क्या कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट साबुन और पाउडर त्वचा को पहुंचाते हैं नुकसान? जानें स्किन डॉक्टर से

डिटर्जेंट, त्‍वचा और स्‍वास्‍थ्‍य पर कई तरह से असर डालते हैं, इनके इस्‍तेमाल को कम नहीं कर सकते पर तरीकों में बदलाव संभव है आइए जानते हैं इसके बारे मे

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 25, 2021Updated at: Jun 25, 2021
क्या कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट साबुन और पाउडर त्वचा को पहुंचाते हैं नुकसान? जानें स्किन डॉक्टर से

क्‍या कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट हमारी स्‍क‍िन को नुकसान पहुंचाते हैं? हर घर में कपड़े धोने के ल‍िए ड‍िटर्जेंट का इस्तेमाल क‍िया जाता है पर इनमें मौजूद कैम‍िकल हमारी स्‍क‍िन को नुकसान पहुंचाते हैं, स्‍क‍िन पर ड‍िटर्जेंट के इस्‍तेमाल से फफोले या चकत्ते, सूजन, जलन, रैशेज आद‍ि समस्‍या हो सकती है। इस समस्‍या से बचने के ल‍िए आपको हार्ड कैम‍िकल वाले ड‍िटर्जेंट के इस्‍तेमाल से बचना चाह‍िए, इसके अलावा आपको कपड़े धोने के ल‍िए ग्‍लब्‍स का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए। ड‍िटर्जेंट में मौजूद हान‍िकारक कैम‍िकल हमारी स्‍क‍िन और स्‍वास्‍थ्‍य दोनों के ल‍िए नुकसानदायक है। हार्ट पेशेंट, अस्‍थमा के मरीज, गर्भवती मह‍िलाएं, बच्‍चों को इन कैम‍िकल्‍स से दूर रहना चाह‍िए। ये सच है क‍ि डि‍टर्जेंट में मौजूद कैम‍िकल्‍स के बावजूद हमें रोज उसे इस्‍तेमाल करना पड़ता है इसल‍िए इस लेख में हम कुछ आसान ट‍िप्‍स शेयर करेंगे ज‍िनकी मदद से आपकी स्‍किन को ड‍िटर्जेंट के बुरे असर से बचाया जा सकता है। इस व‍िषय पर ज्यादा जानकारी के ल‍िए हमने ओम स्किन क्लीनिक, लखनऊ के वरिष्ठ कंसलटेंट डर्मेटोलॉज‍िस्‍ट डॉ देवेश मिश्रा से बात की। 

skin infection due to detergent

कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट से होने वाले नुकसान (Health risks of using laundry detergent)

  • कपड़े धोने वाले ड‍िटर्जेंट में मौजूद कैम‍िकल से स्‍क‍िन में जलन, सूजन, रेड रैशेज, बंप्‍स की समस्‍या हो सकती है। 
  • कपड़े धोने वाले ड‍िटर्जेंट से कॉन्‍टैक्‍ट डर्मेटाइट‍िस (contact dermatitis) की समस्‍या हो सकती है। ये एक तरह का स्‍क‍िन ड‍िसीज है ज‍िसमें स्‍क‍िन लाल हो जाती है या जलन होने लगती है। ये ड‍िसीज साबुन, मेटल, पौधे आद‍ि से संपर्क में आने पर हो सकती है। 
  • कपड़े धोने वाले ड‍िटर्जेंट में में एस‍िड मौजूद होते हैं ज‍िससे स्‍क‍िन पर फफोले या चकत्ते पड़ सकते हैं।
  • ड‍िटर्जेंट के ज्‍यादा इस्‍तेमाल से हाथों की त्‍वचा में नमी भी कम होने लगती है ज‍िससे हाथ ड्राय हो सकते हैं।
  • कपड़े धोने के ड‍िटर्जेंट में मौजूद कैमिकल्‍स अगर आपकी बॉडी के अंदर चले जाएं तो सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश आद‍ि समस्‍या पैदा कर सकते हैं।
  • इन कैमिकल्‍स का सबसे बुरा प्रभाव बच्‍चों पर पड़ता है इसल‍िए बच्‍चों को इन कैम‍िकल्‍स से दूर रखें।
  • कपड़े धोते समय आपको स्‍क‍िन ही नहीं बल्‍कि अपनी आंखों को भी कैम‍िकल्‍स से दूर रखना है, आंख में कैम‍िकल जाने पर आंख में आनी आना, खुजली होना, आंख लाल होने जैसी समस्‍या हो सकती है।
  • अस्‍थमा और द‍िल के मरीज, गर्भवती मह‍िलाओं को भी ड‍िटर्जेंट के संपर्क में नहीं आना चाह‍िए, ये उनके ल‍िए भी हान‍िकारक होते हैं।

इसे भी पढ़ें- कई मायनों में आपके लिए खतरनाक हो सकते हैं डिटर्जेंट, जानें किस तरह है आपके लिए नुकसानदायक

कपड़े धोने वाले ड‍िटर्जेंट में कौनसे कैम‍िकल्‍स होते हैं? (Chemicals used in detergent)

chemicals in detergent

  • कपड़े धोने वाले ड‍िटर्जेंट में कई तरह के कैम‍िकल्‍स इस्‍तेमाल होते हैं जैसे सोडियम लौरेल सल्फ़ेट, सल्फर ट्राईऑक्साइड, एथिलीन ऑक्साइड आदि। ये हमारी स्‍किन के ल‍िए हान‍िकारक होते हैं।
  • ड‍िटर्जेंट में ब्‍लीच (bleach) भी म‍िलाया जाता है, ये सफेद कपड़ों को यूवी रेज़ से बचाता है पर ब्‍लीच आपके हाथों में एलर्जी पैदा कर सकता है। इसमें मौजूद तत्‍व आंख, लंग्‍स इंफेक्‍शन के ल‍िए जिम्‍मेदार माने जाते हैं। 
  • फार्मल्डिहाइड (formaldehyde) एक तरह का प्र‍ि‍जर्वेट‍िव है जो ड‍िटर्जेंट में पाया जाता है। इससे आंख, फेफड़ों पर, रेस्‍प‍िरेटरी स‍िस्‍टम पर नकारात्‍मक प्रभाव पड़ता है। अगर रोजाना आपकी स्‍क‍िन इस कैम‍िकल के संपर्क में आती है तो आपको एक्‍ज‍िमा जैसी बीमारी हो सकती है। 

अपनी स्‍क‍िन को कपड़े धोने वाले डिटर्जेंट साबुन और पाउडर से कैसे बचाएं? (How to protect skin from clothes detergent)

use gloves to wash clothes

  • आप कपड़ों को हाथों से धोते हैं तो हाथों को ड‍िटर्जेंट के बुरे प्रभाव से बचाने के ल‍िए ग्‍लब्‍स का इस्‍तेमाल करें।
  • आप वॉश‍िंग सोडा और बोरॉक्‍स सल्‍यूशन म‍िलाकर घर ही ड‍िटर्जेंट बना सकते हैं, इस तरह के सल्‍यूशन क‍िसी तरह की कोई स्‍मेल नहीं होती इसल‍िए ये स्‍क‍िन को ज्‍यादा नुकसान नहीं पहुंचाते। 
  • आप कपड़ों पर दाग-धब्‍बे म‍िटाने के ल‍िए कैम‍िकल स्‍टेन का इस्‍तेमाल करने के बजाय कॉस्‍ट‍िंग सोडा का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।
  • ऐसे ड‍िटर्जेंट का इस्‍तेमाल करें ज‍िसमें ज्‍यादा खुशबू न हो।
  • कपड़ों को ड‍िटर्जेंट से धोने के बाद साफ पानी से जरूर साफ करें ताक‍ि कपड़ों से ड‍िटर्जेंट आपकी स्‍क‍िन पर न आ जाए।
  • कपड़ों को ड‍िटर्जेंट से धोते समय आपको अपनी आंखों पर सेफ्टी स्‍पेक्‍स लगाने चाह‍िए, इससे कैम‍िकल आपकी आंखों में नहीं जाएगा। 
  • कपड़ों के लोड के मुताब‍िक ही ड‍िटर्जेंट का इस्‍तेमाल करें, इसके ल‍िए आपको मेजरमेंट कप या स्‍केल का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए और साबुन पाउडर की तय मात्रा ही इस्‍तेमाल करनी चाह‍िए।
  • अगर आपकी स्‍क‍िन सेंसेट‍िव है तो आप पैट्रोलि‍यम जैली हाथों पर लगाकर कपड़े धो सकते हैं, ये उपाय आपकी स्‍क‍िन पर कैम‍िकल के असर को कम करेगा।

इसे भी पढ़ें- साबुन की बट्टी या लिक्विड सोप- क्या है शरीर के लिए ज्यादा फायदेमंद? जानें दोनों में अंतर

डिटर्जेंट के कैम‍िकल से स्‍क‍िन एलर्जी होने पर क्‍या करें? (Treatment to cure skin allergy caused by cloth detergent)

अगर कपड़े धोने वाले साबुन या पाउडर ड‍िटर्जेंट से आपकी स्‍क‍िन में एलर्जी हो रही है तो आप कुछ आसान उपाय अपना सकते हैं जैसे- 

  • ड‍िटर्जेंट से स्‍क‍िन एलर्जी या जलन होने पर आप बर्फ का सेक करें। बर्फ के क्‍यूब को साफ कपड़े में लपेटकर स्‍क‍िन पर लगाएं।
  • ड‍िटर्जेंट के इस्‍तेमाल से स्‍क‍िन में रैशेज, एलर्जी, दाने की समस्‍या है तो आप बेकिंग सोडा का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आधा टीस्‍पून बेकिंग सोडा को पानी में म‍िलाकर इफेक्‍टेड एर‍िया में लगाएं। 
  • ड‍िटर्जेंट से होने वाली स्‍क‍िन एलर्जी को ठीक करने के ल‍िए आप एलोवेरा, नीम, तुलसी जैसे औषध‍ीय पौधों के पत्‍तों का लेप लगा सकते हैं। 
  • खुजली या स्‍क‍िन में होने वाली जलन का कारण ड‍िटर्जेंट में मौजूद कैम‍िकल्‍स हो सकते हैं, इसे ठीक करने के ल‍िए आप एप्‍पल साइडर व‍िनेगर का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं।
  • स्‍क‍िन की एलर्जी दूर करने के ल‍िए आप ओटमील का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। ओटमील को पीसकर पाउडर बना लें, उसमें शहद और हल्‍दी म‍िलाकर इफेक्‍टेड एर‍िया पर लगाएं।
  • हल्‍दी और ओटमील में मौजूद एंटी-इंफ्लामेटरी गुण से स्‍क‍िन में हो रही जलन या दर्द से राहत म‍िलेगी। आप इस म‍िश्रण में नीम का तेल भी म‍िला सकते हैं।
  • ड‍िटर्जेंट से होने वाली स्‍क‍िन एलर्जी को ठीक करने के ल‍िए आप दूध और केले का म‍िश्रण भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं, दूघ में लैक्‍ट‍िक एस‍िड मौजूद होता है इससे स्‍क‍िन एलर्जी दूर होती है। 

आपको अपनी स्क‍िन और सेहत की सेफ्टी के ल‍िए ऐसे ड‍िटर्जेंट इस्‍तेमाल करने चाहिए ज‍िनमें हार्ड कैम‍िकल का इस्‍तेमाल न क‍िया गया हो।

Read more on Skin Care in Hindi 

Disclaimer