क्यों होता है पिगमेंटेशन (मेलाज्मा)? Pooja Makhija से जानें 5 आम कारण और बचाव के टिप्स

अगर आप भी कई तरह की दवाओं का प्रयोग करके पिगमेंटेशन का इलाज नहीं कर पाएं हैं, तो ये टिप्स आपके काम आ सकते हैं। 

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiUpdated at: May 27, 2021 16:33 IST
क्यों होता है पिगमेंटेशन (मेलाज्मा)? Pooja Makhija से जानें 5 आम कारण और बचाव के टिप्स

पिगमेंटेशन यानी झाइयां (Pigmentation) एक कॉमन प्रॉब्लम बन गई है। चेहरे पर काले धब्बे पड़ जाना या चेहरे पर जगह-जगह बड़े पैचिस बन जाना, पिगमेंटेशन का ही लक्षण है। स्किन में मेलानिन के बढ़ जाने से चेहरे पर झाइयों की समस्या पनपती है। यह मेलानिन एक ऐसा तत्त्व होता है जो त्वचा की ऊपरी परत पर रहता है। त्वचा में जब इस मेलानिन का स्तर बढ़ जाता है तब त्वचा का रंग गहरा और धब्बेदार हो जाता है। यह समस्या अक्सर सिर, गाल और आंखों के नीचे देखी जाती है। गर्मी के मौसम में पिगमेंटेशन की परेशानी ज्यादा बढ़ जाती है, क्योंकि सूरज की रोशनी में एक्सपोजर ज्यादा बढ़ जाता है। अगर आप भी पिगमेंटेशन से छुटकारा पाने के लिए कई प्रोडक्ट्स और दवाएं ले चुके हैं, और कोई फायदा नहीं हो रहा है तो यहां जानी मानी न्यूट्रीशनिस्ट पूजा मखीजा बता रही हैं इससे बचने के उपाय। न्यूट्रीशनिस्ट पूजा मखीजा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो शेयर करके 5 आसान तरीके बताए हैं जिन्हें अपनाकर आप भी चेहरे की झाइयों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। 

inside4_pigmentationandpoojamakhija

1. हार्मोन्स का असंतुलन

न्यूट्रीशनिस्ट पूजा मखीजा बताती हैं कि हार्मोन का असंतुलन पिगमेंटेशन का कारण है। महिलाओं को पुरुष के मुकाबले पिगमेंटेशन की समस्या  ज्यादा होती है। सूरज का ज्यादा एक्सपोजर होने की वजह से एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का उत्पादन बढ़ता है जिससे मेलानिन का उत्पादन ज्यादा होता है त्वचा की रंगत ढलती जाती है और त्वचा पर झाइयां आ जाती हैं। 

उपाय- एक्सपर्ट पूजा मखीजा ने बताया है कि हार्मोन का असंतुलन पीसीओडी या थायरॉयड की वजह से हो सकता है। तो जिन लोगों को पिगमेंटेशन की दिक्कत हो रही है वे एक बार अपनी इन समस्याओं पर ध्यान दें, तो परेशानी का हल मिल जाएगा। 

inside2_pigmentationandpoojamakhija

2. शरीर में पानी की कमी

न्यूट्रीशनिस्ट पूजा मखीजा का कहना है कि शरीर में पानी की कमी की वजह से भी पिगमेंटेशन होता है। 

उपाय- एक्सपर्ट पूजा मखीजा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पिगमेंटेशन को लेकर एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने पिगमेंटेशन से बचने के लिए पांच कारण बताए हैं। साथ ही इन परेशानियों से कैसे बचा जा सकता है, उसके भी उपाय बताए हैं। एक्सपर्ट पूजा मखीजा का कहना है कि दिन में 2-3 लीटर पानी पीने से शरीर में पानी की कमी पूरी होती है और बॉडी हाइड्रेट होती है, इस तरह से पिगमेंटेशन की परेशानी से निपटा जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें : स्ट्रेच मार्क्स,पिगमेंटेशन जैसी स्किन प्रॉबलम्स दूर करे मैक्रोडर्मा एब्रेशन, जानें ट्रीटमेंट के फायदे और तरीका

3. पोषक तत्त्वों की कमी

न्यूट्रीशनिस्ट पूजा बताती हैं कि डाइट में माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की कमी की वजह से भी पिगमेंटेशन की परेशानी होती हैं। वे बताती हैं कि शरीर में जरूरी विटामिन और खनिज जो डिटॉक्सीफिकेशन करते हैं, उनसे स्किन हेल्द रहती है।

उपाय - न्यूट्रीशनिस्ट पूजा मखीजा बताती हैं कि हेल्दी स्किन के लिए जरूरी है कि वेजिटेबल जूस का सेवन किया जाए। यह स्किन को डिटॉक्सीफिकेशन करते हैं। इसलिए इन्हें लेना जरूरी है।  

इसे भी पढ़ें : चेहरे से निखार छीन लेता है हाइपर पिगमेंटेशन, इन 5 नेचुरल चीजों से करें इसका उपचार

inside1_pigmentationandpoojamakhija

4. प्रोटीन की कमी

शरीर में प्रोटीन की कमी से त्वचा की कोशिकाएं बनना बंद हो जाती हैं। उनका उत्पादन ठीक से नहीं हो पाता है। जिस वजह से मृत कोशिकाएं बाहर नहीं निकलतीं और पिगमेंटेशन की परेशानी होती है। 

उपाय -पूजा मखीजा ने बताया है कि पिगमेंटेशन से बचने के लिए अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाना चाहिए। इसके लिए दालें सबसे अच्छा विकल्प हैं। प्रोटीन की मदद से नई त्वचा बनती है और डेड स्किन सेल्स बाहर निकलते हैं। 

5. नींद की कमी

नींद की कमी केवल पिगमेंटेशन का ही नहीं बल्कि अन्य गंभीर समस्याओं का कारण बनती है। पूजा मखीजा का कहना है नींद की कमी भी हाइपरपिगमेंटेशन कारण है। जो लोग पूरी नीद नहीं लेते उन्हें यह परेशान जल्दी होती है। 

उपाय- पूजा मखीजा का कहना है कि 7-8 घंटे की नींद एक स्वस्थ त्वचा के लिए जरूरी है। इस तरह से आपकी पिगमेंटेशन (झाइयां) की समस्या दूर हो जाएगी। 

अगर आप भी कई तरह की दवाओं का प्रयोग करके पिगमेंटेशन का इलाज नहीं कर पाएं तो पूजा मखीजा के ये टिप्स आपके काम आ सकते हैं। 

Disclaimer