरुषों से संबंध बनाए, जिससे उसके दो अंडे ब ने, जो कि 24 से 48 घंटो ८ घंटों तक जीवित रहते हैं। इसके बाद एक पुरुष के वीर्य से एक और दूसरे के वीर्य से दूसरा अंडा निषेचित हुआ। इस विरले चमत्कार को मेडिकल जगत में बाई-पैटरनल सुपरफिकन्डेशन के नाम से जाना जाता है। यह भी दावा किया जाता है कि सुपरफेटेशन जानवरों की कुछ प्रजातियों में बेहद आम बात है, लेकिन इंसानों में यह विरला ही होता है।

ग्रीक मिथोलॉजी है इसका उदाहरण

ऐसा केवल  मॉर्डन टेक्नोलॉजी के कारण नहीं हैं, बल्कि इस तरह के मामलों के प्रमाण ग्रीक मिथोलॉजी में भी पाए जाते हैं। अगर आपने हरक्यूलस के बारे में सुना है, तो आप इस बात को समझ पाएंगे। ग्रीक सभ्यता के अनुसार हरक्यूलस सन ऑफ जीसस और गॉड ऑफ स्काई है। हरक्यूलस और इफिकल्स जुड़वां भाई थे। इफिकल्स, हरक्यूलस से एक रात छोटा था और उसके पिता का नाम एंफीट्रॉन था, जोकि ट्रॉयजन का राजा था। लेकिन इफिकल्स अपने भाई हरक्यूलस की तरह ताकतवर नहीं था, क्योंकि वो एंफीट्रॉन का बेटा था।



Image Source - Getty

Read More Articles On Medical Miracles In Hindi.

Loading...
Is it Helpful Article?YES15 Votes 4599 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK