महिलाओं को अधिक चॉकलेट का सेवन क्‍यों करना चाहिये

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 24, 2014
Quick Bites

  • महिलाओं के लिए फायदेमंद है चॉकलेट।   
  • दिल की बीमारी का खतरा कम होता है।
  • एंटीऑक्‍सीडेंट फ्री रैडिकल्‍स से बचाव करते है।
  • चेहरे की रंगत और निखार को बढ़ाती है चॉकलेट।

अक्सर आपने सुना होगा कि ज्यादा चॉकलेट नहीं खानी चाहिए। यहां तक कि आप अपने बच्चों को भी चॉकलेट ज्यादा खाने पर डांटती होंगी, और उससे जुड़े नुकसान पर लंबा चौड़ा भाषण अपने बच्चों को सुना देती होंगी। लेकिन, क्या आपको मालूम है कि चॉकलेट खाने से आपकी सेहत को बहुत से लाभ पहुंचते हैं? जी हां, एक सीमित व नियंत्रित मात्रा में चॉकलेट का सेवन महिलाओं की सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। चॉकलेट के सेवन से दिल, गर्भ, त्वचा तथा अन्य सेहत से जुड़े मामलों में सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते है। आइये जानते हैं किन कारणों से महिलाओं को अधिक चॉकलेट खानी चाहिए।

benefits of chocolate in hindi

महिलाओं के लिए आखिर क्‍यों फायदेमंद है चॉकलेट  

 

दिल की बीमारी का खतरा कम

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की पत्रिका, द बॉस्टन स्टडी में प्रकाशित शोध के अनुसार, जो महिलाएं सप्‍ताह में कम से कम एक से दो बार डार्क चॉकलेट खाती हैं, उन्हें दिल की बीमारी का खतरा अन्‍य महिलाओं की तुलना में लगभग तीन गुना कम होता है। शोध के अनुसार, नियमित रूप से चॉकलेट खानेवाली महिलाओं की तुलना में एक से दो बार चॉकलेट खानेवाली महिलाओं के दिल को बहुत फायदा हुआ। इसलिए, अगर आप दिल संबंधी बीमारियों का खतरा कम करना चाहती हैं तो एक सफ्ता में दो बार चॉकलेट नियम से खाएं।


एक्सरसाइज जैसी फायदेमंद है चॉकलेट

अपने घर और दफ्तर की जिम्मेदारी पूरी करने के बाद जिन महिलाओं के पास एक्सरसाइज के लिए समय नहीं होता, उनके लिए चॉकलेट बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है। एक ताजा शोध के अनुसार, सीमित मात्रा में डार्क चॉकलेट का सेवन आपके स्वास्थ्य पर ठीक वैसा ही असर डालता है जैसे की एक्‍सरसाइज। चॉकलेट में मौजूद वनस्पतिक तत्‍व 'इपिकेटेचीन' मसल्‍स को एक्‍सरसाइज या खेल से जुड़ी गतिविधि की तरह क्रियाशील करता है।


गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

अगर आप गर्भवती हैं और चॉकलेट खाना पसंद करती है तो ये आपके लिए अच्छी खबर है। एक रिसर्च के मुताबिक, गर्भावस्था के समय चॉकलेट खाने से महिलाएं खुश रहने के साथ-साथ स्वस्थ भी रहती हैं। कोकोआ से बनी चॉकलेट खाने से शरीर में खून का बहाव सही प्रकार से होने लगता है। इससे भ्रूण के पास मां का पर्याप्त खून पहुंचने लगता है। इसके अलावा, चॉकलेट में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट फ्री रैडिकल्‍स से शरीर का बचाव करता है। इससे बच्चा भी फ्री रैडिकल्‍स से मुक्त रहता है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि गर्भवती महिलाएं नियमित रूप से अपने खान-पान में चॉकलेट को शामिल करें।

woman eating chocolate in hindi


तनाव कम करें

आजकल की जीवनशैली के चलते वैसे तो तनाव हर किसी की जिंदगी का हिस्‍सा बन गया है, लेकिन कामकाजी महिलाओं के लिए तनाव आम बात है। जिम्मेदारियों और उम्मीदों की अधिकता उन्हें तनाव की स्थिति में ले आती है। उनके लिए तनाव कम करने का सबसे मजेदार तरीका चॉकलेट खाना है। इसमें सेरेटोनिन नाम का केमिकल तनाव को और शर्करा तनाव और दर्द घटा कर तुरंत मानसिक शांति का अहसास कराती है।


स्वस्थ त्वचा के लिए

आपके चेहरे की रंगत और निखार को भी चॉकलेट बढ़ा सकती है। जवान और स्‍वस्‍थ त्‍वचा पाना हर महिला की चाहत होती हैं। ऐसी चाहत रखने वाली महिलाओं के लिए भी चॉकलेट फायदेमंद हो सकती है। चॉकलेट के सेवन से चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों पर रोक लगाई जा सकती है। इसके अलावा, चॉकलेट में पाया जाने वाला एंटी-ऑक्सीडेंट त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं। इससे त्वचा की चमक बढ़ती है और ढीली-लटकती त्वचा को आकर्षक खिंचाव मिलता है।


पीरियड्स की तकलीफ कम करें

महिलाओं को हर महीने पीरियड्स की तकलीफ से गुजरना पड़ता है। ये कोई बीमारी नहीं है, जिसके लिए दवा खाई जाए, इसलिए आहार के जरिये ही इस समस्या में राहत ढूंढी जानी जरूरी है। चॉकलेट पीरियड्स में महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। चॉकलेट में आराम पहुंचाने वाला एंडोर्फिन होता है जो परेशानी कम करने में मदद करता है। इसमें मैग्नीशियम भी मौजूद होता है जिसमें पानी को शरीर के अंदर रोक कर रखने की शक्ति होती है। इसके अलावा, पीरियड्स में होने वाले चिड़चिड़ेपन में भी डार्क चॉकलेट बहुत फायदेमंद होती है। इसमें मौजूद सेरोटोनिन नामक एंटी-आक्सीडेंट चिड़चिड़पन के लिए अच्छा इलाज साबित होता है।

इस तरह से चॉकलेट के सेवन से महिलाओं के दिल, गर्भ, त्वचा, पीरियड्स तथा अन्य स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़े मामलों में सकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते है।

Image Source - Getty Images

Read More Articles on Womens Health in Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES17 Votes 2951 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK