सलमान खान की बहन अर्पिता ने बेटी को दिया जन्‍म, जानें ऐसे नवजात की देखभाल के उपाय

सलमान खान की बहन अर्पिता खान शर्मा ने एक बेबी गर्ल को जन्‍म दिया है। ऐसे नवजात की देखभाल करने के बारे में हम आपको बता रहे हैं। 

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Dec 27, 2019
सलमान खान की बहन अर्पिता ने बेटी को दिया जन्‍म, जानें ऐसे नवजात की देखभाल के उपाय

सलमान खान के 54 वें जन्मदिन पर बहन अर्पिता खान शर्मा ने अपने बेबी गर्ल को जन्‍म दिया है। अर्पिता और उनके पति आयुष शर्मा ने शुक्रवार को अपने सोशल मीडिया पर एक मनमोहक पोस्ट के साथ बच्चे की खबर शेयर की। अर्पिता खान शर्मा ने एक फोटो शेयर किया (जिसमें लिखा है, "हमारी छोटी राजकुमारी आ चुकी है - अयात शर्मा") और इसे कैप्शन दिया: "हमारी बेटी का दुनिया में स्वागत करना। मैं बहुत खुश हूं।" आयुष शर्मा ने भी सोशल मीडिया पर इस खबर की घोषणा की और लिखा, "हमें आशीर्वाद के रूप में एक खूबसूरत बच्ची मिली है, आयत के लिए आप सभी के प्यार और आशीर्वाद के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।" हम सभी इस बात से सहमत हो सकते हैं कि यह सलमान खान के लिए उनके जन्मदिन पर मिला सबसे अच्छा तोहफा हो सकता है।

 
 
 
View this post on Instagram

Welcoming our daughter into the world. Grateful & Overjoyed 🙏

A post shared by Arpita Khan Sharma (@arpitakhansharma) onDec 27, 2019 at 12:51am PST

वहीं सलमान खान ने भी ट्वीट करते हुए अपनी भांजी आयत का स्‍वागत किया है। साथ ही अपनी बहन अर्पिता और बहनोई आयुष को इस खूबसूरत तोहफे के लिए धन्‍यवाद दिया है। साथ ही सभी के प्‍यार और सहयोग के लिए भी धन्‍यवाद दिया है।

अर्पिता ने दूसरे बच्‍चे को दिया जन्‍म

अर्पिता और आयुष ने 2014 में शादी की थी। मार्च 2016 में उनके बेटे आहिल का जन्म हुआ था। आयत उनकी दूसरी संतान है। अगर आपके भी घर में किसी बच्‍चे का आगमन हुआ है तो यहां हम आपको नवजात की देखभाल के कुछ टिप्‍स के बारे में बता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: आप जानते हैं आपके बच्चे को कब लगती है भूख, जानें किन संकेतों से पहचाने की आपका बच्चा है भूखा

आपके नवजात शिशु की देखभाल उनके स्वास्थ्य के लिए अत्‍यंत आवश्‍यक है। से कई कारक हैं जिन्हें एक मां को अपने बच्चे पर तुरंत ध्‍यान देने की जरूरत होती है। एक नवजात शिशु के शरीर का तापमान, उनकी श्वास, उनके द्वारा आवश्यक फ़ीड की मात्रा आपके बच्चे के लिए सभी आवश्यक स्वास्थ्य कारक हैं। यदि आप एक नवजात शिशु की मां हैं, तो अपने बच्चे को बीमारी या संक्रमण से बचाने के लिए निम्नलिखित बातों पर ध्यान दे सकती हैं: 

  • जन्म के तुरंत बाद, बच्चे को गर्म रखना आवश्यक है। उसके जन्म के बाद, उसे कपड़े से अच्छी तरह से सुखाएं और सुनिश्चित करें कि वह ढंका हुआ है, सिर से पैर तक। बच्चे को मां की छाती या पेट पर रखकर उसे आवश्यक गर्माहट प्रदान करने के लिए एक अच्छा विकल्प है। मां और बच्चे दोनों को कंबल से ढंकना भी एक अच्छा विचार है।
  • नवजात को ठीक से सांस लेने दें। यह उसके मुंह और नाक से श्लेष्म और एमनियोटिक द्रव को साफ करके उनकी श्‍वसन प्रणाली को साफ रखा जा सकता है। यह एक अभ्यास है जो आमतौर पर बच्चे के जन्म के बाद किया जाता है। 
  • एक नवजात शिशु को केवल स्तनपान कराना चाहिए। यदि बच्चे को वायुमार्ग की सफाई के बाद कोई समस्या हो रही है, तो उसे फीड करने के लिए मजबूर नहीं किया जाना चाहिए। बच्चों को सांस की समस्या के साथ दूध पिलाना असुरक्षित है और इसकी सलाह नहीं दी जाती है।
  • एक डॉक्टर हमेशा जन्म के तुरंत बाद बच्चे की नाड़ी की जांच करता है। 100 बीपीएम को सामान्य नवजात हृदय गति माना जाता है। यदि नाड़ी इससे कम है, तो बच्चे को डॉक्टर के पास ले जाएं। 
  • एक नवजात शिशु में आमतौर पर विटामिन के की कमी देखी जाती है, इसलिए 0.5 से 1.0 मिलीग्राम का एक प्राकृतिक विटामिन के इंजेक्शन उन्हें उनके जन्म के कुछ घंटों बाद दिया जाता है। यह रक्तस्रावी बीमारी को रोकता है। 

Read More Articles On Parenting Tips In Hindi

Disclaimer