ऑयली स्किन की समस्या दूर करेगी दही, इन 5 तरीकों से करें इस्‍तेमाल

तैलीय त्‍वचा के कारण मुंहासे, व्‍हाइटहेड्स, ब्‍लैकहेड्स आद‍ि की संभावना बढ़ जाती है। जान‍िए ऑयली त्‍वचा के ल‍िए दही का इस्‍तेमाल करने का तरीका।     

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 05, 2022Updated at: Sep 05, 2022
ऑयली स्किन की समस्या दूर करेगी दही, इन 5 तरीकों से करें इस्‍तेमाल

ज‍िन लोगों की त्‍वचा ऑयली होती है उनके चेहरे पर मुंहासे होने की आशंका ज्‍यादा रहती है। तैलीय त्‍वचा से छुटकारा पाने का उपाय ढूंढ रहे हैं, तो आप दही का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। दही लगाने से चेहरे का अति‍र‍िक्‍त तेल सोखने में मदद म‍िलती है। चेहरे पर दही का इस्‍तेमाल करने से त्‍वचा का ग्‍लो बढ़ता है। दाग-धब्‍बे और एज‍िंग साइन्‍स से छुटकारा पाने के ल‍िए भी दही फायदेमंद माना जाता है। इस लेख में हम ऑयली त्‍वचा के ल‍िए दही के फायदे और तैलीय त्‍वचा से छुटकारा पाने के ल‍िए दही इस्‍तेमाल करने का तरीका भी बताएंगे। 

curd benefits for skin

ऑयली त्‍वचा का इलाज है दही- Oily Skin Treatment  

तैलीय त्‍वचा का इलाज ढूंढ रहे हैं, तो दही का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। दही में लैक्‍ट‍िक एस‍िड मौजूद होता है। त्‍वचा को ऑयल फ्री रखने में दही मदद करता है। तैलीय त्‍वचा से छुटकारा पाने के ल‍िए आप चेहरे को फेसवॉश से साफ करके दही अप्‍लाई करें। चेहरे पर ठंडा या नॉर्मल सादा दही लगा सकते हैं। दही को इस्‍तेमाल करने के अन्‍य 5 तरीके जानें-  

1. दही और बेसन का फेस पैक 

दही का फेस पैक इस्‍तेमाल करेंगे, तो आप ऑयली त्‍वचा से छुटकारा पा सकते हैं। ठंडे दही को आप कटोरी में न‍िकाल लें फ‍िर उसमें बेसन पाउडर म‍िलाएं। इसे चेहरे पर लगाकर छोड़ दें। 30 म‍िनट बाद चेहरे को धो लें। आप बेसन के साथ दूध और बादाम का पेस्ट भी चेहरे पर लगा सकते हैं। इन दोनों सामग्र‍ियों से तैलीय त्‍वचा की  समस्‍या दूर होती है।  

2. दही और शहद 

ऑयली त्‍वचा से छुटकारा पाने के ल‍िए दही और शहद के म‍िश्रण का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 2 चम्‍मच दही में थोड़ा सा शहद म‍िलाएं। इस म‍िश्रण को चेहरे पर लगाएं। शहद में एंटीसेप्‍ट‍िक और एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं। इसके इस्‍तेमाल से त्‍वचा साफ होती है।  

3. दही और नींबू का रस 

तैलीय त्‍वचा का इलाज ढूंढ रहे हैं, तो दही और नींबू के रस को लगा सकते हैं। 2 चम्‍मच दही में आधा चम्‍मच नींबू का रस म‍िलाएं। इस म‍िश्रण को चेहरे पर लगाएं और 15 म‍िनट बाद चेहरा धो लें। नींबू के रस में व‍िटाम‍िन सी मौजूद होता है। स‍िट्र‍िक एस‍िड होने के वजन से ये एस्‍ट्र‍िंजेंट की तरह काम करता है। अगर आपको नींबू से एलर्जी है, तो उसकी जगह संतरे के छ‍िलके का पाउडर इस्‍तेमाल कर सकते हैं।   

4. दही और हल्‍दी 

दही और हल्‍दी के इस्‍तेमाल से आप ऑयली त्‍वचा का इलाज कर सकते हैं। 2 चम्‍मच दही में चुटकी भर हल्‍दी को म‍िलाएं। इसे चेहरे पर लगाएं। म‍िश्रण सूख जाने के बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें। हल्‍दी और दही में एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं। तैलीय त्‍वचा के ल‍िए हल्‍दी और दही का म‍िश्रण एक रामबाण इलाज है।   

5. दही और ओटमील 

ऑयली त्‍वचा का इलाज करने के ल‍िए आप दही और ओटमील का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। ओटमील को पीसकर पाउडर बना लें। 1 चम्‍मच ओटमील पाउडर में 1 चम्‍मच दही म‍िलाएं। इस म‍िश्रण को चेहरे पर लगा लें। दही की तरह ओटमील का इस्‍तेमाल करने से भी सीबम कंट्रोल करने में मदद म‍िलती है। दही और ओटमील में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। इस फेस पैक को आप हफ्ते में 2 बार लगा सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें- दही खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए? जानें एक्सपर्ट राय

त्‍वचा के ल‍िए दही के फायदे- Curd Benefits 

त्‍वचा के ल‍िए दही को कई तरीके से इस्‍तेमाल कर सकते हैं- 

  • दही का इस्‍तेमाल करके आप तैलीय त्‍वचा से छुटकारा पा सकते हैं। 
  • चेहरे के दाग-धब्‍बे हटाने में दही फायदेमंद माना जाता है। 
  • प‍िगमेंटेशन की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए दही का इस्‍तेमाल क‍िया जाता है।
  • त्‍वचा ड्राई हो गई है, तो भी आप दही का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।  
  • झुर्रि‍यों का आसान इलाज भी दही ही है। फाइन लाइन्‍स की समस्‍या से बचने के ल‍िए दही का इस्‍तेमाल करें।  

क‍िसी गंभीर त्‍वचा रोग से पीड़‍ित हैं, तो डॉक्‍टर की सलाह पर दही का सेवन करें। रात को दही का इस्‍तेमाल करने से बचें।

Disclaimer