प्रेग्नेंसी के दौरान एक्‍सरसाइज करना मां और शिशु दोनों के लिए है फायदेमंद, जानें व्‍यायाम के लाभ

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को अधिकतर आराम करने की सलाह दी जाती है। लेकिन एक्सरसाइज करने से आप स्वस्थ रह सकती हैं।

सुचेता पाल
Written by: सुचेता पालUpdated at: Jan 02, 2020 17:56 IST
प्रेग्नेंसी के दौरान एक्‍सरसाइज करना मां और शिशु दोनों के लिए है फायदेमंद, जानें व्‍यायाम के लाभ

जिस समय एक महिला गर्भवती होती है, वह कई शारीरिक और मानसिक परिवर्तनों से गुजरती है। एक गर्भवती महिला इस बारे में सोचकर, खुशी महसूस करती है कि वह एक नए जीवन को जन्म देगी। ज्यादातर मामलों में, महिलाओं को इस दौरान व्यायाम नहीं करने की सलाह दी जाती है। ऐसा कहा जाता है कि व्यायाम करने के कारण होने वाले बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। गर्भवती महिलाओं को घर का छोटा-मोटा काम करना चाहिए या कभी-कभी पैदल घूमना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कई अलग-अलग बदलाव आते हैं, और पहले 20 हफ्तों में वजन बढ़ना शुरू हो जाता है। ऐसे समय में गर्भवती महिला का 9 से 12 किलो वजन बढ़ना स्वभाविक है। ये नौ महीने एक महिला के लिए सबसे अच्छा समय होता है क्योंकि उसे अपने जीवन में एक नया अनुभव मिलता है। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को तंदुरुस्त और चुस्त रहने की आवश्यकता होती है। व्यायाम केवल आपको चुस्त ही नहीं रखता बल्कि होने वाले बच्चे के लिए भी फायदेमंद है। ये आपके दिनचर्य को अच्छा बनाने में मदद करता है और आप अकेला भी महसूस नहीं करती हैं।

स्त्री रोग विशेषज्ञ से बात करें

pregnancy

प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ भी करने से पहले, अपने स्वास्थ्य के बारे में जानने के लिए अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श लें। यदि आपको मधुमेह, अस्थमा जैसी अन्य बीमारी हैं, तो यह सलाह दी जाती है कि व्यायाम न करें। इसके अलावा, कम प्लेसेंटा, गर्भपात का डर, समय से पहले बच्चे का जन्म का इतिहास, जैसी समस्याएं होने पर व्यायाम से बचना चाहिए। अगर आप पहले से ही किसी बीमारी की शिकार हैं, तो आपको व्यायाम करने से बचना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: हाइमन रिपेयर सर्जरी क्‍या है, जानें इसकी प्रक्रिया और रिकवरी

व्यायाम संयम से जारी रखें

यदि आप गर्भावस्था से पहले व्यायाम में थे, तो अपनी दिनचर्या को 30 प्रतिशत तक कम करके उसे जारी रखें। ऐसे व्यायाम करें जिसमें आप सहज हों और थकान महसूस करने पर तुरंत रोक दें। यदि कोई भी स्वास्थ्य चिंता आपको व्यायाम के बाद परेशान करती है, तो अपने चिकित्सक से परामर्श करना आपके लिए बेहद जरूरी है। अपने चिकित्सक से सलाह लेने के बाद ही अपने व्यायाम को जारी रखें। कई बार ऐसा होता है कि प्रेग्नेंसी में कोई काम करने का मन नहीं करता। आपका नियमित रूप से व्यायाम करना आवश्यक बिल्कुल नहीं है।

सुरक्षित रूप से शुरू करें

pregnancy

अगर गर्भावस्था से पहले व्यायाम करना आपके रुटीन में नहीं था, तो एक्सरसाइज के लिए किसी प्रमाणित ट्रेनर से सलाह लेकर धीरे-धीरे शुरुआत करना आपके लिए बेहतर होगा। केवल ऐसे व्यायाम करें, जिससे आप चुस्त महसूस करें। ज्यादा मेहनत वाले व्यायाम न करें, क्योंकि यह आपको तुरंत थका सकता है। गर्भावस्था के दौरान सुबह योग के साथ दिन की शुरुआत करना सबसे अच्छा होगा। अपने घर के आस-पास किसी पार्क में कुछ देर घूमना आपके लिए लाभकारी होगा। खाना खाने के बाद, थोड़ी देर घर में टहलना आपके लिए बेहतर है। जो महिलाएं जल्द ही मां बनने वाली हैं, वे व्यायाम के लिए कोई एक समय तय न करें, अपने मूड और स्वास्थ्य के अनुसार व्यायाम करें।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों के मौसम में महिलाओं में बढ़ जाता है यूटीआई का खतरा, बचाव के लिए जानें जरूरी टिप्स

संतुलन की समस्या

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के पेट का वजन ज्यादा हो जाता, जिससे महिलाओं के लिए संतुलन बनाना मुश्किल हो जाता है। इस दौरान एक्सरसाइज करने से मांसपेशियों में मजबूती आने लगती है। इसके अलावा, एक स्वस्थ गर्भावस्था के लिए थोड़ा व्यायाम बेहद जरूरी है। ये व्यायाम स्वस्थ वजन बनाए रखने में मदद करते हैं और इससे महिलाओं में चुस्ती भी आती है।

Read More Articles On Women Health In Hindi

Disclaimer