सिर दर्द से जल्द राहत के लिए लगाएं निलगिरी और जायफल से बना ये खास तेल, जानें बनाने का तरीका और अन्य फायदे

निलगिरी और जायफल से बना ये खास तेल आप जोड़ों के दर्द में भी लगा सकते हैं। ये सूजन को कम और दर्द से निजात दिलाता है। 

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 26, 2022Updated at: Jan 26, 2022
सिर दर्द से जल्द राहत के लिए लगाएं निलगिरी और जायफल से बना ये खास तेल, जानें बनाने का तरीका और अन्य फायदे

हमारी रसोई में कई ऐसी चीजे हैं जो कि हमारी रोजाना की छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज बन सकते हैं। जैसे कि सिर दर्द के लिए हम निलगिरी और जायफल जैसे जड़ी बूटियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, सिर दर्द होने पर जायफल (jaiphal) और निलगिरी (Nilgiri) से बना तेल सिर की मांसपेशियों को शांत करता है और दिमाग को तनाव मुक्त बनाता है। इससे सिर दर्द से राहत मिलती है और व्यक्ति हल्का महसूस करता है। निलगिरी और जायफल से बना ये तेल एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर है जो कि सूजन और दर्द को भी कम करता है और सिर दर्द से निजात दिलाता है। इसके अलावा भी सिर दर्द में निलगिरी और जायफल से बना तेल कई प्रकार से फायदेमंद है। पर आइए उससे पहले जानते हैं इससे तेल बनाने का तरीका। 

inside_jaifaloil

निलगिरी और जायफल का तेल कैसे बनाएं-Nilgiri and jaiphal oil? 

  • -निलगिरी और जायफल का तेल बनाने के लिए सबसे पहले निलगिरी की कुछ पत्तियां लें और फिर इसमें जायफल को कूट कर रख लें। 
  • -अब एक कटोरी लें और इसमें 100 ग्राम नारियल का तेल या जैतून का तेल डालें।
  • -फिर कूटे हुए निलगिरी और जायफल को इस तेल में डालें और तेल अच्छे से पकाएं।
  • -अब ऊपर से 2 या 3 लौंग डालें और तेल को पकाएं।
  • -अब जब तेल से खुशबू आने लगे तो, गैस बंद कर दें।
  • -तेल ठंडा होने दें और इसे अपने सिर पर लगाएं।
  • -हल्के हाथों से मसाज करें और आप पाएंगे कि इससे आपका सिर दर्द कम होने लगेगा। 

इसे भी पढ़ें : होठों का कालापन दूर करने के लिए घर पर बनाएं ये 2 क्रीम, जानें तरीका और फायदे

निलगिरी और जायफल का तेल लगाने के फायदे-Nilgiri and jaiphal oil benefits

1. सिर की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है

निलगिरी और जायफल का तेल सिर की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है और सिर दर्द में आराम दिलाता है। ये तनाव के कारण सिर में हो रहे खिंचाव को कम करता है और बेचैनी को कम करता है। जायफल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। तो, वहीं निलगिरी की पत्तियों में फ्लेवोनोइड्स होते हैं, जो कि एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हैं और सिर दर्द को कम करते हैं। इस तरह ये तेल  सिर दर्द को दूर करने में मददगार है। 

2. अनिद्रा की समस्या को दूर करता है

नींद हमारे दिमाग के लिए टॉनिक की तरह काम करता है और इसी वजह से हमारा दिमाग शांत हो जाता है। पर नींद नहीं आती तो ये मस्तिष्क से जुड़ी समस्याओं का कारण बनता है और नींद से जुड़ी समस्याओं को बढ़ाता है। ऐसे में जायफल नींद को बढ़ावा देने में काफी प्रभावी तरीके से काम करता है। ये अपने तनाव-मुक्त प्रभावों की मदद से नींद को बढ़ाता है। साथ ही निलगिरी आंखों से जुड़ी नसों में शांति लाता है जिस वजह से आप अच्छा महसूस करते हैं और आपको नींद आती है और अच्छी नींद सिर दर्द को दूर करता है। 

inside_message

इसे भी पढ़ें : हिप्स का कालापन दूर करने के लिए आजमाएं ये 5 आसान उपाय

3. तनाव दूर करता है

तनाव दूर करने में निलगिरी और जायफल का तेल बहुत ही फायदेमंद है। इस तेल से सिर की मालिश करने से दिमाग ठंडा हो जाता है और कुछ देर में आप बेहतर महसूस करने लगते हैं। इस तरह ये दिन भर की थकान और तनाव को कम करता है और सिद दर्द को ठीक करता है। तो,  सोने से पहले 2 चम्मच तेल से अपने माथे की मालिश करें।

4. मन को शांत करता है

निलगिरी की प्रकृति ठंडी है और जब आप इसे अपने सिर में लगाते हैं तो ये आपके मस्तिष्क में चल रही हलचल को शांत करता है जिससे कि मन शांत हो जाता है। साथ ही ये आपके आंखों की तेज मूवमेंट में भी कमी लाता है जो कि कई बार तनाव के कारण बढ़ जाता है और नींद ना आने व सिर दर्द का कारण बनता है। ऐसे में ये तेल दिल और दिमाग दोनों को आराम देते हुए आपको अच्छी महसूस कराता है।

इस तरह आप इन तमाम फायदे के लिए इस तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही ये घुटनों के दर्द और मांसपेशियों के दर्द को दूर करने में भी मददगार है। तो, अगर आपने निलगिरी और जायफल का तेल कभी इस्तेमाल नहीं किया है तो आपको इसे अपने घर में बनाना चाहिए और इसका इस्तेमाल करना चाहिए। 

all images credit: freepik

Disclaimer