ड्राई फ्रूट्स (मेवे) खाते हैं तो इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो फायदे की जगह हो सकता है नुकसान

ड्राई फ्रूट्स का सेवन सेहत के लिए बेहद लाभदायक माना जाता है लेकिन इसका अधिक सेवन करने से शरीर में कई बीमारियां भी जन्म ले सकती हैं।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Mar 12, 2021Updated at: Mar 12, 2021
ड्राई फ्रूट्स (मेवे) खाते हैं तो इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो फायदे की जगह हो सकता है नुकसान

ड्राई फ्रूट्स का इस्तेमाल अक्सर लोग मीठी डिशेज में स्वाद बढ़ाने, गार्निशिंग करने के लिए करते हैं या इनके सेहतमंद गुणों के कारण इन्हें रोजाना की डाइट में शामिल करते हैं।  लेकिन सेहत के सबसे जरूरी यह है कि इन ड्राई फ्रूट्स (मेवों) का सेवन सही तरीके से और उचित मात्रा में किया जाए। ड्राई फ्रूट्स और नट्स सुपरफ़ूड माने जाते हैं और सेहत के लिए लाभदायक भी। इनमें शरीर के लिए जरूरी सभी पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, आयरन, हेल्दी फैट,  मैग्नीशियम, विटामिन बी, और फाइबर आदि पाए जाते हैं। ड्राई फ्रूट्स का सेवन सेहत के लिए बेहद फायदेमंद तो है ही लेकिन इनका सेवन अगर अधिक मात्रा में किया गया तो इसके दुष्परिणाम भी देखने को मिलते हैं। सेहत के लिए फायदेमंद किसी भी खाद्य पदार्थों का ज्यादा सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। ड्राई फ्रूट्स जैसे कि बादाम, खजूर, काजू, पिस्ता और अखरोट आदि के अधिक सेवन से शरीर में कई तरह की दिक्कत शुरू हो सकती हैं। इसके अलावा ये वजन बढ़ाने से लेकर अस्थमा जैसी बीमारियों का भी कारण बन सकते हैं।

अधिक मात्रा में ड्राई फ्रूट्स के सेवन से होने वाले नुकसान (Side Effects Of Dry Fruits)

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माने जाने वाले ड्राई फ्रूट्स के अधिक सेवन से शरीर में कई तरह की दिक्कतें पैदा हो सकती हैं। इसका नियमित और सीमित मात्रा में ही सेवन करना लाभदायक होता है। ड्राई फ्रूट्स का ज्यादा सेवन करना अस्थमा, शरीर में ब्लड शुगर का लेवल, गैस से जुड़ी समस्याएं आदि पैदा कर सकता है। आइये जानते हैं सूखे मेवे या ड्राई फ्रूट्स के अधिक सेवन से होने वाले नुकसान।

inside3 (38)

अस्थमा जैसी समस्या का जन्म (Eating Too Much Dried Fruits Causes Asthma)

सूखे मेवों को ज्यादा खाने से अस्थमा जैसी समस्याएं जन्म ले सकती हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि सूखे फलों को सुरक्षित तरीके से स्टोर करने के लिए सल्फर डाइऑक्साइड का उपयोग किया जाता है जो कि एलर्जी और अस्थमा से जुड़ी समस्याएं पैदा कर सकती है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक ड्राई फ्रूट्स का नियमित रूप से उचित मात्रा में सेवन करने से तो शरीर पर इनका कोई असर नही पड़ता लेकिन अगर इनका इस्तेमाल लगातार ज्यादा मात्रा में किया गया तो अस्थमा जैसी बीमारियों का कारण यह गैस बन सकती है। इसके अलावा इनका अधिक सेवन सल्फर डाइऑक्साइड की वजह से स्किन एलर्जी से जुड़ी समस्याएं भी पैदा कर सकता है।

इसे भी पढ़ें :  सेहत की थाली: 1 प्लेट दाल, भात, चोखा खाने से आपको कितने पोषक तत्व मिलते हैं? जानें न्यूट्रीशनिस्ट से

inside1 (21)

सूखे फलों का अधिक सेवन से मोटापा (Eating Too Much Dried Fruits Causes Obesity)

ड्राई फ्रूट्स का अधिक सेवन मोटापा जैसी समस्या को जन्म दे सकता है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि सूखे फलों में मौजूद कैलोरी वजन बढ़ने जैसी समस्या के जन्म का कारण बनती है। वजन के अचानक बढ़ने से शरीर में कई अन्य दिक्कतें जैसे ब्लड प्रेशर, डायबिटीज भी शुरू होने लगती हैं। सूखे फलों का सेवन हमेशा उचित मात्रा में ही किया जाना चाहिए। कम कैलोरी के लिए खजूर, खुबानी, क्रैनबेरी, ब्लूबेरी आदि का सेवन किया जा सकता है।

ड्राई फ्रूट्स के अधिक सेवन से दांतों में सड़न की समस्या (Eating Too Much Dried Fruit Causes Tooth Decay)

ड्राई फ्रूट्स के अधिक सेवन से दांतों में सड़न पैदा होने का ख़तरा रहता है। इन फलों में शुगर की अधिक मात्रा इसका कारण होती है। शुगर का अधिक सेवन दांतों से जुड़ी समस्या भी पैदा करता है। ड्राई फ्रूट्स को खाते समय इनके कुछ हिस्से दांतों में चिपके रह जाते हैं और यह फिर दांतों में सड़न की समस्या को जन्म देते हैं। दांतों से जुड़ी समस्याओं से बचने के लिए सूखे फलों का सेवन करने के बाद दांतों को अच्छी तरह से साफ़ कर लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : एक कप थिसल चाय आपको रखेगी वायरल बीमारियों से दूर, न्यूट्रीशनिस्ट से जानें इसके 6 फायदे और कुछ नुकसान

सूखे फलों के अधिक सेवन से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं का ख़तरा (Eating Much Dried Fruits Causes Gastrointestinal Problems)

सूखे फलों का अधिक सेवन पेट से जुड़ी कई समस्याओं को जन्म दे सकता है। इसके अधिक सेवन से पेट में गैस और पाचन से जुड़ी समस्याएं जन्म लेती है। हालांकि ड्राई फ्रूट्स में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है जो पेट के पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होती है लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन पेट की गैस से जुड़ी समस्या का कारण बन सकता है। इसके अधिक सेवन से सूजन, दस्त, पेट फूलना, ऐंठन और कब्ज जैसी दिक्कतें शुरू हो सकती है। फाइबर का अधिक मात्रा में सेवन आंत पर भी अपना असर डालता है।

नियमित रूप से उचित मात्रा में ड्राई फ्रूट्स का सेवन सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। इसका अधिक सेवन करने से ऊपर बताई गई समस्याएं पैदा हो सकती हैं, इसलिए सूखे फलों का सेवन उचित मात्रा में ही करें। कुछ खास बीमारियों में डॉक्टर सूखे फलों के सेवन से माना भी करते हैं, इनके सेवन से होने वाली दिक्कतों से निपटने के लिए चिकित्सक से जरूर संपर्क करें।

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

 

Disclaimer